Tuesday, October 19, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनगुंजन सक्सेना में दिखाया भारतीय वायु सेना की खराब इमेज: नहीं सुधर रहा बॉलीवुड,...

गुंजन सक्सेना में दिखाया भारतीय वायु सेना की खराब इमेज: नहीं सुधर रहा बॉलीवुड, IAF ने दागा लेटर

गुंजन सक्सेना मतलब श्रीदेवी की बेटी जाह्णवी कपूर (बॉलीवुड में नेपोटिजम) के स्क्रीन कैरेक्टर को महिमामंडित करने के लिए फिल्म में जबरन ऐसी परिस्थितियाँ प्रस्तुत की गईं, जो वायु सेना की कार्य संस्कृति के विपरीत है।

भारतीय वायु सेना वो संस्था है, जहाँ पुरुष और महिला दोनों को समान अवसर प्रदान किया जाता है। लेकिन बॉलीवुड को इससे क्या मतलब! वो तो धनबाद की कहानी में भी स्विट्जरलैंड घुसाता आया है। ठीक वैसे ही तड़का लगाने के लिए इंडियन एयर फोर्स की कहानी गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल (Gunjan Saxena: The Kargil Girl) में भी मसाला डाल दिया।

गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल (Gunjan Saxena: The Kargil Girl) में ‘अनुचित नकारात्मक चित्रण’ को लेकर भारतीय वायु सेना ने केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड से लिखित शिकायत की है। श्रीदेवी की बेटी जाह्णवी कपूर की फिल्म ‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ आज नेटफ्लिक्स पर रिलीज हो रही है।

इंडियन एयर फोर्स ने सेंसर बोर्ड को लिखे अपने पत्र में बातें साफ-साफ समझाईं। IAF के अनुसार, “नेटफ्लिक्स और धर्मा प्रोडक्शंस ने भारतीय वायु सेना का प्रतिनिधित्व प्रामाणिकता के साथ करने की सहमति व्यक्त की थी ताकि यह फिल्म अगली पीढ़ी को वायु सेना में जॉइन करने के लिए प्रेरित करने में मदद करती।”

IAF के अनुसार जब फिल्म का ट्रेलर हाल ही में जारी किया गया, तो यह देखा गया कि इसमें भारतीय वायुसेना को अनुचित ढंग से नकारात्मक तरह से दिखाया गया है। गुंजन सक्सेना मतलब श्रीदेवी की बेटी जाह्णवी कपूर (बॉलीवुड में नेपोटिजम) के स्क्रीन कैरेक्टर को महिमामंडित करने के लिए फिल्म में जबरन ऐसी परिस्थितियाँ प्रस्तुत की गईं, जो वायु सेना की कार्य संस्कृति के विपरीत है।

गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल (Gunjan Saxena: The Kargil Girl) में यह दिखाया गया है कि इंडियन एयर फोर्स पुरुष और महिला में फर्क किया जाता है। जबकि वास्तविकता में ऐसा कुछ भी नहीं है। इसी को लेकर IAF ने केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सेंसर बोर्ड) को पत्र लिख कर आपत्ति जताई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe