Saturday, October 23, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकराजनीति फ़ैक्ट चेकAAP ने चाँदनी चौक को लेकर फैलाया झूठ, यूजर्स ने कहा- 'दो अलग जगह...

AAP ने चाँदनी चौक को लेकर फैलाया झूठ, यूजर्स ने कहा- ‘दो अलग जगह की तस्वीरों से केजरीवाल जनता को बना रहे उल्लू’

"अगर यह सच्चा बदलाव है तो इसके लिए सरकार को धन्यवाद, लेकिन मुझे पूर्ण विश्वास है कि केजरीवाल ने इसमें भी कोई झोल किया है। दाई और बाईं तस्वीर दोनों एक ही जगह की नहीं है।"

हर सरकार अपने काम-काज का प्रचार करती है। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने भी यही किया। केजरीवाल सरकार ने दिल्ली का विकास कितने अच्छे तरीके से किया है यह दिखाने के लिए आम आदमी पार्टी ने ‘अप्रैल फूल’ की पूर्व संध्या पर दो अलग-अलग स्थानों की तस्वीर को चाँदनी चौक का बताकर लोगों को मूर्ख बना दिया।

दरअसल, आम आदमी पार्टी ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से दो तस्वीरों को मिक्स करके ट्वीट किया, जिसमें दिल्ली के चाँदनी चौक को पहले और बाद के तौर पर दिखाया गया था। पहली इमेज में सँकरी गलियाँ और भीड़-भाड़ वाली गली को दिखाया गया है। दूसरी तस्वीर में चौड़ी और साफ सुथरी सड़क और चारों तरफ हरियाली दिखाई गई थी।

आप के समर्थकों के लिए यह पिक्चर बहुत ही मनमोहक रही होगी कि किस तरह से केजरीवाल दिल्ली के लिए आशा की किरण बनकर आए हैं। लेकिन, ध्यान से देखने पर स्पष्ट तौर पर पता चलता है कि दोनों इमेज अलग-अलग स्थानों की है।

आप के इस फ्रॉड को दिल्ली वासियों ने पकड़ लिया और ट्विटर पर आम आदमी पार्टी की क्लास लगाते हुए एक यूजर ने लिखा, “अगर यह सच्चा बदलाव है तो इसके लिए सरकार को धन्यवाद, लेकिन मुझे पूर्ण विश्वास है कि केजरीवाल ने इसमें भी कोई झोल किया है। दाई और बाईं तस्वीर दोनों एक ही जगह की नहीं है।”

एक अन्य ट्वीट में अस्वत्थामा लिखते हैं, “अगर केजरीवाल ने इसका आधा भी बदलाव किया होता तो वह टीवी, रेडियो, न्यूज पेपर से दुनियाभर में इसका प्रचार करते। केजरीवाल ने वैक्सीनेशन को लेकर खुद का प्रचार किया, जिसमें उनका शून्य प्रतिशत भी योगदान नहीं था।”

दिल्लीवासियों को अच्छी तरह से पता है कि केजरीवाल केवल क्रेडिट लेने की कोशिश कर रहे हैं, जबकि उसमें उनका कोई योगदान नहीं है।

एक अन्य यूजर ने आम आदमी पार्टी की तस्वीर को लेकर लिखा, “दोनों तस्वीरें अलग-अलग जगहों की हैं। केजरीवाल जनता को उल्लू बना रहे हैं।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मृत जवान के परिजनों से मिले गृह मंत्री, पत्नी को दी सरकारी नौकरी: सुरक्षा पर बड़ी बैठक, जानिए अमित शाह के J&K दौरे में...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शनिवार (23 अक्टूबर, 2021) को केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के दौरे पर पहुँचे। मृत पुलिस जवान के परिजनों से मुलाकात की।

परमवीर सूबेदार जोगिंदर सिंह: जो बिना हथियार 200 चीनी सैनिकों से लड़े… पापा से प्यार इतना कि बलिदान पर बेटी का भी निधन

15 साल की उम्र में ब्रिटिश इंडियन आर्मी को ज्वॉइन कर लिया था सूबेदार जोगिंदर सिंह ने और सिख रेजीमेंट की पहली बटालियन का हिस्सा बन गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,988FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe