Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीतिप्रधानमंत्री की रेस में सबसे नज़दीक तो मैं खुद हूँ: यशवंत सिन्हा

प्रधानमंत्री की रेस में सबसे नज़दीक तो मैं खुद हूँ: यशवंत सिन्हा

हाल ही में यशवंत सिन्हा ने कहा था कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की प्रमुख ममता बनर्जी में एक बेहतर प्रधानमंत्री बनने के ‘सभी गुण' मौज़ूद हैं। उन्होंने उम्मीद जताई थी कि पश्चिम बंगाल और टीएमसी 2019 के आम चुनावों में मोदी को पराजित करने में एक अहम भूमिका निभाएँगे।

भारतीय जनता पार्टी से मनमुटाव के चलते बागी भूमिका में उतरे पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा है कि इस देश में अगर कोई नौकरी, सड़क, कारख़ानों और शहरों की स्थिति को सुधार सकता है तो वो स्वयं हैं। सोमवार (जनवरी 21, 2019) को दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान यशवंत सिन्हा से जब पूछा गया कि उनकी नज़र में कौन प्रधानमंत्री देश में नौकरियों की चुनौती को कम कर सकता है? इस प्रश्न पर यशवंत सिन्हा ने ज़वाब देते हुए कहा, “मेरे ज़ेहन में तो कोई नहीं है, इस रेस में सबसे नज़दीक तो मैं ख़ुद हूँ।”

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने के सवाल पर यशवंत सिन्हा ने कहा कि हाल ही में उनके नाम को लेकर कुछ चर्चा शुरू हुई थी, लेकिन गडकरी के लिए कोई संभावनाएँ नहीं है। इसके आगे उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह आगामी चुनाव में 200 से कम सीटें आने के बावज़ूद नेतृत्व से नहीं हटेंगे।

ज्ञात हो कि बीते दिनों कोलकाता में आयोजित टीएमसी के समारोह में शत्रुघ्न सिन्हा, यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी जैसे बीजेपी के असंतुष्ट नेताओं ने शनिवार (जनवरी 19, 2019) को विपक्षी नेताओं के साथ मंच साझा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को हटाने का आह्वान किया था।

हाल ही में यशवंत सिन्हा ने कहा था कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की प्रमुख ममता बनर्जी में एक बेहतर प्रधानमंत्री बनने के ‘सभी गुण’ मौज़ूद हैं। उन्होंने उम्मीद जताई थी कि पश्चिम बंगाल और टीएमसी 2019 के आम चुनावों में मोदी को पराजित करने में एक अहम भूमिका निभाएँगे।


  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक का छत से लटका मिला शव, दूसरे की तालाब से मिली लाश: बंगाल में फिर भाजपा के 2 कार्यकर्ताओं की हत्या

एक मामला बीरभूम का है और दूसरा मेदिनीपुर का। भाजपा का कहना है कि टीएमसी समर्थित गुंडों ने उनके कार्यकर्ताओं की हत्या की जबकि टीएमसी इन आरोपों से किनारा कर रही है।

मुख्तार अंसारी की बीवी और उसके सालों की ₹2 करोड़ 18 लाख की संपत्ति जब्त: योगी सरकार ने गैंगस्टर एक्ट के तहत की कार्रवाई

योगी सरकार द्वारा कुख्यात माफिया और अपराधी मुख्तार अंसारी की लगभग 2 करोड़ 18 लाख रुपए मूल्य की संपत्ति की कुर्की की गई। यह संपत्ति अंसारी की बीवी और उसके सालों के नाम पर थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,804FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe