Saturday, July 24, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनदूरदर्शन पर अब 'शेख चिल्ली’ का हिन्दू विरोधी प्रोपेगेंडा बंद, योग का उड़ाया था...

दूरदर्शन पर अब ‘शेख चिल्ली’ का हिन्दू विरोधी प्रोपेगेंडा बंद, योग का उड़ाया था मजाक

शो के एक एपिसोड में देखा जा सकता है कि शेख चिल्ली जो एक मुस्लिम चरित्र के रूप में दर्शाया गया है, वह योग गुरुओं का मज़ाक बनाता है। एपिसोड में शेख चिल्ली, उसके दोस्त और जिन योग गुरु को योग करने की चुनौती देते हैं। निर्माता बेहद बारीकी से इस कार्टून के ज़रिए योग प्रक्रिया का दुष्प्रचार करते हैं।

सोशल मीडिया पर एक कार्टून शो का वीडियो काफी वायरल हो रहा है, जिसमें निर्माताओं ने योग और हिन्दू संतों का अपमानजनक चित्रण करके हिन्दुओं के प्रति अपनी घृणा का सार्वजनिक रूप से प्रदर्शन किया है। दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाले कार्टून शो – ‘शेख चिल्ली एंड फ्रेंड्स’ ने योग की परम्परा का मजाक बनाकर और हिन्दू संतों का अपमान करके नया विवाद खड़ा कर दिया। 

शो के एक एपिसोड में देखा जा सकता है कि शेख चिल्ली जो एक मुस्लिम चरित्र के रूप में दर्शाया गया है, वह योग गुरुओं का मज़ाक बनाता है। एपिसोड में शेख चिल्ली, उसके दोस्त और जिन योग गुरु को योग करने की चुनौती देते हैं। निर्माता बेहद बारीकी से इस कार्टून के ज़रिए योग प्रक्रिया का दुष्प्रचार करते हैं। 

निर्माता इस एपिसोड के अंत में योग गुरुओं को प्रेत/चुड़ैल (witch) के रूप में भी दर्शाते हैं। कार्यक्रम के निर्माताओं ने योग की परम्परा का अपमान करने और हिन्दू संतों का अनादर करने के लिए सरकार के संसाधनों का पर्याप्त उपयोग किया। 

क्यों शेख चिल्ली का प्रसारण दूरदर्शन पर हो रहा था

अगस्त 2020 में डिस्कवरी इंडिया के एक और चैनल डिस्कवरी किड्स ने बच्चों के लिए बनाए गए कई कार्टून शो के चुनिंदा एपिसोड्स का प्रसारण करने के लिए दूरदर्शन से समझौता किया था। समझौते के तहत एनिमेटेड शृंखला (animated series) लिटिल सिंघम, कृष्णा (kisna), शेख चिल्ली एंड फ्रेंड्स के एपिसोड सुबह 8 बजे से दूरदर्शन पर प्रसारित किए जाने लगे।

इसी दौरान प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर वेम्पती ने कहा था, “पिछले तीन महीनों में हमने महामारी के बीच दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए कुछ सबसे शानदार कार्यक्रमों का प्रसारण किया है। दूरदर्शन पर प्रसारित किए जाने वाले डिस्कवरी किड्स के कार्यक्रम उसी यात्रा का अहम पड़ाव हैं। मैं डिस्कवरी का आभारी हूँ कि वह इसके लिए आगे आए और उसने समाज की भलाई के लिए इस तरह का कंटेंट दिखाया।” 

शेख चिल्ली एंड फ्रेंड्स के को-प्रोडूसर एपसंस एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड (Apsons Entertainment Pvt Ltd) हैं, इसकी कहानी मासूम लड़के शेख चिल्ली और उसके झुनझुन नगर के दोस्तों द्वारा किए गए ‘एडवेंचर’ के इर्द-गिर्द घूमती है। वह दिल का साफ़ है लेकिन वह अक्सर अपनी हरकतों/योजनाओं से हँसी और अपने दोस्तों के लिए दिक्कतें पैदा करता है। कृष्णा के को-प्रोडूसर कॉसमॉस माया (Cosmos Maya) हैं और इसकी कहानी आनंद नगरी के लड़के और उसके प्रतिद्वंद्वी अंधेरनगरी राजा दुर्जन पर आधारित है। कृष्णा और उसके दोस्त अपनी बुद्धि और बहादुरी के ज़रिए हर समस्या हल करने का प्रयास करते हैं। 

जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ नेटिज़न्स ने दूरदर्शन की मंशा पर सवाल खड़े किए और इस तरह के हिन्दू विरोधी प्रोपेगेंडा का प्रसारण करने के लिए जम कर निंदा की। 

एक यूज़र ने ज़िक्र किया कि किस तरह हिन्दू संतों का मज़ाक बनाया जा रहा है, जो कि अस्वीकार्य है और दूरदर्शन को इस मामले पर संज्ञान लेना चाहिए। 

एक और यूज़र ने लिखा कि लोग एक झूठे जिन के दावों पर भरोसा करना चाहते हैं या कालांतर में जाँची परखी गई पवित्र योग प्रक्रिया का। 

हिन्दू विरोधी प्रोपेगेंडा से दुखी होकर लेखक और स्तंभकार रेनी लिन (renee lynn) ने इशारा किया कि डीडी नेशनल पर बच्चों को दिखाया जा रहा है, ‘मुस्लिम लड़का सन्यासी को पीट रहा है।’ उन्होंने यह भी कहा कि वीडियो हिन्दुओं के प्रति घृणा फैला रहा है। 

इसके बाद उन्होंने यह भी पूछा कि हमेशा हिन्दुओं को ही क्यों निशाना बनाया जाता है। 

एक और चिंतित हिन्दू ने बच्चों के सामने पेश किए जाने वाले इस नफ़रत भरे कार्टून पर रोष जताया। व्यक्ति ने माँग उठाई कि प्रसार भारती के जिन अधिकारियों ने इस कार्टून के प्रसारण को हरी झंडी दिखाई उस पर कार्रवाई होनी चाहिए और इस कार्टून के निर्माताओं को भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए। 

हिन्दूफ़ोबिक एपिसोड के वायरल होने पर प्रसार भारती ने लगाई रोक

शेख चिल्ली के हिन्दूफ़ोबिक एपिसोड के वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर काफी विरोध हुआ, जिसके बाद ऑपइंडिया ने प्रसार भारती में मौजूद सूत्रों से संपर्क करने का प्रयास किया। ऑपइंडिया ने पूछा कि बच्चों के शो पर इस तरह के सवाल खड़े होने के बाद प्रसार भारती क्या कार्रवाई करेगा। 

इसके बाद सूत्रों ने ऑपइंडिया को बताया कि लॉकडाउन में बच्चों के लिए शुरू किए गए शो शेख चिल्ली का दूरदर्शन पर प्रसारण नहीं किया जाएगा। यह भी बताया गया कि तमाम निजी प्रसारकों ने दूरदर्शन पर निशुल्क (gratis) आधार पर शेख चिल्ली के अलावा छोटा भीम जैसे कई कार्टून प्रसारित किए थे। क्योंकि शेख चिल्ली में दिखाई गई बात बेशक ऐसी नहीं थी जो बच्चों के सामने रखी जाती इसलिए इसके प्रसारण पर पाबंदी लगा दी गई।  

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

UP में सपा-AIMIM का मुस्लिम डिप्टी CM, मायावती का ब्राह्मण प्रेम और राहुल गाँधी को पसंद नहीं ‘अमेठी’ के आम: 2022 की तैयारी

राहुल गाँधी ने कहा कि उन्हें यूपी के आम का स्वाद पसंद नहीं। उन्होंने कहा कि उन्हें आंध्र प्रदेश के आम पसंद हैं। ओवैसी ने सपा को दिया गठबंधन का ऑफर।

वाराणसी का दुर्गा कुंड मंदिर: आदिकाल के 3 मंदिरों में से एक, जहाँ माँ दुर्गा के विरोधियों के रक्त से हुआ कुंड का निर्माण

आदिकाल में वाराणसी में 3 प्रमुख मंदिर थे, काशी विश्वनाथ, अन्नपूर्णा मंदिर और दुर्गा कुंड। महादेव की इस नगरी में माँ दुर्गा आदि शक्ति के...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,924FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe