Tuesday, October 26, 2021

विषय

Sabrimala Violence

CAA विरोधी प्रदर्शनकारियों के खिलाफ दर्ज 500+ मामले वापस लेगी केरल की वामपंथी सरकार

2018-19 में सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश सम्बन्धी विवाद के दौरान हुए विरोध प्रदर्शनों के दौरान करीब 68000 श्रद्धालुओं के खिलाफ मामले दर्ज हुए थे।

आज शाम से अगले पाँच दिनों तक मासिक पूजा के लिए खुला रहेगा सबरीमाला मंदिर

मंदिर खुलने पर हिंदूवादी संगठनों के संभावित विरोध प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए, पुलिस ने आसपास के क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी है।

सबरीमाला मंदिर मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने सुरक्षित रखा अपना फ़ैसला

केरल सरकार ने पुनर्विचार याचिकाओं का विरोध करते हुए अदालत में कहा कि इन याचिकाओं पर सुनवाई के लिए कोई आधार ही नहीं है।

एक का विश्वास, दूसरे का अंधविश्वास: 5 जज, 6 वकील – SC में सबरीमाला पर दमदार दलील

कोई भी व्यक्ति जो अनुच्छेद 25 (2) (बी) के तहत पूजा करने का अधिकार रखता है, उसे देवता की प्रकृति के अनुरूप करना होगा।

सबरीमाला कोई पब्लिक प्लेस नहीं, हिन्दुओं का पवित्र स्थल: संघ प्रमुख के बयान के मायने

संघ प्रमुख का मानना है कि यह समस्या किसी एक मंदिर, पंथ या राज्य की नहीं है बल्कि अन्य मंदिरों पर भी इसके दूरगामी परिणाम होंगे। यह वामपंथी ताक़तों के ख़िलाफ़ पूरे देश की लड़ाई है।

सबरीमाला से लौटी कनकदुर्गा को ससुराल और मायके वालों ने घर से निकाला

सैकड़ों वर्ष पुरानी परंपरा को ध्वस्त कर सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने वाली कनकदुर्गा को उसके ससुराल वालों और मायके वालों- दोनों ने अपने-अपने घरों से निकाल दिया है।

सबरीमाला साइड इफ़ेक्ट: ‘अन्य मंदिरों पर भी थोपा जा सकता है संवैधानिक नैतिकता का तर्क’

"सबरीमाला मंदिर मार्ग पर एक हवाई अड्डा बनाने की योजना है, यह तभी लाभप्रद होगी जब मंदिर को 365 दिन खुला रखा जाए। इसीलिए मंदिर को एक तीर्थस्थल के बजाय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के प्रयास चल रहे हैं।"

कनकदुर्गा मामले में नया ट्विस्ट: सबरीमाला मंदिर से लौटने के बाद सास नहीं, बहू ने ही की थी पिटाई

कनकदुर्गा ने CPM कार्यकर्ता बिंदु के साथ सबरीमाला मंदिर में प्रवेश किया था।

सबरीमाला मंदिर से लौटी महिला की सास ने की कुटाई, अस्पताल में भर्ती

800 सालों की परंपरा को तोड़ कर सबरीमाला में घुसने वाली कनकदुर्गा को उसकी सास ने लड़की की तख्ती से पीटा और उसके सिर पर वार किया। फ़िलहाल वो अस्पताल में है।

सबरीमाला मुद्दे पर राहुल गाँधी का U-टर्न

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर चल रहे विवाद में अब राहुल गाँधी ने अपने शुरुआती रुख में बदलाव किया है। उन्होंने कहा कि वो इस बारे में कोई स्पष्ट राय नहीं रखते

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
131,815FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe