Monday, January 17, 2022

विषय

Mahatma Gandhi

Pak को दिला दिए ₹55 Cr, शरणार्थी हिन्दुओं/सिखों को भरी ठंड में मस्जिदों से निकाल सड़क पर ला दिया: गाँधी का अंतिम अनशन

महात्मा गाँधी को दिल्ली में मुस्लिमों की चिंता थी, हिन्दू-सिख शरणार्थियों की नहीं। उन्होंने अपना अंतिम अनशन भी मुस्लिमों और पाकिस्तान के लिए किया।

कालीचरण महाराज को पुणे कोर्ट ने एक दिन के पुलिस रिमांड में भेजा, छत्तीसगढ़ के बाद अब महाराष्ट्र पुलिस करेगी पूछताछ

पुणे पुलिस की एक टीम बुधवार (5 जनवरी 2022) को रायपुर सेंट्रल जेल से कालीचरण महाराज को लेकर महाराष्ट्र के लिए रवाना हो गई है।

‘जो राष्ट्र के टुकड़े कर दे… वो मेरी नजर में देशद्रोही’: ‘महात्मा’ गाँधी पर तरुण मुरारी बापू के बयान पर नरसिंहपुर में कॉन्ग्रेस ने...

तरुण मुरारी बापू ने कहा था कि जो देश के टुकड़े कर दे, वो राष्ट्रपिता कैसे हो सकता है। देश का विभाजन तो गाँधी की आँखों के सामने हुआ।

कालीचरण महाराज की जमानत को छत्तीसगढ़ कोर्ट ने किया खारिज, 13 जनवरी तक रहेंगे जेल में: ‘धर्म संसद’ विवाद में अब हाईकोर्ट जाने की...

ADJ विक्रम चंद्रा की अदालत ने लगभग डेढ़ की सुनवाई के बाद कालीचरण महाराज की जमानत याचिका खारिज कर दी। जमानत के लिए हाईकोर्ट में अपील की जाएगी।

भगवान राम-माँ सीता को गाली देने वालों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं’: कालीचरण पर बोले जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर, कहा- ‘गाँधी राष्ट्र पुत्र हो...

"राष्ट्र से बड़ा कोई नहीं हो सकता। अगर राष्ट्र से बड़ा कोई है तो वो परमात्मा है। गाँधी राष्ट्रपिता नहीं राष्ट्र के पुत्र हो सकते हैं।"

जब अंबेडकर ने गाँधी के लिए कहा था- बगल में छुरी मुँह में राम, ‘हत्या’ को देश के लिए बताया था ‘अच्छा’: आज सवाल...

8 फरवरी 1948 को डॉ अंबेडकर ने अपनी पत्नी सविता अंबेडकर को एक पत्र लिखा था। इस पत्र में उन्होंने गाँधी की हत्या पर अपनी पत्नी से राय रखी थी।

एक मुहम्मदवाद के इतने खतरे, और ‘पैगंबर’ गढ़कर क्या करेंगे: कालीचरण महाराज की ‘गाली’ से गायब नहीं हो जाते गाँधी पर सवाल

क्या यह विचित्र नहीं है कि इस देश में हिंदू अराध्यों को गाली दी जा सकती है, देश के टुकड़े-टुकड़े करने की बात हो सकती है... पर गाँधी पर सवाल नहीं किया जा सकता।

कालीचरण महाराज गिरफ्तार, ‘धर्म संसद’ में गाँधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी का आरोप: FIR के बाद कहा था– फाँसी दे दो, माफ़ी नहीं माँगूँगा

कालीचरण महाराज को खजुराहो से गिरफ्तार किया गया है। उन पर रायपुर में आयोजित 'धर्म संसद' में महात्मा गाँधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप है।

‘गाँधी ने एक लाठी भी खाई? शिवाजी-प्रताप-चाणक्य को बनाओ राष्ट्रपिता’: FIR पर बोले कालीचरण महाराज – फाँसी दे दो, माफ़ी नहीं माँगूँगा

कालीपुत्र कालीचरण महाराज ने कहा, "महात्मा नाथूराम गोडसे के चरणों में साष्टांग प्रणाम। उन्होंने बलिदान देकर भारत को मुस्लिम बनने से बचा लिया।"

शिव तांडव स्त्रोत’ वाले video से चर्चा में आए संत कालीचरण पर छत्तीसगढ़ में FIR: ‘धर्म संसद’ में आपत्तिजनक टिप्पणी का आरोप

ये धर्म संसद 26 दिसंबर 2021 को रायपुर के रावण भाटा मैदान में आयोजित की गई थी। आरोप है संत कालीचरण ने यहाँ महात्मा गाँधी के लिए अपमानजनक बातें कहीं।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,727FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe