Thursday, May 13, 2021

विषय

west bengal elections 2021

हिंसा वही जो पिया मन भाए?

"जो है उसमें से अपने मतलब का सीन ही देखना है" से चलकर "कुछ नहीं दिख रहा है" - यही है वाम-तंत्री रिपोर्टिंग का क्रमिक विकास।

हिंसा की गर्मी में चुप्पी की चादर ही पत्रकारों के लिए है एयर कूलर

ऐसी चुप्पी के परिणाम स्वरूप आइडिया ऑफ इंडिया की रक्षा तय है। यह इकोसिस्टम कल्याण की भी बात है। चुप्पी के एवज में किसी कमिटी या...

‘मुस्लिम वोट ले गई TMC, अब लगता है मैं भी सांसद नहीं रहूँगा’: बंगाल में 44 से 0 होने पर बोले कॉन्ग्रेस के अधीर...

बंगाल कॉन्ग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी के अनुसार पार्टी तो सिर्फ अस्तित्व के लिए लड़ रही थी। इस चुनाव में उसका कुछ भी दाँव पर नहीं था।

BJP की 2 पोल एजेंट से गैंगरेप की खबरों को बंगाल पुलिस ने नकारा

बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्याओं के बाद अब पार्टी की दो पोल एजेंट से गैंगरेप की खबर आ रही है। कई अन्य जगहों पर भी हिंसा की खबर है।

बंगाल: 2 सीटों पर राहुल गाँधी की रैली, दोनों जगह कॉन्ग्रेस उम्मीदवार की जमानत जब्त; साथी भी लाज नहीं बचा पाए

पश्चिम बंगाल में न केवल कॉन्ग्रेस खाता खोलने में विफल रही है, बल्कि जिन दो सीटों पर राहुल गाँधी गए वो भी पार्टी नहीं बचा पाई।

बांग्ला-बंगाली देश से ऊपर, बाकी सब बेकार: ममता की लगाई ‘उप-राष्ट्रवादी खेला’ से जलेंगे और राज्य भी

सफलता के इस शोर में एक महत्वपूर्ण कारण पर चर्चा शायद न हो और वह कारण है बांग्ला उप राष्ट्रवाद। अब इसे प्रशांत किशोर द्वारा बनाई गई रणनीति का हिस्सा माने या फिर पहले से चली आ रही एक सोच!

हत्या से पहले BJP कार्यकर्ता ने 2 बार किया था फेसबुक लाइव, बताया कैसे गुंडागर्दी कर रहे TMC वाले: जानवर के बच्चों तक को...

बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता अभिजीत सरकार की पीट पीटकर हत्या कर दी गई। हत्या से कुछ देर पहले ही फेसबुक पर आकर उन्होंने हमलावरों के बारे में बताया था।

जहाँ संघ कार्यकर्ता के पूरे परिवार को रेता, जहाँ आजादी पर लहराया था पाकिस्तानी झंडा; हर जगह TMC जीती

बांग्लादेश के सीमावर्ती मुस्लिम बहुल इलाकों में ममता की पार्टी टीएमसी का दबदबा 2021 विधानसभा चुनावों में साफ नजर आया।

शिवलिंग पर कंडोम, बीफ फेस्टिवल और हिन्दू देवी-देवताओं का अपमान: 5 ‘बदजुबान’ जिन्हें जनता ने चटाई धूल

सायोनी घोष ने शिवलिंग को कंडोम पहनाते हुए एक तस्वीर शेयर कर भगवान शिव का मजाक बनाया था। कॉन्ग्रेस की बिंदु कृष्णा ने 'बीफ फेस्टिवल' का आयोजन किया था।

इन नतीजों के आगे जहाँ और भी हैं… आखिर भाजपा के पास बंगाल में खोने को था ही क्या?

यह टीवी मीडिया और छद्म बुद्धिजीवियों की बनाई दुनिया थी, जिसने भाजपा का सब कुछ बंगाल में दाँव पर बता दिया। भाजपा के पास खोने को था ही क्या?

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,373FansLike
93,110FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe