Thursday, July 2, 2020

विषय

Propaganda

आतंकियों के हमले में जवान के साथ हुई थी बच्चे की मौत, सेना पर हत्या का दोष मढ़ रहे इस्लाम और पाक परस्त

आतंकियों की करतूत पर पर्दा डालने के लिए कश्मीर में बच्चे की हत्या का दोष सेना के मत्थे मढ़ने की कोशिश हो रही है।

‘स्क्रॉल’ पत्रकार सुप्र‌िया शर्मा के खिलाफ वाराणसी में FIR, ‘भुखमरी’ को लेकर प्रकाशित की थी फ़ेक न्यूज़

FIR में माला देवी ने कहा है कि वह किसी के घर में काम नहीं करती हैं, और 'स्क्रॉल' की पत्रकार ने उनकी टिप्पणियों को गलत तरीके से प्रस्तुत किया है।

विकीपीडिया vs ऑपइंडिया: वामपंथी नैरेटिव और गिरोह की साजिश, ऑपइंडिया के खिलाफ यूँ खेला जा रहा खेल

विकीपीडिया पर ऑपइंडिया का पेज इतना नेगेटिव क्यों है? ये वो सवाल है जिसके बारे में लोगों ने हमसे कई बार पूछा। लेकिन, इस सवाल जवाब बेहद सरल है। वो ये कि हमने एक बने-बनाए इकोसिस्टम को चुनौती दी।

SatyaHindi की एजेंडा पत्रकारिता… जहाँ सत्य एवं तथ्य को नजरअंदाज करते हैं आशुतोष

आशुतोष जैसे पत्रकार इस वैश्विक महामारी में भी अपने एजेंडा पत्रकारिता से बाज नहीं आ रहे। इनके पोर्टल में जाकर देखा जा सकता है कि...

सिर्फ सेहत के सहारे जिन्दगी कटती नहीं, क्योंकि बिरियानी में बोटियाँ तलाशते रहते हैं टुकड़ाखोर

बिरियानी में बोटियाँ तलाशते टुकड़ाखोर किसी "फोबिया" शब्द को बिलकुल वैसे ही पत्थरों की तरह चलाते हैं, जैसे अभी-अभी यूपी के किसी जिले में स्वास्थ्यकर्मियों पर चलाए गए। गोएबल्स की ये औलादें गाँधीवादी नहीं हैं। आपको ये भी पता है कि नाज़ियों से किसी गाँधीवादी तरीके से निपटा नहीं गया था।

IS के आतंकी दम्पति के बाद अब PFI का दानिश अली गिरफ़्तार: दिल्ली दंगों व जामिया से जुड़े हैं तार

पुलिस इस बात का पता लगा रही है कि आखिरकार इनका नेटवर्क किस प्रकार से जामिया में सीएए के ख़िलाफ़ चल रहे प्रोटेस्ट में काम कर रहा था व किस प्रकार से इन्हें फंंडिंग हो रही थी और दिल्ली में चल रहे सीएए के विरोध प्रदर्शन में इसका इस्तेमाल कैसे किया गया।

9 साल पहले कॉन्ग्रेस सरकार में हुई बच्चे की मौत, मीडिया गिरोह ने उदाहरण देकर फैलाया प्रोपेगेंडा

"जिस वाकये के बारे में आप बात कर रही हो, वो साल 2011 का है। 9 साल पहले का - जब केंद्र और असम दोनों में कॉन्ग्रेस सरकार थी। मगर उस समय आप चुप रहीं। अब अपना पॉलिटिकल प्रोपेगेंडा साधने के लिए बच्चे की मौत से जुड़े मामले को 9 साल बाद इस्तेमाल कर..."

कुछ तो परीक्षा, चुनाव में भी इंटरनेट पर लगा देते हैं पहरा, यहाँ तो प्राइम टाइम में प्रोपेगेंडा की आजादी

भारत की कथित सेक्युलर मीडिया, वामपंथी-लिबरल गैंग इंटरनेट शटडाउन को प्रोपेगेंडा की चाशनी में इस कदर लपेट कर परोसता है कि जैसे अभिव्यक्ति की आजादी पर पहरा बिठा दिया गया हो। लेकिन, एक वैश्विक रिपोर्ट बताती है कि इंटरनेट की आजादी के मामले में भारत पाकिस्तान, चीन जैसे पड़ोसियों से ही नहीं रूस जैसे विकसित देशों से भी काफी आगे है।

NDTV पत्रकार की दलील: स्कूली छात्रों को CAA के बारे में बताना राजनीति है, क्योंकि इसे बड़े लोग नहीं समझ सके

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन को लेकर प्रोग्राम किया गया और उसमें स्कूल के छात्रों को ले जाया गया तो NDTV के पत्रकार सोहित राकेश मिश्रा ने इस पर सवाल उठाते हुए कहा कि स्कूल में छात्रों को नागरिकता कानून के बारे में बताना राजनीति है, क्योंकि इसे अभी तक बड़े लोग नहीं समझ सके हैं।

पाकिस्तान ने प्रोपगेंडा वॉर छेड़ने के लिए ISPR में भर्ती किए 1000 युवा: जिनका काम होगा भारत के ख़िलाफ़ झूठा प्रचार

पाकिस्तानी एजेंडे के तहत भारत के खिलाफ प्रोपगेंडे को हर रोज भारी तादाद में सोशल मीडिया पर फैलाने के लिए यूथ मशीनरी को पाक ISPR में भर्ती कर रहा हैं। झूठ फ़ैलाने के लिए युवाओं को बाकायदा ट्रेनिंग का भी प्रावधान किया गया है।

ताज़ा ख़बरें

सरकार ने पैसेंजर ट्रेन में प्राइवेट भागीदारी क्यों आमंत्रित की? टिकट के पैसे बढ़ेंगे? नौकरियाँ जाएँगी?

भारतीय रेल में निजीकरण के फैसले ने लोगों के मन में कई तरह के सवालों को जन्म देना शुरू कर दिया है। इसीलिए जरूरी है कि सरकार के इस फैसले के पीछे निहित उद्देश्य को लेकर लोगों को स्पष्ट किया जाए।

तबलीगी जमात ने पर्यटक वीजा पर मज़हबी काम के लिए भारत में प्रवेश कर सिस्टम को दिया धोखा: गृह मंत्रालय के हलफनामें में कई...

तबलीगी जमात के सदस्यों ने टूरिस्ट वीजा पर भारत का दौरा किया और आवश्यक जानकारी देने से बचने के लिए सिस्टम को धोखा देकर मज़हबी गतिविधियों में शामिल हुए।

मैं बडवाइजर बीयर के टैंक में 12 सालों से मूत्र त्याग रहा था… क्या इसी कारण है ऐसा स्वाद? FACT CHECK

'बडवाइजर कर्मचारी ने स्वीकारा कि वह 12 साल से बीयर टैंकों में पेशाब कर रहा है' - इस हेडलाइन के साथ एक व्यंग्य लेख पोस्ट किया गय था लेकिन...

‘गरीब शाज़िया की टिकटॉकर बेटी’: ‘द स्किन डॉक्टर’ के हास्य-व्यंग्य को ‘द टेलीग्राफ़’ ने मार्मिक रिपोर्ट के रूप में किया प्रकाशित

'द टेलीग्राफ' ने ट्विटर से एक दक्षिणपंथी सोशल मीडिया इन्फ़्ल्युएन्सर एकाउंट का ट्वीट उठाकर पूरी फर्जी घटना को रिपोर्ट की शक्ल में प्रकाशित करने का नायाब कारनामा किया है।

भारत ने चीन को हर-तरफ से घेरा: UN में किया अलग-थलग, आर्थिक मार, हॉन्गकॉन्ग पर किरकिरी और Pak के कारण बेइज्जती

हॉन्गकॉन्ग पर कैसे घिरा चीन? मानवाधिकार आयोग में भारत ने कैसे बदली रणनीति? सुरक्षा परिषद् में Pak के कारण क्यों हुई चीन की बेइज्जती? अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की कूटनीतिक फतह का विश्लेषण।

प्रचलित ख़बरें

‘टिकटॉक के 30 करोड़ लौटा दो’: चीन के लिए नमकहलाली करने वाले और क्या बोलेंगे!

सरकार ने इन एप्स को चीन का होने के कारण ब्लॉक नहीं किया है, बल्कि ये वो एप्स हैं, जो नागरिकों के फोन से उनकी निजी सूचनाएँ चुराते हैं।

चीन ने कभी नहीं सोचा था भारत छोटी सी जमीन के लिए उन्हें कठिन चुनौती दे देगा: चीनी विशेषज्ञ युन सुन

"2017 में डोकलाम गतिरोध के दौरान, चीन बेहद आश्चर्यचकित था। क्योंकि उसे उम्मीद नहीं थी कि भारत 72-73 दिन तक भूटान के नजदीक एक छोटे से जमीन के टुकड़े के लिए लड़ाई लड़ेगा।"

प्रोपोजल ठुकराने पर दलित TikTok स्टार शिवानी की हत्या: मोहम्मद आरिफ ने कबूला जुर्म, लगा SC/ST एक्ट

मोहम्मद आरिफ ने न सिर्फ शिवानी की हत्या करने के बाद उसके फोन से मैसेज भेजा बल्कि उसके TikTok अकाउंट पर वीडियो भी अपलोड किया था।

ट्विटर कर रहा है प्रतिबंधित चीनी ऐप चलाने के लिए फ्री VPN देने वाली ऐप का पेड प्रमोशन, ऐश्वर्या राय की तस्वीर का भी...

भारत सरकार द्वारा 59 चायनीज मोबाइल ऐप को प्रतिबंधित किए जाने के फैसले का नतीजा अब यह हो रहा है कि कुछ चायनीज ऐप ही इन प्रतिबंधित ऐप को चलाने के लिए लोगों को निमंत्रण दे रही हैं और इस काम में उनका साथ दे रहा है ट्विटर!

रवीश कुमार ने डीएसपी दविंदर सिंह के बारे में बोला झूठ, चार्जशीट दाखिल नहीं होने की वजह से ‘जेल से बाहर’ घूम रहे

एनडीटीवी पर अपने प्राइम टाइम शो में पत्रकार रवीश कुमार ने निलंबित पुलिस अधिकीरी देविंदर सिंह के बारे में झूठ बोला कि मामले में चार्जशीट दायर न होने के कारण उन्हें जेल से रिहा कर दिया गया था।

हमसे जुड़ें

232,495FansLike
63,008FollowersFollow
266,000SubscribersSubscribe