Wednesday, November 30, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजन'OTT प्लेटफॉर्म्स अब धंधा बन गया है... देखने लायक नहीं हैं शो': नवाजुद्दीन सिद्दीकी...

‘OTT प्लेटफॉर्म्स अब धंधा बन गया है… देखने लायक नहीं हैं शो’: नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कहा – नहीं करूँगा काम

"जब मैं उन्हें देख नहीं सकता, तो उनमें काम कैसे कर सकता हूँ। अब ओटीटी पर हमारे पास केवल सो-कॉल्ड स्टार्स हैं, जो बड़ी रकम माँग रहे हैं और ए-लिस्ट स्टार्स की तरह नखरे दिखा रहे हैं।''

नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज ‘सेक्रेड गेम्स’ से बॉलीवुड में काम करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने ओटीटी प्लेटफॉर्म पर डेब्यू किया था। अब खबर है कि उन्होंने ओटीटी प्लेटफॉर्म को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया है। बताया जा रहा है कि उन्होंने ओटीटी प्लेटफॉर्म और उसके कंटेंट को लेकर अपनी नाराजगी व्यक्त की है।

सलमान खान वाली ‘बजरंगी भाईजान’ फिल्म में काम करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने एक इंटरव्यू में कहा, ”ओटीटी प्लेटफॉर्म्स बड़े प्रोडक्शन हाउस के लिए धंधा बन गए हैं।” इसी कारण को बता कर नवाजुद्दीन ने ऐलान किया है कि वह अब ओटीटी पर काम नहीं करेंगे।

बॉलीवुड हंगामा से बात करते हुए नवाजुद्दीन ने कहा, “यह मंच अनावश्यक​ शो के लिए एक डंपिंग ग्राउंड बन गया है। हमारे पास या तो ऐसे शो हैं, जो देखने लायक नहीं हैं। या फिर ऐसे सीक्वल हैं, जिनके पास कहने के लिए कुछ नहीं है।” 

अभिनेता ने आगे कहा, ”जब मैंने नेटफ्लिक्स के लिए ‘सेक्रेड गेम्स’ में काम किया, तो डिजिटल प्लेटफॉर्म में काम करने का एक उत्साह और चुनौती थी, लेकिन अब वह ताजगी चली गई है। यह बड़े प्रोडक्शन हाउस और एक्टर्स के लिए धंधा बन गया है। जो अब ओटीटी प्लेटफॉर्म पर सो-कॉल्ड स्टार्स हैं, बॉलीवुड के जाने माने फिल्म निर्माताओं ने सभी बड़े ओटीटी प्लेटफॉर्म के साथ आकर्षक सौदे किए हैं। अनलिमिटेड कंटेंट बनाने के लिए निर्माताओं को भारी कीमत मिलती है। इसकी वजह से उन्होंने कंटेंट की गुणवत्ता को भी मार दिया है।”

‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ में काम कर चुके नवाजुद्दीन का कहना है कि अब ओटीटी के शो में कोई दम नहीं रहा। उन्होंने कहा, “जब मैं उन्हें देख नहीं सकता, तो उनमें काम कैसे कर सकता हूँ। अब ओटीटी पर हमारे पास केवल सो-कॉल्ड स्टार्स हैं, जो बड़ी रकम माँग रहे हैं और ए-लिस्ट स्टार्स की तरह नखरे दिखा रहे हैं। वो भूल जाते हैं कि कंटेंट ही सब कुछ है। वो जमाना चला गया जब कंटेंट दमदार हुआ करता था। इस लॉकडाउन और डिजिटल डोमिनेशन से पहले ए-लिस्ट के सितारे 3000 सिनेमाघरों में अपनी फिल्में रिलीज करते थे। लोगों को पास उन्हें देखने के अलावा कोई और विकल्प नहीं था, लेकिन अब उनके पास कई विकल्प हैं।”

ओटीटी प्लेटफॉर्म से तौबा करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने साल 2018 में नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज ‘सेक्रेड गेम्स’ में काम कर अपने फैन्स के बीच वाहवाही लूटी थी। ‘सेक्रेड गेम्स’ को दो पार्ट में रिलीज किया गया था। यही नहीं, इस वेब सीरीज के अलावा नवाजुद्दीन सिद्दीकी सीरियस मैन, रात अकेली है और घूमकेतू में भी नजर आ चुके हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रोता हुआ आम का पेड़, आरती के समय मंदिर में देवता को प्रणाम करने वाला ताड़ का वृक्ष… वेदों से प्रेरित था जगदीश चंद्र...

छुईमुई का पौधा हमारे छूते ही प्रतिक्रिया देता है। जगदीश चंद्र बोस ने दिखाया कि अन्य पेड़-पौधों में भी ऐसा होता है, लेकिन नंगी आँखों से नहीं दिखता।

‘मौलाना साद को सौंपी जाए निजामुद्दीन मरकज की चाबियाँ’: दिल्ली HC के आदेश पर पुलिस को आपत्ति नहीं, तबलीगी जमात ने फैलाया था कोरोना

दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज की चाबी मौलाना साद को सौंपने की हिदायत दी। पुलिस ने दावा किया है कि वह फरार है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,143FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe