Sunday, September 19, 2021
Homeसोशल ट्रेंडस्वरा भास्कर के खिलाफ शिकायत दर्ज: हिन्दुओं की भावना को ठेस पहुँचाने का मामला,...

स्वरा भास्कर के खिलाफ शिकायत दर्ज: हिन्दुओं की भावना को ठेस पहुँचाने का मामला, ‘हिंदुत्व’ की तालिबान से की थी तुलना

स्वरा भास्कर के खिलाफ 'तालिबानी आतंक' से हिंदुत्व की तुलना करने वाले को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। उन पर धर्म के आधार पर विभिन्न समुदायों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने और अपने ट्वीट के जरिए सामाजिक शांति को भंग करने का आरोप लगाया गया है।

बॉलीवुड अभिनेत्री और वामपंथी विचारधार की पोषक स्वरा भास्कर के खिलाफ ‘तालिबानी आतंक’ से हिंदुत्व की तुलना करने वाले को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। उन पर धर्म के आधार पर विभिन्न समुदायों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने और अपने ट्वीट के जरिए सामाजिक शांति को भंग करने का आरोप लगाया गया है।

बॉम्बे हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करने वाले वकील आशुतोष दुबे ने एक ट्वीट पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने बताया कि उन्होंने स्वरा भास्कर के खिलाफ मुंबई पुलिस और पालघर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने आगे कहा कि वह जल्द ही स्थानीय पुलिस स्टेशन में भी अभिनेत्री के खिलाफ शिकायत दर्ज कराएँगे।

उनके ट्वीट पर पालघर पुलिस ने जवाब देते हुए मामले की जाँच करने और उचित कार्रवाई करने की बात कही है।

साभार: ट्विटर

दुबे ने साइबर सेल में शिकायत भी दर्ज कराई थी। उन्होंने इस मामले की जानकारी सोशल मीडिया के जरिए दी। दुबे ने कहा कि पालघर साइबर पुलिस ने मामले में कार्रवाई करने के बारे में उनकी शिकायत को आगे बढ़ा दिया है। उन्हें बयान दर्ज कराने के लिए एसपी कार्यालय बुलाया गया है। महाराष्ट्र साइबर सेल ने दुबे की शिकायत का जवाब देते हुए उन्हें दस्तावेजों के साथ निकटतम पुलिस स्टेशन से संपर्क करने को कहा है।

स्वरा भास्कर ने हिंदुत्व और तालिबान के बीच अनुचित तुलना की

हिंदुत्व के खिलाफ किए गए अपमानजनक ट्वीट के कारण भास्कर के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। इससे पहले कल अभिनेत्री ने हिंदुत्व की तुलना तालिबानी विचारधारा से करते हुए उसे अपमानित करने की कोशिश की थी। भास्कर ने हिंदुत्व और उसके फॉलोवर्स के खिलाफ जहर उगलने के लिए तालिबान द्वारा अफगानिस्तान पर कब्जे के अवसर का इस्तेमाल किया।

स्वरा भास्कर ने अपने ट्वीट में लिखा था, “हम तालिबान के आतंक पर हैरानी और दुःख जताते हुए ‘हिंदुत्व आतंकवाद’ की तारीफ नहीं कर सकते। ऐसा भी नहीं हो सकता कि हम तालिबान के आतंक पर चुप बैठें और ‘हिंदुत्व आतंकवाद’ पर आक्रोश जताएँ। हमारे मानवीय व नैतिक मूल्य इस पर आधारित नहीं होने चाहिए कि अत्याचारी कौन है और पीड़ित कौन है।” स्वरा भास्कर के इस तरह से हिन्दू धर्म को आतंकवाद व तालिबान से जोड़ने से लोग नाराज़ हो गए।

साभार: ट्विटर

हालाँकि, अभिनेत्री के तालिबान और हिंदुत्व के बीच अनुचित तुलना करने के तुरंत बाद, हिंदुओं और हिंदुत्व विचारधारास को मानने वाले लोगों ने स्वरा को हिंदुत्व के खिलाफ झूठे आरोप लगाने और तालिबान की केवल निंदा करने के लिए रीढ़ की हड्डी नहीं होने का आरोप लगाया। कई अन्य लोगों ने बताया कि कैसे हिंदुत्व की विचारधारा तालिबान द्वारा समर्थित विचारधारा से मौलिक रूप से भिन्न है, यह देखते हुए कि हिंदुओं ने केवल अफगानिस्तान ही नहीं, बल्कि दुनिया भर के सताए हुए लोगों को स्वीकार किया है और उन्हें अपने में समाहित किया।

तालिबान ने अफगानिस्तान पर किया कब्जा

गौरतलब है कि अफगान सेना के खिलाफ एक महीने तक चले युद्ध के बाद इस्लामी संगठन तालिबान रविवार (15 अगस्त) को काबुल के द्वार पर पहुँच गया था। राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश से भाग जाने के कुछ घंटे बाद वो अफगानिस्तान के राष्ट्रपति भवन में भी घुस गया।

तभी से ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं, जिनमें लोग अपनी जान बचाने के लिए देश से भागने की कोशिश कर रहे हैं। हवाई जहाज के पहियों पर लटककर भागने की कोशिश कर रहे अफगान लोगों के आसमान से गिरने के दृश्य सोशल मीडिया पर वायरल हो गए हैं। तालिबानियों को मनोरंजन पार्क के साथ-साथ अन्य असली दृश्यों में खुद ही मजे लेते हुए भी देखा गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe