Friday, January 21, 2022

विषय

प्रतीक सिन्हा

Alt News वाले गंजे प्रतीक सिन्हा की होगी शादी? पूर्व पत्रकार ने शेयर की अखबार की फोटोशॉप तस्वीर

अविनाश दास एक बार फिर सोशल मीडिया पर फेक चीजें फैलाते पकड़े गए हैं। दिलचस्प बात ये है कि इस बार उनकी फेक न्यूज का मुख्य कंटेंट आल्ट न्यूज के संस्थापक प्रतीक सिन्हा हैं।

‘पिद्दी आजाद’: राहुल गाँधी ने AltNews वाले प्रतीक सिन्हा, कुणाल कामरा सहित 8 को ट्विटर पर किया अनफॉलो

राहुल गाँधी द्वारा ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक प्रतीक सिन्हा को अनफॉलो किया जाना एक रणनीति मानी जा रही है ताकि ये फैक्ट-चेकर अपने आपको तटस्थ दिखा सके।

अमेरिकी विशेषज्ञ ने की PM मोदी की तारीफ, Alt News के प्रतीक सिन्हा ने की उन्हें नीचा दिखाने की कोशिश: यहाँ जानें उनकी उपलब्धियाँ

अमेरिकी विशेषज्ञ ने COVID-19 संकट के बावजूद सबसे बड़ी उभरती शक्ति के रूप में भारत की प्रशंसा की और भारत की शक्ति संरचना को स्थिर और मोदी सरकार को सुरक्षित बताया।

कॉन्ग्रेस के लाइट वर्जन प्रोपेगेंडा पोर्टल Alt News के परिवार से करिए मुलाकात: कौन, क्या, कैसा… पूरा काला चिट्ठा

निर्झरी, प्रतीक, मोहम्मद जुबैर.... जाने कैसे हुई ऑल्टन्यूज की शुरूआत। फैक्टचेक के नाम पर क्या-क्या होता है खेला।

AltNews के प्रतीक सिन्हा ने किया रोहित सरदाना की मौत पर शरजील उस्मानी के घृणास्पद बयान का बचाव

प्रतीक सिन्हा ने कहा कि अंग्रेजी की मेरी जितनी समझ है उसके आधार पर शरजील उस्मानी, रोहित सरदाना की मृत्यु का जश्न नहीं मना रहा था बल्कि उनके कार्य की समीक्षा कर रहा था।

हिंदुओं और PM मोदी से नफरत ने प्रतीक सिन्हा को बनाया प्रोपगेंडाबाज: 2004 की तस्वीर शेयर करके 2016 में उठाए सवाल

फैक्ट चेक के नाम पर प्रतीक सिन्हा दुनिया को क्या परोस रहे हैं, इसका खुलासा @befittigfacts नाम के सक्रिय ट्विटर यूजर ने अपने ट्वीट में किया है।

अर्णब गोस्वामी ‘पत्रकार’ नहीं, जो ऐसा कह रहे… वो फैला रहे झूठ: ऑल्ट न्यूज के प्रतीक सिन्हा ने फैलाया प्रोपेगेंडा

सोशल मीडिया यूजर्स ने प्रतीक सिन्हा को आड़े हाथों लेते हुए उसको करारा जवाब दिया। लोगों ने पूछा है कि यदि अर्णब गोस्वामी पत्रकार नहीं है तो...

‘वायर’ बना लायर: फैलाया झूठ, केस दर्ज होने पर ‘प्रपंची जात भाई’ ऑल्टन्यूज कूदा बचाव में

प्रोपेगेंडा वेबसाईट TheWire एक फर्जी खबर चलाता है - योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ। सरकार के द्वारा FIR दर्ज की जाती है। इससे स्वघोषित फैक्ट-चेकर प्रतीक सिन्हा बौखला जाता है। इसे लेकर वह न सिर्फ ANI पर सवाल उठाता है बल्कि प्रेस स्वतंत्रता से भी जोड़ देता है।

बेटे के बाद अब मम्मी ने फैलाई फर्जी खबर: स्वघोषित ‘फैक्ट चेकर’ की मम्मी ने शेयर की फर्जी फोटो

निर्झरी सिन्हा यानी, प्रतीक सिन्हा की मम्मी ने इस तस्वीर के जरिए PM मोदी के 21 दिनों के लॉकडाउन के ऐलान का उपहास करने का प्रयास किया लेकिन दुर्भाग्यवश कुछ दिन से माँ-बेटों के षड्यंत्र को ज्यादा बल मिल नहीं पा रहा है।

Scroll, AltNews और पत्रकारिता के ‘एलीटिस्ट’ समुदाय विशेष को ब्रिटिश हेराल्ड के अंसिफ अशरफ़ का जवाब

"हाँ, हम छोटे हो सकते हैं, लेकिन झूठे या नकली नहीं। छल हमारी संस्कृति नहीं है। हम रोज़ चुनौतियाँ देते हैं।"- अंसिफ अशरफ़ (प्रबंध सम्पादक, ब्रिटिश हेराल्ड)

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,476FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe