Sunday, April 18, 2021

विषय

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में फिर नक्सली हमला, पुलिस के 2 जवानों का गला रेता: 23 दिनों में तीसरी घटना

सुकमा जिले के भेज्जी थाने से सिर्फ आधा किलोमीटर दूर पुलिस के दो जवानों की हत्या कर दी गई। कुछ दिनों पहले बीजापुर में 22 जवान बलिदान हो गए थे।

कचरे की गाड़ी में रख कर श्मशान पहुँचाए जा रहे कोरोना संक्रमितों के शव: छत्तीसगढ़ से Video वायरल

4 कर्मचारी पीपीई किट पहने हुए हैं और कोरोना से संक्रमित मरीज के शव को कूड़े की गाड़ी में से निकाल कर श्मशान घाट पर उतार रहे हैं।

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट से इस मामले में संबित पात्रा-बग्गा को बड़ी राहत, बीजेपी ने की बघेल सरकार से माफी की माँग

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट से भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. संबित पात्रा और भाजपा दिल्ली के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा को बड़ी राहत मिली है। सोमवार को हाईकोर्ट ने फैसला देते हुए उनके खिलाफ दर्ज कराई गई FIR को निरस्त करने के आदेश दिए हैं।

नक्सलियों के चंगुल से कोबरा कमाण्डो राकेश्वर सिंह हुए रिहा, पत्नी ने कहा- ‘मैं सरकार का आभार व्यक्त करती हूँ’

पुलिस सूत्रों से पता चला है कि राकेश्वर सिंह मन्हास को जंगल के रास्ते वापस लाया गया और इस समय वह सीआरपीएफ कैंप पहुँच गए हैं।

नक्सलियों ने जारी किया बंधक जवान का फोटो, भाई ने कहा – ‘भरोसा नहीं, ऑडियो या वीडियो जारी करें’

नक्सलियों द्वारा बंधक जवान राकेश्वर का फोटो जारी किया गया किन्तु जवान के भाई का कहना है कि उन्हें फोटो पर यकीन नहीं है।

वेतन लेते थे, ड्यूटी के दौरान मर गए… उन्हें शहीद क्यों कहें: असम की लेखिका का फेसबुक पोस्ट, दर्ज हुआ देशद्रोह का केस

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में 22 जवानों के बलिदान होने के बाद असम की एक लेखिका को उनके फेसबुक पोस्ट के कारण गिरफ्तार किया गया है।

नक्सली हमलों में 70% कमी, फिर भी 3 साल में वामपंथी आतंकवाद ने 162 जवानों, 463 नागरिकों का खून बहाया

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने क​हा है कि ये बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा और नक्सलियों के खिलाफ अभियान और तेज होगा।

2 पत्रकार-गुमनाम कॉल, कहाँ हैं जवान राकेश्वर सिंह: नक्सली हमले के बाद छत्तीसगढ़ में अमित शाह, कहा- ये लड़ाई और तेज होगी

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हमले के बाद से लापता जवान राकेश्वर सिंह मिन्हास के नक्सलियों के कब्जे में होने की बात सामने आ रही है।

नक्सलियों ने बनाया था ‘U व्यूह’, 15 दिन किया इंतजार: हत्या से पहले काटे इंस्पेक्टर के हाथ, टीम लीडर पर जवानों से अधिक हमले

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में 22 जवानों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। सशस्त्र बलों तक 'गुप्त सूचना' भी नक्सलियों ने ही पहुँचवाई थी।

40 साल का हिडमा मास्टरमाइंड, 400 नक्सली, LMG और देसी रॉकेट: बीजापुर में घात लगाकर ऐसे हुआ हमला

छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले का मास्टरमाइंड माडवी हिडमा बताया जा रहा। नक्सलियों ने लाइट मशीनगन, अंडर बैरल ग्रेनेड लॉन्चर और देसी रॉकेट का इस्तेमाल किया।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,230FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe