Sunday, October 17, 2021
Homeसोशल ट्रेंड'खुले विचारों की हूँ मैं, गृहिणियाँ पसंद के पुरुषों के साथ रख सकती है...

‘खुले विचारों की हूँ मैं, गृहिणियाँ पसंद के पुरुषों के साथ रख सकती है एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर’: ममता बनर्जी का वायरल वीडियो

बंगाली भाषा में बोलते हुए पश्चिम बंगाल की CM ने कहा, "मैं सभी गृहिणियों को यह बताना चाहती हूँ कि, यदि आप कभी भी एक्स्ट्रा-मैरिटल संबंध में रहना चाहती हैं, तो आप यह कर सकती हैं। इसके लिए मैं आपको अनुमति दूँगी।"

सोशल मीडिया पर ममता बनर्जी का एक पुराना वीडियो काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने खुले विचारों वाली मानसिकता का प्रदर्शन कर रही हैं। वायरल हो रहे वीडियो में टीएमसी सुप्रीमो का कहना है कि उनके विचार इतने खुले है कि उन्होंने गृहिणियों को अपनी पसंद के पुरुषों के साथ एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर रखने की अनुमति दे दी है।

बंगाली भाषा में बोलते हुए पश्चिम बंगाल की CM ने कहा, “मैं सभी गृहिणियों को यह बताना चाहती हूँ कि, यदि आप कभी भी एक्स्ट्रा-मैरिटल संबंध में रहना चाहती हैं, तो आप यह कर सकती हैं। इसके लिए मैं आपको अनुमति दूँगी।”

यह वीडियो ट्विटर पर कल से वायरल हो रही है, हालाँकि मूल रूप से इसे ट्विटर यूजर DebashishHiTs द्वारा 17 मई, 2019 को साझा किया गया था। जिसमें ममता बनर्जी यह टिप्पणी करते हुए दिखाई दे रही है।

हालाँकि, हम इस बात से हैरान है कि आखिर क्यों ममता बनर्जी को इस तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी करने की जरूरत पड़ गई। बता दें कि यह टिप्पणी 2018 में कोलकाता के नेताजी इंडोर स्टेडियम में हुए एक केबल ऑपरेटर्स की बैठक में उनके द्वारा दिया गया था। जोकि असल मे उनके विचारों से बिल्कुल विपरीत है।

दरअसल, ममता बनर्जी टीवी धारावाहिकों के मौजूदा चलन से काफी परेशान थी। जिसको लेकर पश्चिम बंगाल सीएम ने बंगाली टीवी धारावाहिक निर्माताओं को टीवी पर “एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर” जैसे “आपत्तिजनक” कंटेंट दिखाने के लिए उनकी कड़ी निंदा की थी। सीएम का मानना था कि ऐसे उदाहरण समाज में खासकर युवा पीढ़ी पर गलत मिसाल कायम करेंगे।

सीएम ममता बनर्जी ने कहा, “मैं टीवी धारावाहिकों को देखती हूँ और आजकल मैं बंगाली टीवी शो के एक हिस्से को नोटिस कर रही हूँ, जो हमारे सिद्धांतों को नकारात्मक तौर पर चित्रित कर रहे हैं। टीवी सीरियलों में एक ऐसे व्यक्ति को दिखाया गया है जो अपने पिता की पहचान के बारे में नहीं जानता है। वहीं टीवी सीरियल में एक और ट्रेंड है जहाँ एक आदमी की कई पत्नियाँ हैं, जो टीवी धारावाहिकों में देखी जाने वाली एक और प्रवृत्ति है।”

उन्होंने कहा कि वह बंगाली टीवी धारावाहिक निर्माताओं से ऐसी नकारात्मकता से बचने और कुछ ऐसा दिखाने का आग्रह करती है जो सभी को प्रेरित करे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe