Sunday, June 23, 2024

विषय

वे नहीं रहे... क्योंकि वे हिंदू थे

बांग्लादेश में परिवार के सामने हिंदू व्यापारी की हत्या, मोहम्मद आलमगीर और रोनी मल्लिक ने पीट-पीट कर मार डाला

बांग्लादेश के मगुरा जिले में एक हिंदू व्यापारी को उसके परिवार के सामने ही इतना पीटा गया कि उसकी मौत हो गई। पुलिस ने FIR दर्ज की है।

वे आज नहीं हैं… क्योंकि वे हिंदू थे: जानिए हत्या के सालभर बाद किस हाल में है किशन भरवाड का परिवार, इस्लामी कट्टरंपथियों ने...

गुजरात में किशन भरवाड की इस्लामी कट्टरपंथियों ने हत्या कर दी थी। ऑपइंडिया ने जाना उनके परिवार का हाल।

झारखंड में बोतल बम फेंक कर जिस हिन्दू नेता को मार डाला था, उनके परिवार को झारखंड पुलिस पर विश्वास नहीं: CBI जाँच की...

झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम में जिन हिंदूवादी नेता कमलदेव की हत्या कर दी गई थी। अब उनके भाई ने बताया है कि घटना के बाद सरकार से कोई हाल भी पूछने नहीं आया।

वे नहीं रहे… क्योंकि वे हिंदू थे: कुल्हाड़ी से काट दबा दी कर्नाटक की एक युवा आवाज, कहानी उस हत्या की जिसके कसाई का...

कर्नाटक में प्रवीण नेट्टारू पर धारदार हथियारों से हमला कर हत्यारे फरार हो गए थे। उन्हें अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन बचाया नहीं जा सका।

हिंदुत्व-गोरक्षा के लिए लड़ते थे, इसलिए आश्रम में घुस गोलियों से भूना फिर शव को कुल्हाड़ी से काट डाला: जब ओडिशा में स्वामी लक्ष्मणानंद...

स्वामी लक्ष्मणानंद के प्रति माओवादियों में इतनी घृणा थी कि गोलियों से भूनने के बाद उन लोगों ने उनके शव पर कुल्हाड़ियाँ चलाईं। उनके शरीर को काटा।

लोटन निषाद के भाई ने बच्चों संग गाँव में लहराया तिरंगा, आज भी पुलिस की सुरक्षा घेरे में परिवारः तबलीगी जमात पर कमेंट के...

लोटन निषाद की 28 साल की उम्र में हत्या कर दी गई थी। तबलीगी जमात पर टिप्पणी के कारण गाँव के ही मोहम्मद सोना ने उनके सर में गोली मार दी थी।

वे नहीं रहे… क्योंकि वे हिन्दू थे: अपनी नवजात बेटी को भी नहीं देख पाए गौ प्रेमी किशन भरवाड

27 वर्षीय हिंदू युवक किशन भरवाड़ को कट्टरपंथी मुस्लिमों ने 25 जनवरी 2022 को केवल हिंदू होने के कारण मार डाला था। वजह वही क्योंकि वे हिन्दू थे।

वे नहीं रहे… क्योंकि वे हिंदू थे: इस रक्षाबंधन भी चंदन गुप्ता के घर नहीं जला चूल्हा, पिता का दावा- प्रतिमा लगाने का वादा...

दिवंगत चंदन गुप्ता के पिता ने बताया, "रक्षाबंधन के दिन मेरी बेटी अपने भाई को याद कर लगातार रोती रही। उस दिन हमारे घर में खाना भी नहीं बना।"

जरा याद उन्हें भी कर लो… जो नहीं रहे, क्योंकि वे हिंदू थे: उस सूची के 75 नाम, जिसका नहीं दिख रहा कोई पूर्ण...

हम न इन हिंदुओं को भूले थे, न भूलेंगे। आपको भी बार-बार, तब तक इनकी याद दिलाते रहेंगे, जब तक आप इस खतरे में घिरे हैं।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें