Tuesday, August 3, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनहिरोइन के इंटीमेट सीन के कारण पति से झगड़ा और आत्महत्या? वीजे चित्रा सुसाइड...

हिरोइन के इंटीमेट सीन के कारण पति से झगड़ा और आत्महत्या? वीजे चित्रा सुसाइड मामले में हेमनाथ गिरफ्तार

वीजे चित्रा के इंटीमेट सीन दिए जाने से वो खफा थे और जिस दिन चित्रा ने आत्महत्या की, उस दिन भी हेमनाथ ने उनके साथ गलत बर्ताव किया था - ऐसी रिपोर्ट आई है। पुलिस कई दिनों तक चित्रा के दोस्तों और उनके पति से पूछताछ के बाद ही...

तमिल की मशहूर टेलीविजन एक्ट्रेस वीजे चित्रा के आत्महत्या मामले में पुलिस ने उनके पति हेमनाथ को गिरफ्तार कर लिया है। हेमनाथ पर चित्रा की माँ ने गंभीर आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज करवाई है।

उन्होंने दावा किया कि हेमनाथ चित्रा को प्रताड़ित करते थे, जिसके कारण ये सब हुआ। पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद हेमनाथ को सुसाइड के लिए उकसाने के आरोप में अरेस्ट किया है। चित्रा की माँ का कहना है कि उनकी बेटी खुद फँदे से नहीं लटक सकती, इसलिए इस मामले में निष्पक्ष जाँच हो।

बता दें कि चित्रा की मौत के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि आत्महत्या के पीछे आर्थिक परेशानी वजह हो सकती है। लेकिन अब हेमनाथ के ख़िलाफ़ मामला दर्ज होने के बाद इस केस में नया एंगल आया है।

चित्रा को परेशान करने के आरोप में हेमनाथ के ख़िलाफ आईपीसी की धारा 306 के तहत मामला दर्ज हुआ है। पुलिस ने उन्हें हिरासत में लेकर पहले पूनमल्ली कोर्ट में पेश किया था और फिर उन्हें पोन्नेरी जेल में भेज दिया गया। पुलिस के पास उनके ख़िलाफ़ पर्याप्त सबूत इकट्ठा हो गए हैं।

कहा जा रहा है कि हेमनाथ एक टीवी सीरियल में चित्रा के इंटीमेट सीन दिए जाने से खफा थे और जिस दिन चित्रा ने आत्महत्या की, उस दिन भी हेमनाथ ने उनके साथ गलत बर्ताव किया था। घटना के बाद से पुलिस कई दिनों तक चित्रा के दोस्तों और उनके पति से पूछताछ करती रही और इस पूछताछ के बाद ही गिरफ्तारी की गई।

उल्लेखनीय है कि 9 दिसंबर को चित्रा ने चेन्नई के बाहरी इलाके में स्थित एक होटल में फाँसी लगाई थी। वह होटल में रात के करीब ढाई बजे पहुँची थी। इसके बाद वह अपने कमरे में फ्रेश होने गईं और खुद को अंदर से बंद कर लिया। जब चित्रा ने काफी देर तक दरवाजा नहीं खोला तो उनके पति ने होटल स्टाफ की मदद ली और दूसरी चाभी से गेट खोला गया। अंदर चित्रा छत से लटकी हुईं थीं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘माँस फेंक करते हैं परेशान’: 81 हिन्दू परिवारों ने लगाए ‘मकान बिकाऊ है’ के पोस्टर, एक्शन में मुरादाबाद पुलिस

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद स्थित कटघर थाना क्षेत्र में स्थित इस कॉलोनी में 81 हिन्दू परिवारों ने 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर लगा दिए हैं। वहाँ बसे मुस्लिमों पर परेशान करने के आरोप।

4 साल में 4.5 करोड़ को मरवाया, हिटलर-स्टालिन से भी बड़ा तानाशाह: ओलंपिक में चीन के खिलाड़ियों ने पहना उसका बैज

जापान की राजधानी टोक्यो में चल रहे ओलंपिक खेलों में चीन के दो खिलाड़ियों को स्वर्ण पदक जीतने के बाद माओ का बैज पहने हुए देखा गया। विरोध शुरू।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,740FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe