Saturday, April 20, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'नंदलाला की #$ गई क्या'- रैपर MC कोड के बाद अब मफ़ाद ने हिन्दुओं...

‘नंदलाला की #$ गई क्या’- रैपर MC कोड के बाद अब मफ़ाद ने हिन्दुओं की आस्था को पहुँचाई चोट, भगवान कृष्ण को दी गालियाँ

YouTube पर 4 लाख सब्सक्राइबर वाले मफ़ाद ने अपने लगभग सभी 30 वीडियो में हिंदू देवताओं के खिलाफ अभद्र और अपमानजनक टिप्पणी की है। अपशब्दों से भरे अपने नए रैप सॉन्ग में मफ़ाद गाता है, "बन जाऊ इंद्र देव फाड़ के आ जाऊँ अंदर।" उसका दूसरा 'हाई ऑन एब्यूज' सॉन्ग हिंदू देवता भगवान राम और...

एमसी कोड के बाद एक और रैपर वास्ताविक मफ़ाद ने हिंदू धर्म व हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाया है। दरअसल, रैपर वस्ताविक मफ़ाद ‘बी ए मफ़ाद’ नाम से एक यूट्यूब चैनल चलाता है। उसने अपने साथी रैपर के साथ कृष्ण का अपमान करते हुए बार-बार भगवान कृष्ण को गालियाँ दीं। साथी रैपर को झूठा कहते हुए मफ़ाद गाता है, “तू मटकी का सारा माखन खा गया माखनचोर, ओ नंदलाला की फट गई क्या।”

रैपर ने अगली पंक्ति में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया जैसे, “मर गया तेरा नंदलाल नटखट, अब गोपियाँ भागेंगी छोड़के पनघट।”

हिंदू देवताओं और महाकाव्यों का मजाक उड़ाते हुए मफ़ाद ने एक अन्य गाने में गाया, “मैं तेरे पापा का सुदामा आके पैर धो।”

आज के समय में हिंदू देवताओं, सनातन धर्म को गाली देना और उनका मजाक उड़ाना मानो सफलता का पैमाना बन गया है। YouTube पर 4 लाख सब्सक्राइबर वाले मफ़ाद ने अपने लगभग सभी 30 वीडियो में हिंदू देवताओं के खिलाफ अभद्र और अपमानजनक टिप्पणी की है। अपशब्दों से भरे अपने नए रैप सॉन्ग में मफ़ाद गाता है, “बन जाऊ इंद्र देव फाड़ के आ जाऊँ अंदर।” उसका दूसरा ‘हाई ऑन एब्यूज’ सॉन्ग हिंदू देवता भगवान राम और माँ सीता को अपमानित करता है।

मफ़ाद के काली जुबान वीडियो का स्क्रीनग्रैब

मफ़ाद के ब्लू टिक इंस्टाग्राम अकाउंट पर भी 134k फॉलोअर्स के साथ बड़ी संख्या में फॉलोअर्स हैं।

कौन हैं वास्तविक मफ़ाद

मफ़ाद का असली नाम गौरव है। वह दिल्ली का रहने वाला है, उसने रैपर बनने के लिए साल 2012 में अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी। तब से गौरव अपने कथित ‘म्यूजिक’ पर काम कर रहा है। उसने 2016 में ‘सच टू मच’ से अपना डेब्यू किया था। गौरव 2018 में अपने रैप सॉन्ग ‘सारे करो डैब’ से फेमस हुआ था। यह सॉन्ग गौरव, रैपर व गीतकार रफ्तार और सिंगर सोनू कक्कड़ ने मिलकर तैयार किया था।

हिंदी, इंग्लिश, पंजाबी और हरियाणवी में रैप करने वाले गौरव का कहना है कि उनके गाने युवा पीढ़ी को काफी पसंद हैं। उन्हें लगता है कि अजीब और समझने में मुश्किल गाने दर्शक ज्यादा पसंद करते हैं। गौरव के पिता एक स्कूल टीचर हैं, जबकि उनकी माँ एक हाउस वाइफ हैं।

रैपर एमसी कोड

गौरतलब है कि हिन्दू धर्म की पवित्र पुस्तकों महाभारत और भगवद्गीता पर अश्लील और आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद चर्चा में आए रैपर एमसी कोड (MC Kode) उर्फ आदित्य तिवारी को दिल्ली पुलिस ने हाल ही में मध्य प्रदेश से ढूँढ निकाला था। हिन्दू धर्म के अपमान वाले पुराने वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद एमसी कोड 2 जून 2021 को नई दिल्ली से लापता हो गया था।

लापता होने के पहले एमसी कोड ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से जीवन को समाप्त करने की धमकी देते हुए एक मैसेज पोस्ट किया था। रैपर ने कहा था कि वह केवल माफी माँग सकता है, क्योंकि उसके स्वार्थी कामों से निश्चित रूप से बहुत दुख हुआ होगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘PM मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा, संविधान में बदलाव का कोई इरादा नहीं’: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- ‘सेक्युलर’ शब्द हटाने...

अमित शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने जीएसटी लागू की, 370 खत्म की, राममंदिर का उद्घाटन हुआ, ट्रिपल तलाक खत्म हुआ, वन रैंक वन पेंशन लागू की।

लोकसभा चुनाव 2024: पहले चरण में 60+ प्रतिशत मतदान, हिंसा के बीच सबसे अधिक 77.57% बंगाल में वोटिंग, 1625 प्रत्याशियों की किस्मत EVM में...

पहले चरण के मतदान में राज्यों के हिसाब से 102 सीटों पर शाम 7 बजे तक कुल 60.03% मतदान हुआ। इसमें उत्तर प्रदेश में 57.61 प्रतिशत, उत्तराखंड में 53.64 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe