Monday, December 5, 2022
Homeवीडियोमुंगेर का अनुराग: गोद में सर, बाहर गिरा दिमाग, इस क्रूरता को भूलना मत...

मुंगेर का अनुराग: गोद में सर, बाहर गिरा दिमाग, इस क्रूरता को भूलना मत | Ajeet Bharti Video On Munger killing Anurag Poddar

हम भूल जाएँगे कि अनुराग की माँ ने आखिरी बार अपनी गोद में अपने बेटे का सिर तो रखा था, लेकिन उसका दिमाग निकल कर बाहर सड़क पर पड़ा था। आखिर हमें अब पालघर के साधुओं की वह तस्वीर भी कहाँ देखने को मिलती है जिसमें उग्र भीड़ का शिकार होने से पहले वह दया याचना की अपेक्षा लिए पुलिस की ओर देख रहे थे।

बिहार के मुंगेर में अनुराग पोद्दार की हत्या के बाद सामने आने वाली तस्वीरें शायद कुछ समय बाद हमारी स्मृतियों से गायब हो जाएँगी। हम भूल जाएँगे कि अनुराग की माँ ने आखिरी बार अपनी गोद में अपने बेटे का सिर तो रखा था, लेकिन उसका दिमाग निकल कर बाहर सड़क पर पड़ा था।

आखिर हमें अब पालघर के साधुओं की वह तस्वीर भी कहाँ देखने को मिलती है जिसमें उग्र भीड़ का शिकार होने से पहले वह दया याचना की अपेक्षा लिए पुलिस की ओर देख रहे थे।

मुंगेर की माँ की यह तस्वीर भी धीरे-धीरे धुंधली हो जाएगी। अनुराग की मृत्यु न तो पहली है और न आखिरी। आदर्श नगर का राहुल हो या फिर सुशील, हिंदुओं पर होती बर्बरता अब दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। जो तत्परता किसी तबरेज, अखलाख के मरने पर शीर्ष नेतृत्व द्वारा दिखाई जाती है, उससे हिंदू आज तक अछूता है।

पूरा वीडियो इस लिंक पर क्लिक करके देखें।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अजीत भारती
अजीत भारती
पूर्व सम्पादक (फ़रवरी 2021 तक), ऑपइंडिया हिन्दी

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हवाई सफर हुआ आसान, अब करिए Digi Yatra: आपका चेहरा ही बोर्डिंग पास, जानिए FRT का कब-कहाँ-कैसे मिलेगा फायदा

डिजी यात्रा (Digi Yatra)। डिजी यात्रा सेंट्रल इकोसिस्टम (DYCE)। चेहरा पहचान प्रणाली (FRT)। यदि हवाई यात्रा करते हैं तो इन शब्दों से नाता जोड़ लीजिए, क्योंकि अब चेहरा ही आपका बोर्डिंग पास है।

आज Moonlighting पर चली जाती है नौकरी, कभी CJI भी यही करते थे: जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने बताया – आकाशवाणी में RJ था, संगीत...

CJI डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा, "संगीत के लिए मेरा प्यार आज भी कायम है। अपने काम से फ्री होकर जब भी मैं घर जाता हूँ, तो संगीत जरूर सुनता हूँ।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,909FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe