Sunday, April 14, 2024
Homeसोशल ट्रेंडअंडरवियर, गंदी बात, दुर्गंध: चंडीगढ़ लेक क्लब के नाम से सोशल मीडिया में क्या...

अंडरवियर, गंदी बात, दुर्गंध: चंडीगढ़ लेक क्लब के नाम से सोशल मीडिया में क्या चल रहा

लेक स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स के नाम से वायरल हो रहे नोटिस पर कई लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। लोगों की हँसी नहीं रुक रही। इंडिया टुडे से जुड़े पत्रकार शिव अरूर ने भी इसे शेयर किया है।

सोशल मीडिया पर चंडीगढ़ लेक क्लब के नाम पर एक नोटिस शेयर किया जा रहा है। इस नोटिस में दावा है कि क्लब के नए नियमों के मुताबिक वहाँ मंजूरी प्राप्त अंडरवियर और कुछ चुनिंदा गलत शब्द बोलने होंगे। इसके अलावा मोजे रोज धोने की बात, दुर्गंध आने पर जुर्माना देने की शर्त और शॉर्ट्स पहनने वालों को पैर शेव कराने की भी बात भी इस नोटिस में हैं।

लेक स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स के नाम से वायरल हो रहे नोटिस पर कई लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। लोगों की हँसी नहीं रुक रही। इंडिया टुडे से जुड़े पत्रकार शिव अरूर ने इसे शेयर किया है। उन्होंने कहा है कि चंडीगढ़ के लेक स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में प्रबंधन प्रभारी वेतन वृद्धि का पात्र है। उन्होंने अपने फॉलोवर्स से नोटिस की हर पंक्ति को पढ़ने को कहा है। उनका कहना है कि अगर ये प्रैंक नहीं है तो हर नोटिस ऐसा ही लिखा जाना चाहिए।

इसे देखने के बाद कुछ यूजर कह रहे हैं, ‘अमृतसर में आपका स्वागत है।’ कुछ पूछ रहे हैं कि आखिर दूसरों के मोजे सूँघने के लिए क्लब किसे अपॉइंट करेगा। एक यूजर कहते हैं, “मैं इसे अप्रूव करता हूँ। इसे प्रिंट करवाकर हर जगह हर ऑफिस में पेस्ट किया जाना चाहिए। बस मैं इस बात को लेकर श्योर नहीं हूँ कि कौन की गंध को अप्रूव किया जाएगा और क्या होगा अगर कोई अंडरवियर ही न पहनता हो।”

महिला यूजर कहती हैं कि क्या ये सच है, अगर हाँ तो फिर जो इन नियमों को मानकर आए उसे सम्मान दिया जाना चाहिए। एक यूजर लिखता है कि उसने ये लेटर जिम के मालिक को भेजा है और चुनौती दी है कि वो ऐसा नोटिस अपने सदस्यों के लिए निकाल कर दिखाए।

लेटर में क्या हैं शर्तें

वायरल नोटिस में लिखे बिंदुओं के मुताबिक क्लब की गतिविधियों में शामिल सदस्यों को सही कपड़े पहनना जरूरी होगा। जिम करने वालों को जिम सूट पहनना होगा। इस दौरान सबसे ज्यादा ध्यान अंडरगार्मेंट्स का रखा जाएगा। सदस्य केवल मंजूरी प्राप्त अंडरगार्मेंट्स ही पहन सकेंगे। नोटिस के मुताबिक सदस्य ऑफिस से अंडरगारमेंट्स के सैंपल प्राप्त कर सकते हैं और अपने गारमेंट्स लाकर मंजूरी के लिए स्टांप करवा सकते हैं।

लेटर के दूसरे बिंदु में सदस्यों को साफ-सफाई का ध्यान रखने को कहा गया है। इसमें अपील की गई है कि सदस्यों को जुराबें रोज धोने होंगे। अगर कोई सदस्य गंदे या बदबूदार मोजे पहनता है और स्मेल टेस्ट में फेल होता है, तो उसे जुर्माना देना होगा। शरीर की स्मेल पर भी यही शर्त लागू होगी।

वायरल नोटिस

तीसरे बिंदु में भारी वजन उठा रहे लोगों को तेज आवाज निकालने की परमिशन नहीं दी गई है। इसके साथ ही गलत भाषा के इस्तेमाल के लिए पंजाबी शब्दों की सूची दी गई है और कहा गया है कि इसी सूची में से शब्द इस्तेमाल करने हैं। चौथे प्वाइंट में शॉर्ट्स पहनकर आए सदस्यों को पैर शेव कराने को कहा गया है।

नोटिस पर क्लब ट्रेनर की प्रतिक्रिया

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, क्लब के ट्रेनर अनमोल दीप का कहना है कि ये नोटिस उनके क्लब से जारी नहीं किया गया। किसी ने शरारत की है। सोमवार को क्लब बंद होता है। सीसीटीवी फुटेज चेक करके पता लगाया जा रहा है। उनके मुताबिक, उन्हें इस बारे में सुबह मालूम हुआ था लेकिन जनरल मैनेजर के साइन नहीं थे। उन्होंने सीनियर्स को बताया जिन्होंने ऐसे किसी नोटिस को जारी करने की बात मना की। इसके बाद नोटिस हटा दिया गया।

उल्लेखनीय है कि अभी इस नोटिस को लेकर केवल क्लब के ट्रेनर का बयान आया है। इसलिए ऑपइंडिया ये पुष्टि नहीं करता कि ये किसी ने कोई मजाक किया था या फिर हकीकत में ये नोटिस जारी हुआ था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

’10 साल में PM मोदी ने किया बहुत काम’: काशी पहुँचे रणवीर सिंह, कृति सेनन और मनीष मल्होत्रा ने बुलंद किया ‘विकास भी, विरासत...

कृति सेनन ने कहा कि काशी PM मोदी के 'विकास भी, विरासत भी' वाले प्रयास का उदाहरण है। शहर आधुनिक हुआ है, यहाँ विकास कार्य हुए हैं, कनेक्टिविटी बढ़ी है।

TMC सांसद के पति राजदीप सरदेसाई का बेंगलुरु में ‘मोदी-मोदी’ और ‘जय श्री राम’ के नारों से स्वागत: चेहरे का रंग उड़ा, झूठी मुस्कान...

राजदीप को कुछ मसालेदार चाहिए था, ऐसे में वो आम लोगों के बीच पहुँच गए। लेकिन आम लोगों को राजदीप की मौजूदगी शायद अखर सी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe