Saturday, March 6, 2021

विषय

हिंदुत्व

पेंसिल से भगवान वेंकटेश की पेंटिंग बनाई, 45 दिन लगे: दक्षिण भारत का वह कॉमेडियन, जिसे गिनीज बुक से मिल चुका है सम्मान

फिल्मों में मजाकिया किरदारों को निभाने वाले ब्रह्मानंदम हिन्दू देवी-देवताओं की पेंटिंग बनाने में दक्ष हैं। वे हिंदू धर्म के प्रति अपनी श्रद्धा छिपाते भी नहीं हैं।

हिन्दुवाद, हिन्दुत्व और ट्विटर के ट्रैड | Rahul Roushan, Ashish Dhar talk Hindutva, Hinduism, trads beyond Twitter

ऑपइंडिया CEO राहुल रौशन और UpWord के संस्थापक आशीष धर के साथ हिन्दू, हिन्दुवाद, हिन्दुत्व जैसे मुद्दों पर बातचीत

NCP नेता अरबाज़ खान ने हिन्दुओं को दी माँ-बहन की गाली और देश छोड़ने की धमकी: वीडियो वायरल होते ही माफी माँगते आया नजर

वीडियो में अरबाज़ खान की अकड़ को साफ़तौर पर देखा जा सकता है। गाली-गलौज के साथ खान ने अपने घर का एड्रेस भी बताया है और हिंदुओं को चुनौती दी है कि वह उसका कुछ बिगाड़ नहीं सकते।

कौन हैं हिमालय पर विचरने वाले चिरयुवा अमर योगी?: सुपरस्टार रजनीकांत भी हैं जिनके शिष्य, सैकड़ों वर्षों में कुछ ही को दिया दर्शन

कौन है वो हिमालय पर विचरने वाला लंबे बालों वाला चिरयुवा योगी, जिसका दर्शन कुछेक लोगों को ही हुआ है? कहते हैं, वो इस कल्प की समाप्ति तक पृथ्वी पर ही रहेंगे।

वामपंथियों को खटक रहे केजरीवाल बने सॉफ्ट हिंदुत्ववादी, रिपब्लिक पर भी धड़ाधड़ दीवाली विज्ञापन

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल अपनी कुछ हालिया कार्रवाइयों के बाद हुए बवाल के कारण अब अपनी छवि को 'सेक्युलरिज्म' से खिसका कर ’सॉफ्ट हिंदुत्व’ में कहीं फिट करने की जगह तलाश रहे हैं।

काशी-मथुरा की मुक्ति के लिए अखाड़ा परिषद का प्रस्ताव, कहा- बात से नहीं सुलझा मामला तो होगी कानूनी लड़ाई

काशी-मथुरा की मुक्ति के लिए अखाड़ा परिषद ने प्रस्ताव पास किया है। इसमें विश्व हिन्दू परिषद का भी सहयोग माँगा है।

मेरे घर में तिलक हटाकर आओ: संगीतकार एआर रहमान की अम्मी ने जब गीतकार से हिंदू चिह्न हटाने को कहा

संगीतकार एआर रहमान का परिवार हिंदू चिह्नों व सभ्यता के प्रति कितना असहिष्णु है, इसका खुलासा तमिल गीतकार पिरईसूदन ने किया है।

ऑर्डर श्रीमद्भगवद्गीता का, विश्व बुक्स ने स्पेशल गिफ्ट के नाम पर साथ भेजी ‘भागवत पुराण कितना अप्रासंगिक’

अंजी ने अमेजॉन के जरिए विश्व बुक्स से श्रीमद्भगवद्गीता ऑर्डर किया। डिलीवरी हुई तो एक और बुक थी जिसका शीर्षक था- भागवत पुराण कितना अप्रासंगिक।

डर का माहौल है… क्योंकि हिंदुत्व बड़ी निर्दयी चीज है, इससे ज्यादा लचक तो आतंकवाद में है

जिस हिंदुत्व का रोना रोकर पाकिस्तान से लेकर भारत तक वाममार्गी इसे खतरनाक जताने की कोशिश करते हैं उसका न तो दहशतगर्दी का अतीत है, न वर्तमान। फिर भी वही है खतरा।

सहिष्णुता यहीं है, क्योंकि विश्वबंधुत्व, उदारता और बड़प्पन की मिट्टी से बना है हिंदुत्व

आज भारत की संस्कृति ने फिर से अपनी पहचान बनानी शुरू की है, क्योंकि हमने उस पर बिना किसी झेंप के गर्व करना सीख लिया है। आइए भय, पूर्वाग्रह और तुष्टिकरण के परदे से बाहर निकल कर खुली आँखों से सत्य के प्रकाश का अवलोकन करें।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,301FansLike
81,954FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe