Monday, June 17, 2024
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृतिअमेरिका के शहरों में गूँजेगा 'जय श्रीराम', न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर पर होगा प्राण...

अमेरिका के शहरों में गूँजेगा ‘जय श्रीराम’, न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर पर होगा प्राण प्रतिष्ठा का टेलिकास्ट: तैयारी शुरू, मंदिरों में भी इंतजाम पूरे

22 जनवरी, 2024 को अयोध्या में रामजन्मभूमि मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम अमेरिका के सबसे बड़े शहर न्यू यॉर्क के प्रसिद्ध टाइम्स स्क्वायर पर दिखाया जाएगा। इसकी तैयारी चालू हो गई है। इसके अलावा अमेरिका सभी शहरों में रामजन्मभूमि का यह कार्यक्रम टेलिकास्ट होगा।

22 जनवरी, 2024 को अयोध्या में रामजन्मभूमि मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम अमेरिका के सबसे बड़े शहर न्यूयॉर्क के प्रसिद्ध टाइम्स स्क्वायर पर दिखाया जाएगा। इसकी तैयारी चालू हो गई है। इसके अलावा अमेरिका के सभी शहरों में रामजन्मभूमि का यह कार्यक्रम टेलिकास्ट होगा।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, न्यूयॉर्क के मैनहट्टन में व्यस्त इलाका है। यहाँ पर बड़ी-बड़ी स्क्रीन लगी हैं। यहाँ पर किसी चीज का प्रदर्शन पूरी दुनिया का ध्यान खींचता है। यहाँ पर टाइम्स स्क्वायर में ही 22 जनवरी, 2024 को राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम लाइव प्रदर्शित किया जाएगा। ना सिर्फ यहीं बल्कि पूरे अमेरिका के अलग अलग शहरों में भी यह प्रसारण होगा ताकि वहाँ भी लोग इस भव्य आयोजन को देख सकें।

अमेरिका में अब बड़ी हिन्दू आबादी रहती है। एक अनुमान के अनुसार, अमेरिका में लगभग 33 लाख हिन्दू रहते हैं जो कि अमेरिका की कुल जनसंख्या का 1% हैं। अमेरिका के मंदिरों में भी राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर इंतजाम किए जाने की सूचना है।

वहीं, राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम भारत में आमजनों तक पहुँचाने के लिए भाजपा ने भी तैयारी कर ली है। भाजपा का कहना है कि यह कार्यक्रम वह बूथ स्तर पर दिखाएगी। उसके बूथ स्तर के कार्यकर्ता लोगों को प्राण प्रतिष्ठा अलग-अलग जगह पर बड़ी स्क्रीन पर दिखाएँगे।

इस कार्यक्रम को भाजपा के अलावा विश्व हिन्दू परिषद् के कार्यकर्ता भी दिखाएँगे। विश्व हिन्दू परिषद ने यह भी तय किया है कि वह देश के पाँच लाख मंदिरों में प्राण प्रतिष्ठा के दिन लोगों को इकट्ठा करेगी। वह यहाँ पर साफ़ सफाई करके पूजा अर्चना करेंगे।

यह भी कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी 22 जनवरी, 2024 को प्राण प्रतिष्ठा के बाद अयोध्या से देश को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री 22 जनवरी को यजमान की भूमिका निभाएँगे। इस दिन वह संतों और धर्मगुरुओं के आदेशों के अनुसार मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा में भाग लेंगे।

मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के बाद भाजपा के देश भर से भक्तों को अयोध्या लाने की योजना भी सामने आई है। बताया जा रहा है कि यहाँ 60 दिनों तक ट्रस्ट भंडारा भी चलाया जाएगा और साथ ही में बाहर से आने वाले भक्तों के रहने की व्यवस्था भी की जाएगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहले उइगर औरतों के साथ एक ही बिस्तर पर सोए, अब मुस्लिमों की AI कैमरों से निगरानी: चीन के दमन की जर्मन मीडिया ने...

चीन में अब भी उइगर मुस्लिमों को लेकर अविश्वास है। तमाम डिटेंशन सेंटरों का खुलासा होने के बाद पता चला है कि अब उइगरों पर AI के जरिए नजर रखी जा रही है।

सेजल, नेहा, पूजा, अनामिका… जरूरी नहीं आपके पड़ोस की लड़की ही हो, ये पाकिस्तान की जासूस भी हो सकती हैं: जानिए कैसे ISI के...

पाकिस्तानी ISI के जासूस भारतीय लड़कियों के नाम से सोशल मीडिया पर आईडी बना देश की सुरक्षा से जुड़े लोगों को हनीट्रैप कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -