Thursday, May 30, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजननेहरू-गाँधी परिवार पर आपत्तिजनक टिप्पणी: पायल रोहतगी के खिलाफ पुणे में FIR, कॉन्ग्रेस नेताओं...

नेहरू-गाँधी परिवार पर आपत्तिजनक टिप्पणी: पायल रोहतगी के खिलाफ पुणे में FIR, कॉन्ग्रेस नेताओं ने दर्ज कराया मामला

पायल रोहतगी का एक वीडियो भी खूब वायरल हुआ था, जिसमें वह बता रही हैं कि मोतीलाल नेहरू की पाँच पत्नियाँ थीं, जिनमें एक नौकरानी भी शामिल थीं।

अभिनेत्री पायल रोहतगी के खिलाफ महाराष्ट्र के पुणे में FIR दर्ज की गई है। आरोप है कि उन्होंने महात्मा गाँधी के अलावा देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी और राजीव गाँधी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। आरोप है कि उन्होंने इनके लिए आपत्तिजनक शब्द भी इस्तेमाल किए। पायल रोहतगी के एक वीडियो को लेकर ये मामला दर्ज किया गया है, जो उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया था।

उनके खिलाफ ‘भारतीय पैनल कोड’ की धाराओं 153(a) (लिखित या मौखिक रूप से ऎसा बयान जिससे साम्प्रदायिक दंगा या तनाव फैलता है या समुदायों के बीच शत्रुता पनपती है), 500 (किसी की मानहानि करना), 505(2) (विभिन्न समुदायों के बीच शत्रुता, घॄणा या वैमनस्य की भावनाएँ पैदा करने के आशय से असत्य कथन, जनश्रुति, आदि, परिचालित करना) और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

शिवाजी नगर पुलिस थाने में ‘पुणे सिटी कॉन्ग्रेस कमिटी’ के पदाधिकारियों ने ये मामला दर्ज करवाया है। पार्टी के सिटी प्रवक्ता रमेश अय्यर ने कहा कि उन्हें एक पोस्ट मिला है, जो हाल ही का लगता है और इसमें पायल रोहतगी ने गाँधी-नेहरू परिवार को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणियाँ की हैं। साइबर क्राइम सेल के समक्ष इस मामले में शिकायत दी गई थी। पुलिस का कहना है कि 36 वर्षीय अभिनेत्री के खिलाफ जाँच चल रही है।

बता दें कि 2019 में भी पायल रोहतगी ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और जवाहरलाल नेहरू के पिता पंडित मोतीलाल नेहरू को लेकर एक एक विवादित ट्वीट किया था। इसी ट्वीट को लेकर राजस्थान यूथ कॉन्ग्रेस के नेता चर्मेश शर्मा की तहरीर पर पायल रोहतगी के खिलाफ आईटी एक्ट की धारा 66 और 67 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया था। उनका एक वीडियो भी खूब वायरल हुआ था, जिसमें वह बता रही हैं कि मोतीलाल नेहरू की पाँच पत्नियाँ थीं।

उन्होंने यह दावा प्रधानमंत्री नेहरू के निजी सचिव रहे एमओ मथाई की जीवनी का हवाला देते हुए किया था। पायल के मुताबिक, यह जीवनी एडिना रामकृष्ण ने लिखी है और उन्होंने इसमें कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। वीडियो में पायल ने बताया था कि स्वरूप रानी नेहरू उनकी लीगल वाईफ यानी वैध बीवी थीं मगर इसके अलावा उनकी चार और बीवियाँ भी थीं जिसमें थुस्सू रहमानबाई, श्रीमती मंजरी, एक ईरानी महिला और एक नौकरानी शामिल थीं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

बाँटने की राजनीति, बाहरी ताकतों से हाथ मिला कर साजिश, प्रधान को तानाशाह बताना… क्या भारतीय राजनीति के ‘बनराकस’ हैं राहुल गाँधी?

पूरब-पश्चिम में गाँव को बाँटना, बाहरी ताकत से हाथ मिला कर प्रधान के खिलाफ साजिश, शांति समझौते का दिखावा और 'क्रांति' की बात कर अपने चमचों को फसलना - 'पंचायत' के भूषण उर्फ़ 'बनराकस' को देख कर आपको भारत के किस नेता की याद आती है?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -