Thursday, April 25, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'पिद्दी आजाद': राहुल गाँधी ने AltNews वाले प्रतीक सिन्हा, कुणाल कामरा सहित 8 को...

‘पिद्दी आजाद’: राहुल गाँधी ने AltNews वाले प्रतीक सिन्हा, कुणाल कामरा सहित 8 को ट्विटर पर किया अनफॉलो

राहुल गाँधी ने जिस एक और व्यक्ति को ट्विटर में अनफॉलो किया है वह है, मोदी-विरोधी, प्रोपेगेंडाबाज और स्व-घोषित कॉमेडियन कुणाल कामरा। कामरा की इन्हीं कुछ विशेषताओं के चलते शायद राहुल गाँधी उसे फॉलो करते थे।

हाल ही में कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने ट्विटर पर 8 लोगों को अनफॉलो कर दिया। इन 8 में से दो ऐसे लोग हैं जो कॉन्ग्रेस का प्रोपेगेंडा फैलाने के लिए जाने जाते हैं।

राहुल गाँधी ने जिन 8 लोगों को अनफॉलो किया है उनमें से एक हैं प्रतीक सिन्हा, जो प्रोपेगेंडा वेबसाइट ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक हैं। ऑल्ट न्यूज वही न्यूज पोर्टल है जो खुद को एक फैक्ट-चेकर के रूप में दिखाता है। ऑल्ट न्यूज टूलकिट विवाद के बाद कॉन्ग्रेस को क्लीन चिट देने के लिए उतावला हो गया था और तरह-तरह के तर्क पेश करने लगा था।

राहुल गाँधी के सोशल मीडिया आँकड़े

कुछ समय पहले तक राहुल गाँधी ट्विटर पर प्रतीक सिन्हा को फॉलो कर रह थे लेकिन अचानक से कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने ऑल्ट न्यूज के प्रतीक सिन्हा को अनफॉलो कर दिया। हालाँकि ऑल्ट न्यूज पूरे समर्पण के साथ कॉन्ग्रेस के एजेंडे को आगे बढ़ाने का काम करता है और मोदी सरकार के खिलाफ फेक न्यूज फैलाता रहता है।

प्रतीक सिन्हा की ट्विटर प्रोफाइल जहाँ दिख रहा है कि राहुल गाँधी प्रतीक को फॉलो कर रहे हैं
राहुल गाँधी द्वारा प्रतीक सिन्हा को अनफॉलो किया जाना

राहुल गाँधी ने प्रतीक सिन्हा को ऐसे समय अनफॉलो किया है जब देश में टूलकिट विवाद चल रहा है और कॉन्ग्रेस का उसमें सक्रिय रूप से नाम सामने आ रहा है। भाजपा नेता ने कथित तौर पर कॉन्ग्रेस से संबंधित एक दस्तावेज सबके सामने रखा और कॉन्ग्रेस पर यह आरोप लगाया गया कि उसके द्वारा Covid-19 महामारी का उपयोग मोदी सरकार के खिलाफ साजिश करने के लिए किया जा रहा है।    

यह विवाद तब और बढ़ गया जब कॉन्ग्रेस ने यह दस्तावेज फैक्ट-चेकर का दावा करने वाले ऑल्ट न्यूज के साथ शेयर किया और ऑल्ट न्यूज ने किसी तरीके से टूलकिट को फर्जी बताते हुए कॉन्ग्रेस को क्लीन चिट दे दी। इसके बाद यह आशंका व्यक्त की गई कि ऑल्ट न्यूज, कॉन्ग्रेस के हितों के लिए कार्य करता है।

इस टूलकिट विवाद में भारत सरकार ने ट्विटर पर भी नकेल कसी क्योंकि ट्विटर ने भी बिना किसी सबूत के भाजपा नेताओं द्वारा ट्वीट किए गए टूलकिट के दस्तावेजों पर ‘मैनीपुलेटेड मीडिया’ टैग लगा दिया। ट्विटर द्वारा की गई ऐसी हरकतों के बाद अब यह अंदाजा लगाया गया कि संभवतः ऑल्ट न्यूज ही नहीं बल्कि ट्विटर भी कॉन्ग्रेस के साथ मोदी सरकार के खिलाफ काम कर रहा है। ऐसे में राहुल गाँधी द्वारा ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक प्रतीक सिन्हा को अनफॉलो किया जाना एक रणनीति मानी जा रही है ताकि ये फैक्ट-चेकर अपने आपको तटस्थ दिखा सके।

राहुल गाँधी ने जिस एक और व्यक्ति को ट्विटर में अनफॉलो किया है वह है, मोदी-विरोधी, प्रोपेगेंडाबाज और स्व-घोषित कॉमेडियन कुणाल कामरा। कामरा की इन्हीं कुछ विशेषताओं के चलते शायद राहुल गाँधी उसे फॉलो करते थे। हालाँकि आज सुबह (01 जून) को राहुल ने अपने चाटुकार कामरा को भी अनफॉलो कर दिया।

कुणाल कामरा की प्रोफाइल का स्क्रीनशॉट
राहुल गाँधी द्वारा कुणाल कामरा को अनफॉलो किया जाना

सोशल मीडिया यूजर्स की प्रतिक्रिया :

राहुल गाँधी द्वारा प्रतीक सिन्हा और कुणाल कामरा को अनफॉलो किए जाने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने कई कयास लगाए।

एक ट्विटर यूजर ने कहा कि राहुल गाँधी ने अनफॉलो करके अपने एक पिद्दी को आजादी दे दी।

एक दूसरे यूजर ने कहा कि राहुल गाँधी ने संभवतः एक फैक्ट-चेकर को इसलिए अनफॉलो किया क्योंकि वह टूलकिट मामले में उचित तर्क नहीं पेश कर पाए।

हालाँकि ऑपइंडिया इस बात की पुष्टि नहीं करता है कि राहुल गाँधी ने अपने वफादारों को इसलिए अनफॉलो किया क्योंकि वो पूरे समर्पण के साथ कॉन्ग्रेस के प्रोपेगेंडा को आगे बढ़ाने में कामयाब नहीं रहे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माली और नाई के बेटे जीत रहे पदक, दिहाड़ी मजदूर की बेटी कर रही ओलम्पिक की तैयारी: गोल्ड मेडल जीतने वाले UP के बच्चों...

10 साल से छोटी एक गोल्ड-मेडलिस्ट बच्ची के पिता परचून की दुकान चलाते हैं। वहीं एक अन्य जिम्नास्ट बच्ची के पिता प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं।

कॉन्ग्रेसी दानिश अली ने बुलाए AAP , सपा, कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता… सबकी आपसे में हो गई फैटम-फैट: लोग बोले- ये चलाएँगे सरकार!

इंडी गठबंधन द्वारा उतारे गए प्रत्याशी दानिश अली की जनसभा में कॉन्ग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe