Saturday, September 18, 2021
Homeसोशल ट्रेंडवीडियो: ट्रैफिक के कारण धीरे चल रही थी एंबुलेंस, मरीज की गंभीर हालत देख...

वीडियो: ट्रैफिक के कारण धीरे चल रही थी एंबुलेंस, मरीज की गंभीर हालत देख पुलिसकर्मी ने 2km भागकर खाली कराई रोड

"आपकी मदद के लिए खाकी मीलों दौड़ जाएगी, पर कभी थमेगी नहीं। हैदराबाद का पुलिसकर्मी एंबुलेंस की मदद के लिए कुछ मील के लिए दौड़ा। आशा करता हूँ कि मरीज अब ठीक होगा। भारत इस सच्चे समर्पण और सेवा को सैल्यूट करता है।"

सोशल मीडिया पर कभी-कभी ऐसी वीडियोज देखने को मिल जाती हैं जिनके कारण किसी का भी दिल खुश हो जाए। आज ऐसी ही एक वीडियो हैदराबाद से सामने आई है। इस वीडियो में एक ट्रैफिक पुलिस को सड़क पर भागते देखा जा सकता है।

यह वीडियो किसी साधारण स्थिति की नहीं है। वीडियो में नजर आ रहा पुलिसकर्मी सड़क पर लगे ट्रैफिक को खाली करवा कर एक एंबुलेंस के लिए रास्ता बनवा रहा है।

सोशल मीडिया पर इस वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने मरीज को लेकर अस्पताल जाती एंबुलेंस को रास्ता दिलवाने के लिए करीब 2 किलोमीटर तक ऐसे ही दौड़ लगाई। इस बीच किसी ने उनकी वीडियो बना ली और सोशल मीडिया पर अपलोड कर दी।

वीडियो को देखने के बाद न केवल नेटिजन्स ने बल्कि हैदराबाद ट्रैफिक पुलिस ने भी इस निष्ठा को सलाम किया। एडिशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस (ट्रैफिक) अनिल कुमार ने लिखा, “HTP अधिकारी बबजी एंबुलेंस के लिए ट्रैफिक क्लियर करवा रहे हैं। शाबाश। नागरिकों की सेवा में हैदराबाद ट्रैफिक पुलिस।”

वीडियो से संबंधित जानकारी के अनुसार, बबजी ने जिस एंबुलेंस के लिए रास्ता खाली करवाया उसमें एक गंभीर हालत का मरीज था। ये एंबुलेंस अबिड्स से कोटी जा रही थी। जब ड्यूटी पर तैनात बबजी ने देखा कि ट्रैफिक के कारण वह काफी धीरे-धीरे जा रही है तो उन्होंने आगे आकर रास्ता बनवाया।

यह घटना वैसे सोमवार की है मगर वीडियो बुधवार को वायरल होनी शुरू हुई। लोगों ने इस वीडियो को देखकर बबजी को खूब सराहा। लोगों ने कहा कि एक पुलिसकर्मी के कारण पूरे देश के पुलिसकर्मियों के लिए अब मानक बन गए हैं। उन्हें उनकी इंसानियत के लिए सराहा जाना चाहिए। एक यूजर ने वीडियो अपलोड करके दावा किया कि बबजी को उनके कार्य के लिए आज सम्मानित भी किया गया।

आईपीएस दीपांशु काबरा ने लिखा,”आपकी मदद के लिए खाकी मीलों दौड़ जाएगी, पर कभी थमेगी नहीं।” आगे वह लिखते हैं, “हैदराबाद का पुलिसकर्मी एंबुलेंस की मदद के लिए कुछ मील के लिए दौड़ा। आशा करता हूँ कि मरीज अब ठीक होगा। भारत इस सच्चे समर्पण और सेवा को सैल्यूट करता है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,951FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe