Friday, July 30, 2021
Homeव्हाट दी फ*4000+ लड़कियों के साथ हमबिस्तर होने के लिए खर्च किए ₹200 करोड़, 55 साल...

4000+ लड़कियों के साथ हमबिस्तर होने के लिए खर्च किए ₹200 करोड़, 55 साल छोटी बीवी ने कर दी हत्या

"मुझे लक्जरी कारों और घरों में कोई रुचि नहीं... मेरे मन में हमेशा आकर्षक महिलाओं के साथ सेक्स करने की इच्छा मौजूद रहती है। मेरे दौलत कमाने की वजह ही है 'आकर्षक महिलाओं को डेट करना।"

जापान की एक महिला को उसके पति की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। 25 वर्षीय साकी सुडो पर आरोप है कि उन्होंने अपने करोड़पति पति कोसुके नोज़ाकि उर्फ़ ‘डॉन जुआन’ को ज़हर देकर मार डाला। 3 साल पहले हुई ये घटना जापान के वकायामा प्रीफेक्चर (Wakayama Prefecture) के सबसे बड़े शहर तनबे (Tanabe) की है। 2018 में हत्या से 3 महीने पहले ही साकी सुडो ने कोसुके से शादी की थी।

कोसुके अपनी पत्नी से 55 वर्ष बड़े थे। उन्होंने रियल एस्टेट कारोबार, कृषि और कर्ज देने के जरिए अकूत दौलत कमाई थी। उन्होंने फ़रवरी 2018 में सुडो से शादी की। उन्होंने खुद पर एक किताब भी लिख रखी थी। ‘डॉन जुआन’ का दावा था कि उन्होंने अपने जीवन में 4000 महिलाओं के साथ बिस्तर शेयर किया था। उन्होंने अपने दौलत कमाने के पीछे की वजह ‘आकर्षक महिलाओं को डेट करना’ बताया था।

पुलिस ने कहा है कि सुडो ने अपनी पति की हत्या के लिए उन्हें तीक्ष्ण विष दिया। उन्होंने सुडो से पूछा था, “क्या तुम मेरे जीवन की अंतिम महिला बननी चाहोगी?” तनबे में मई 2018 में सुडो ने दावा किया था कि उनके पति सोफे पर मृत मिले। इससे पहले पुलिसकर्मियों को संदेह था कि सुडो ने नोज़ाकि को ड्रग्स दिया था। बुधवार (अप्रैल 28, 2021) को पुलिस ने छापा मार कर सुडो को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने टोक्यो से उसे गिरफ्तार करने के बाद उसके गृह राज्य वकायामा लेकर गई, जहाँ वो अपने पति के साथ रहा करती थी। चूँकि कोसुके के शरीर पर सूई चुभोने का कोई निशान नहीं मिला, माना जा रहा है कि उन्हें ड्रिंक्स में मिला कर ज़हर दिया गया था। कोसुके ने अपनी आत्मकथा में दावा किया था कि उन्होंने 4000 महिलाओं को बिस्तर पर लाने के लिए 300 करोड़ येन (204.21 करोड़ रुपए) खर्च किए थे।

उन्होंने लिखा था, “मुझे लक्जरी कारों और घरों में कोई रुचि नहीं है। लेकिन, मेरे मन में हमेशा आकर्षक महिलाओं के साथ सेक्स करने की इच्छा मौजूद रहती है।” इस पुस्तक में उन्होंने बताया था कि यूनिवर्सिटी की छात्रों और फ्लाइट अटेंडेंट महिलाओं को कैसे आकर्षित करें। उन्होंने गरीबी में धातुओं के टुकड़े, कंडोम और शराब बेचने से कारोबार की शुरुआत की थी। वो अपने गृह शहर को 130 करोड़ येन (88.45 करोड़ रुपए) दान करना चाहते थे।

उनकी मौत के बाद आधी संपत्ति विधवा सुडो को ही जानी थी। ख़बरों में ये भी कहा गया है कि सुडो हत्या के दिन से पहले ऑनलाइन ड्रग्स के बारे में सर्च कर रही थी। पहले तो इसे प्राकृतिक मौत माना गया, लेकिन उनके शरीर में नारकोटिक्स की मात्रा मिलने के बाद पुलिस का शक बढ़ा क्योंकि वो ड्रग्स नहीं लेते थे। सुडो से उनकी मुलाकात टोक्यो के हेनेडा अस्पताल में हुई थी। सुडो मॉडल हुआ करती थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

रामायण की नेगेटिव कैरेक्टर से ममता बनर्जी की तुलना कंगना रनौत ने क्यों की? जावेद-शबाना-खान को भी लिया लपेटे में

“...बंगाल मॉडल एक उदाहरण है… इसमें कोई शक नहीं कि देश में खेला होबे।” - जावेद अख्तर और ममता बनर्जी की इसी मीटिंग के बाद कंगना रनौत ने...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,014FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe