Wednesday, December 1, 2021
Homeसोशल ट्रेंडगैंगस्टर रवि पुजारी को 9 मार्च तक पुलिस हिरासत में भेजा गया, बुर्के में...

गैंगस्टर रवि पुजारी को 9 मार्च तक पुलिस हिरासत में भेजा गया, बुर्के में देख लोगों ने सोशल मीडिया पर लिए मजे

वहीं एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने सवाल उठाया कि उसने बुर्का क्यों पहना है? इससे बेहतर होता कि वह फेस मास्क पहन लेता।

अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी को आज (फरवरी 23, 2021) ग़ज़ाली होटल फायरिंग मामले में मकोका कोर्ट में पेश किया गया। इस मामले में अदालत (MCOCA Court) ने रवि पुजारी को 9 मार्च तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है। रवि पुजारी पर मुंबई समेत देश के अलग-अलग हिस्सों में कई मुकदमे दर्ज हैं। 

इस दौरान रवि पुजारी को बुर्के में देखा गया, जिसको लेकर लोग सवाल उठा रहे हैं कि आखिर गैंगस्टर बुर्के में क्यों है? सोशल मीडिया यूजर्स ने इसको लेकर कई तरह की प्रतिक्रियाएँ दी हैं।

एक सोशल मीडिया यूजर्स ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि अरे इसे बुर्का क्यों पहना दिया। इसके साथ ही उन्होंने हँसने वाला इमोजी शेयर किया है।

वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा कि सहानुभूति प्राप्त करने के लिए बुर्का का इस्तेमाल करना, बहुत ही विचारशील है।

एक सोशल मीडिया यूजर ने सवाल उठाया कि रवि पुजारी बुर्के में क्यों है?

वहीं मिर्ची सेठ नाम के सोशल मीडिया यूजर ने भी गैंगस्ट को बुर्के में दिखाए जाने को लेकर प्रतिक्रिया व्यक्त की। इसके साथ ही उन्होंने हँसने वाला इमोजी भी लगाया।

एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि ये रवि पुजारी है या दिशा रवि?

वहीं एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने सवाल उठाया कि उसने बुर्का क्यों पहना है? इससे बेहतर होता कि वह फेस मास्क पहन लेता।

गौरतलब है कि रवि पुजारी को करीब दो साल पहले सेनेगल में गिरफ्तार किया गया था। उसके कुछ महीनों बाद उसे भारत प्रत्यर्पित किया गया था। पहले कर्नाटक पुलिस ने उसकी कस्टडी ली थी। अब मुंबई पुलिस (Mumbai Police) को उसकी हिरासत मिली है।

मुंबई में उस पर कुल 78 केस दर्ज हैं। इनमें से 49 केसों में उसका सीधा जुड़ाव सामने आया था। मुंबई क्राइम ब्रांच एक-एक कर उसकी अलग-अलग केसों में कस्टडी लेगी। अगले कुछ महीनों तक मुंबई पुलिस के लॉकअप रहेगा। बाद में उसे जेल भेजा जाएगा। कर्नाटक में उसके खिलाफ 97 केस दर्ज हैं।

रवि पुजारी मुंबई से जुड़े जिन केसों में वॉन्टेड दिखाया गया था, उनमें से एक केस फिल्म फाइनैंसर अली मोरानी के बंगले पर हुई गोलीबारी से भी जुड़ा था। इस केस में कुछ महीने पहले रवि पुजारी के साथी ओबेद रेडियोवाला को अमेरिका से भारत प्रत्यर्पित किया गया था। मोरानी केस के अलावा महेश भट्ट की हत्या की साजिश रचने के मामले में भी रवि पुजारी आरोपित है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कभी ज़िंदा जलाया, कभी काट कर टाँगा: ₹60000 करोड़ का नुकसान, हत्या-बलात्कार और हिंसा – ये सब देश को देकर जाएँगे ‘किसान’

'किसान आंदोलन' के कारण देश को 60,000 करोड़ रुपए का घाटा सहना पड़ा। हत्या और बलात्कार की घटनाएँ हुईं। आम लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी।

बारबाडोस 400 साल बाद ब्रिटेन से अलग होकर बना 55वाँ गणतंत्र देश: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शासन पूरी तरह से खत्म

बारबाडोस को कैरिबियाई देशों का सबसे अमीर देश माना जाता है। यह 1966 में आजाद हो गया था, लेकिन तब से यहाँ क्वीन एलीजाबेथ का शासन चलता आ रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,729FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe