Friday, May 31, 2024

विषय

मराठा

महाराष्ट्र में मराठा को 10% आरक्षण: विधानसभा में सर्व-सम्मति से बिल पास, सपा के MLA बोले – मुस्लिमों को भी 5% कोटा दो

महाराष्ट्र विधानसभा मराठा आरक्षण बिल एकमत से पारित हो गया। इसके अंतर्गत मराठों को शिक्षा और नौकरियों में 10% का आरक्षण दिया जा सकेगा।

‘गढ़ी माज़ी लड़की’ और ‘गनीमी कावा’: वो 2 रणनीति जिससे अटक (अब पाकिस्तान में) से तमिलनाडु तक फैला छत्रपति शिवाजी महाराज का हिंदवी स्वराज्य

शिवाजी महाराज ने 'हिंदवी स्वराज्य' की स्थापना की। सभी हिंदुओं की एकता को प्रोत्साहित किया और 'सनातन धर्म' का प्रचार किया।

पेशावर में फहराया केसरी झंडा, अफगानिस्तान भाग गया दुर्रानी: वो युद्ध जिसके बाद अटक से कटक तक फैला मराठा साम्राज्य

दुर्रानी साम्राज्य की ईंट से ईंट बजाकर मराठाओं ने उन्हें अफगानिस्तान खदेड़ा था। पेशावर का यह युद्ध 8 मई 1758 में लड़ा गया था जिसमें मराठा विजयी हुए थे।

जम्मू कश्मीर में भारत-पाकिस्तान सीमा पर छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा, महाराष्ट्र से LOC जाएगी उनके पदचिह्नों वाली मिट्टी: जवानों को मिलेगी प्रेरणा

जम्मू कश्मीर की किरेण और तंगधार-टिटवाल घाटियों में दो स्थानों पर नियंत्रण रेखा के पास छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा स्थापित की जाएगी।

बैटल ऑफ भोपाल: जब निजाम-मुगल-नवाब-जय सिंह पर अकेले भारी पड़े मराठा, 70 हजार की फौज को धूल चटाई; 5 लाख रुपए दे निजाम और...

285 साल पहले हैदराबाद के निजाम के सामने मराठा ऐसी दीवार बनकर खड़े हुए कि इतिहास में शौर्य का एक नया अध्याय जुड़ गया। इसे बैटल ऑफ भोपाल के नाम से जानते हैं।

वो मुगल मर्दिनी रानी, जिन्होंने छत्रपति शिवाजी के बाद मराठा साम्राज्य को सँभाला; औरंगजेब को बार-बार चटाई धूलः पर्दे पर आएगी ताराबाई की कहानी

ताराबाई ने अपने गढ़ के बचाने के साथ-साथ औरंगजेब की फ़ौज को खदेड़ कर मराठा भूमि से भगा दिया था। मुगलों ने भी माना - उनके कारण बढ़ी मराठा शक्ति।

संस्कृत वाली मुहरें, जाति/परिवारवाद खत्म… किसानों के लिए सब्सिडी: छत्रपति शिवाजी महाराज की शासन प्रणाली आज भी प्रासंगिक

भारत एक सनातन देश, यह हिंदुस्थान, यहाँ पर अपना राज होना चाहिए… अपने धर्म का विकास होना चाहिए... शिवाजी महाराज का जीवनसंघर्ष था यह सोच।

वो मराठा जो काशी के ज्ञानवापी मस्जिद को ध्वस्त कर बनाना चाहते थे शिव मंदिर, महिलाओं को दिए अधिकार: चरवाहा परिवार से मालवा के...

मल्हार राव होल्कर रानी अहिल्याबाई के ससुर थे और उन्होंने अपनी बहू का मार्गदर्शन किया। मराठा साम्राज्य के लिए लड़ते रहे। मालवा के सूबेदार बने।

मंच पर माँ सरस्वती की तस्वीर से भड़का मराठी कवि, हटाई नहीं तो ठुकराया अवॉर्ड

मराठी कवि यशवंत मनोहर का कहना था कि उन्होंने सम्मान समारोह के मंच पर रखी गई सरस्वती की तस्वीर पर आपत्ति जताई थी। फिर भी तस्वीर नहीं हटाई गई थी इसलिए उन्होंने पुरस्कार लेने से मना कर दिया।

‘भगत सिंह, राजगुरु के साथ कुर्बान हुसैन को हुई थी फाँसी’: मराठी किताब में स्वतंत्रता सेनानी सुखदेव के नाम से छेड़छाड़

महाराष्ट्र में आठवीं कक्षा के पाठ्यक्रम में शामिल एक पुस्तक में भारतीय स्वतंत्रता के प्रमुख सेनानियों में से एक सुखदेव का नाम कुर्बान हुसैन बताया गया है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें