Wednesday, June 19, 2024

विषय

सरकारी योजनाएँ

2028 तक 81.35 करोड़ लोगों को मिलता रहेगा फ्री राशन, मोदी सरकार ने 5 साल के लिए बढ़ाई योजना: 11.80 लाख करोड़ रुपए होंगे...

केंद्र की मोदी सरकार ने 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना' 5 साल के लिए बढ़ा दिया है। 1 जनवरी 2024 से 5 साल तक 81.35 करोड़ लोगों को फ्री राशन मिलेगा।

अब बर्थ सार्टिफिकेट से होंगे सारे काम, स्कूल में एडमिशन से लेकर आधार, वोटर कार्ड बनवाने में करेगा मदद: 1 अक्टूबर से लागू होगा...

इस नियम के लागू होने के बाद राज्य और केंद्र सरकार जन्म व मृत्यु के डेटा को आपस में आसानी से शेयर कर पाएँगी।

गरीबों को 3 महीने और मिलेगा फ्री राशन, केंद्रीय कर्मचारियों का 4% बढ़ा DA: पर्व-त्योहारों से पहले मोदी सरकार का फैसला

मोदी सरकार ने इस साल दिसंबर तक बढ़ाई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत फ्री राशन स्कीम। केंद्रीय कर्मचारियों के DA में भी 4% की बढ़ोत्तरी।

‘4 साल की नौकरी में कौन अपनी बेटी देगा, दहेज कैसे मिलेगा’: बिहार में आगजनी-हिंसा को जायज बताने का कारण सुन कपार पीट लेंगे

"चार साल के लिए कौन जाएगा, कोई बीवी देगा क्या। औरत देगा। बाप अपनी बेटी देगा। कोई दहेज देगा।"

‘द-हिन्दू’ के साथ मिलकर प्रधानमंत्री मातृत्व योजना के खिलाफ ‘फेक न्यूज’ फैला रहे हैं ज्याँ द्रेज़: झूठ उजागर

इन भ्रामक तथ्यों का खंडन किया जाना इसलिए ज़रूरी है क्योंकि इस आर्टिकल में जो दावा किया गया है वह पूरी तरह हवाई है।

आतंकियों से भी ज्यादा लोगों की जान लेते हैं नक्सली, इसलिए अमित शाह ने लाल आतंक के खिलाफ खोला मोर्चा

आँकड़ें बताते हैं कि मोदी सरकार की सख्ती, प्रभावित इलाकों में विकास कार्यों में तेजी और अर्बन नक्सलियों पर शिकंजा कसे जाने से लाल आतंकी की जड़ें सिकुड़ी हैं। लेकिन, खूनी खेल के लिए नए मैदान तलाश रहे वाम आतंकियों के समूल नाश के लिए उनके अर्थ तंत्र पर चोट जरूरी।

हाँ हमने झूठ बोला, मोदी की योजनाओं की सफलता की अनदेखी की: गुप्ता जी का छलका दर्द

शेखर गुप्ता ईमानदारी से कहते हैं कि पत्रकारों ने मोदी सरकार द्वारा चालू की गई कल्याणकारी योजनाओं की अनदेखी की, और जब उन्हें योजनाओं के कारण प्रगति दिखी तो उन्होंने उसे भी नजरअंदाज करने की कोशिश की।

छत्तीसगढ़ में दीनदयाल उपाध्याय के नाम की योजनाएँ हुईं इंदिरा और राजीव के नाम

शासन ने इन पाँच योजनाओं के नाम परिवर्तन की लिस्ट राज्यपाल को मंजूरी के लिए भेज दी है। जल्द ही ये योजनाएँ बिना परिवर्तन के कॉन्ग्रेस सरकार की योजनाएँ हो जाएँगी।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें