Tuesday, October 19, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेक‘तुम्हारी गाय को फ# करूँगा’ कहने वाला रैपर MC कोड लापता: ‘लाश’ की तस्वीर...

‘तुम्हारी गाय को फ# करूँगा’ कहने वाला रैपर MC कोड लापता: ‘लाश’ की तस्वीर वायरल, जानें सच

सोशल मीडिया में जहाँ कई लोग विवादास्पद रैपर का पता लगाने में मदद कर रहे हैं,तो वहीं कुछ ट्विटर यूजर्स सोशल मीडिया में गलत सूचना फैलाने में लिप्त हैं, जो दावा कर रहे हैं रैपर ने पहले ही अपना जीवन समाप्त कर ली है।

हाल ही में हिंदू धर्म के अपमान वाले अपने पुराने वीडियो सोशल मीडिया वायरल होने के बाद विवादों में रहा रैपर एमसी कोड (MC Kode) कोड बुधवार (2 जून) को कथित तौर पर नई दिल्ली से लापता हो गया।

कई सोशल मीडिया यूजर्स ने हाल ही में हिंदुओं और महाभारत, गीता और गायों पर एमसी कोड द्वारा किए गए अपमानजनक कमेंट्स वाले वीडियो का पर्दाफाश किया था, जिसके एक हफ्ते बाद, वह कथित तौर पर लापता हो गया है। कुछ सोशल मीडिया पोस्ट्स के अनुसार, एमसी कोड ने इंस्टाग्राम पर एक संदेश पोस्ट किया था जिसमें उसने अपनी जीवन लीला समाप्त करने की धमकी दी थी।

एमसी कोडे, जिसका हैंडल ‘forreal_kode’ नाम से हैं, ने इंस्टाग्राम पर एक लंबी पोस्ट पोस्ट करते हुए कहा कि कैसे वह जीवन की लगातार पीड़ा, परीक्षा और क्लेश का सामना कर रहा है, जिसने वीडियो वायरल होने के बाद उसे कमजोर बना दिया है। अपने पोस्ट में, एमसी कोड ने कहा कि वह यमुना नदी पर बने एक सुनसान पुल पर खड़ा है, जहाँ वह लहरों को ‘अपने मुसीबत में दी गई आवाज का जवाब’ देते देख सकता है।

अपने जीवन को समाप्त करने की धमकी देते हुए, रैपर ने कहा कि वह केवल माफी माँग सकता है क्योंकि उसके स्वार्थी कामों से निश्चित रूप से बहुत दुख होगा। उसने साथ ही दूसरों से अपने साथ जुड़े लोगों को परेशान न करने का भी आग्रह किया और कहा कि वह किसी भी चीज के लिए किसी को भी नहीं बल्कि खुद को दोषी ठहराता है।

आदित्य तिवारी, जिसने रैपर के रूप में फेमस होने के लिए अपना नाम एमसी कोड रखा है, नई दिल्ली स्थित एक रैपर है। वर्षों से, वह मुंबई, गुजरात, गुवाहाटी, जयपुर, उत्तर प्रदेश और हरियाणा सहित कई राज्यों में रैप बैटल्स की मेजबानी, भागीदारी और उनमें जज की भूमिका निभाता रहा है।

एमसी कोड के इंस्टाग्राम पोस्ट ने अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर हलचल मचा दी है और कई लोग रैपर की तलाश कर रहे हैं, जिसने यमुना नदी में कूदकर अपनी जान देने की धमकी दी है।

एमसी कोड की ‘डेड बॉडी’ की वायरल तस्वीर फेक

सोशल मीडिया में जहाँ कई लोग विवादास्पद रैपर का पता लगाने में मदद कर रहे हैं,तो वहीं कुछ ट्विटर यूजर्स सोशल मीडिया में गलत सूचना फैलाने में लिप्त हैं, जो दावा कर रहे हैं रैपर ने पहले ही अपना जीवन समाप्त कर ली है।

एक ट्विटर यूजर ने गुरुवार (3 जून) को एक मृत व्यक्ति की तस्वीर पोस्ट करते हुए दावा किया कि मृतक एमसी कोड है। ट्विटर यूजर ने दावा किया कि रैपर का शव, जिसने पहले सुसाइड नोट पोस्ट किया था, दिल्ली में यमुना बैंक के पास प्रगति थर्मल पावर स्टेशन के पास बरामद किया गया।

मोनीश द्वारा साझा की गई तस्वीरें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में जंगल की आग की तरह फैल गईं, जिससे यूजर्स में अनावश्यक घबराहट फैल गई।

हालाँकि, सोशल मीडिया में वायरल हुई तस्वीर एमसी कोड से जुड़ी नहीं है।

फैक्ट चेक:

ट्विटर यूजर ने जिन तस्वीरों को एमसी कोड के शव के रूप में शेयर किया, वे वास्तव में बांग्लादेश में 2017 में एक दुखद घटना के बाद ली गई थीं।

10 अक्टूबर, 2017 को, रोहिंग्या शरणार्थियों को ले जा रही एक ओवरलोड नाव कॉक्स बाजार के पास पलट गई थी, जिसमें कम से कम 14 रोहिंग्या शरणार्थी मारे गए थे, जिनमें से अधिकांश बच्चे थे। आप समर्थक द्वारा एमसी कोड के शव के रूप में साझा की गई तस्वीरें 2017 की दुखद घटना के दौरान खींची गई थीं।

सोशल मीडिया यूजर्स के अनुसार, ट्विटर यूजर द्वारा रैपर एमसी कोड के शव के रूप में जारी की गई तस्वीर पूरी तरह से फर्जी है क्योंकि यह चार साल पहले बांग्लादेश के पास हुई एक नाव त्रासदी से जुड़ी है।

सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि एमसी कोड का ‘गायब होने’ का इतिहास रहा है। कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने बताया है कि यह पहली बार नहीं है जब रैपर लापता हुआ है और वह पहले भी ऐसा कर चुका है। एक पुराने सोशल मीडिया पोस्ट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि आदित्य तिवारी उर्फ ​​एमसी कड़े 2014 में भी एक बार ‘लापता’ हो गया था।

पिछले हफ्ते वायरल हुआ था रैपर MC कोड का विवादित वीडियो

पिछले हफ्ते सोशल मीडिया में हिंदू धर्म और उसकी मान्यताओं के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियाँ करते और गाली देते एमसी रैपर का एक पुराना वीडियो वायरल हुआ था। एक ‘रैप बैटल’ के दौरान रैपर एमसी कोड (MC Kode) ने हिन्दू धर्म का अपमान किया। उक्त रैपर ने हिन्दू धर्म की पवित्र पुस्तकों महाभारत और भगवद्गीता पर अश्लील टिप्पणी की थी। एमसी कोड ने एक रैप बैटल के दौरान कहा, “अगर तुम हिन्दू हो मैं तुम्हारी पवित्र गाय को फ़$ करूँगा। मैं तुम्हारे महाभारत पर मास्टरबेट (हस्तमैथुन) कर दूँगा।” महाभारत का नाम लेने से पहले वो ‘क्या था, क्या था’ बोलता है, जिस पर कुछ रैपर्स उसे ‘भगवद्गीता’ का नाम बताते हैं और फिर वो इस पुस्तक का नाम भी लेता है।

नई दिल्ली में रहने वाले एमसी कोड का असली नाम आदित्य तिवारी है और उसने ये नाम रैपर के रूप में लोकप्रिय होने के लिए रखा है। मुंबई, गुजरात, गुवाहाटी, जयपुर, उत्तर प्रदेश और हरियाणा से लेकर कई जगहों पर वो ‘रैप बैटल्स’ आयोजित कर चुका है और ऐसे रैप बैटल्स की होस्टिंग और जजिंग भी करता रहा है। विवादित वीडियो जून 12, 2016 का है जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इस ‘रैप बैटल’ में वो सामने वाले रैपर की माँ को लेकर अश्लील बातें करता है और फिर हिन्दू धर्म की पुस्तकों पर आ जाता है। महाभारत, गीता और गाय के साथ वो बार-बार ‘फ़किं$-फ़$ग’ जैसे अश्लील शब्द का इस्तेमाल करता है। ‘Redbull’ कंपनी भी एमसी कोड को प्रमोट करती रही है। हालाँकि, ‘Redbull’ की वेबसाइट पर एमसी कोड से जुड़े कंटेंट्स पर ‘404 एरर’ दिखा रहा है। उसने मार्च 2021 में एमसी कोड का एक प्रोफाइल तैयार किया था।

वीडियो वायरल होने के बाद, एमसी कोडे ने पूरे मामले को लेकर माफी माँगी थी और उसने अपने सभी गानों को स्ट्रीमिंग और यूट्यूब से हटाने का अनुरोध किया था।

यहाँ यह उल्लेखनीय है कि अभी तक उक्त रैपर के लापता होने या उसके साथ किसी दुर्घटना की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इधर आतंकी गोली मार रहे, उधर कश्मीरी ईंट-भट्टा मालिक मजदूरों के पैसे खा रहे: टारगेट किलिंग के बाद गैर-मुस्लिम बेबस

कश्मीर घाटी में गैर-कश्मीरियों को टारगेट कर हत्या करने के बाद दूसरे प्रदेशों से आए श्रमिक अब वापस लौटने को मजबूर हो रहे हैं।

कश्मीर को बना दिया विवादित क्षेत्र, सुपरमैन और वंडर वुमेन ने सैन्य शस्त्र तोड़े: एनिमेटेड मूवी ‘इनजस्टिस’ में भारत विरोधी प्रोपेगेंडा

सोशल मीडिया यूजर्स इस क्लिप को शेयर कर रहे हैं और बता रहे हैं कि कैसे कश्मीर का चित्रण डीसी की इस एनिमेटिड मूवी में हुआ है और कैसे उन्होंने भारत को बुरा दिखाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,884FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe