Sunday, August 1, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनस्वरा भास्कर ने कंगना को लेकर फैलाया झूठ, आइटम नंबर पर कसा तंज: भंसाली...

स्वरा भास्कर ने कंगना को लेकर फैलाया झूठ, आइटम नंबर पर कसा तंज: भंसाली और खान के नाम से मिला करारा जवाब

"मुझे संजय लीला भंसाली और फराह खान ने आइटम नंबर का ऑफर दिया था लेकिन मैंने ठुकरा दिया। पीछे हटो बी ग्रेड भेड़ियों, अगर ये डायरेक्टर्स तुम्हें ऐसा ऑफर देंगे, तो तुम लपक कर ये ऑफर स्वीकार कर लोगे।"

लिबरल्स की एक बड़ी जमात अक्सर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ दुष्प्रचार में जुटी रहती है। हाल ही में कंगना ने ऐलान किया कि उन्होंने कभी कोई आइटम नंबर नहीं किया। इस पर स्वरा भास्कर ने एक फ़ेक न्यूज़ साझा की, जिसे आधार बना कर मुख्यधारा की मीडिया (मेनस्ट्रीम मीडिया) ने कंगना को निशाना बनाना शुरू कर दिया। 

स्वरा भास्कर ने दावा किया कि कंगना ‘रज्जो’ फिल्म के आइटम नंबर ‘जुल्मी रे जुल्मी’ में नज़र आई थीं। स्वरा ने तंज करते हुए लिखा, “रज्जो फिल्म के इस आइटम नंबर में तुम्हारा डांस बहुत पसंद आया था। तुम शानदार परफ़ॉर्मर और अद्भुत डांसर हो, तुम्हारे अगले (आइटम नंबर) का इंतज़ार है।”

(साभार : ट्विटर)

मुख्यधारा की मीडिया ने इस मौके को भुनाने में ज़रा भी देरी नहीं की। मीडिया के मुताबिक़ स्वरा ने कंगना को ‘करारा जवाब’ दिया। इसमें हिन्दुस्तान टाइम्स से लेकर द क्विंट तक शामिल थे। ऐसे प्रतिष्ठित मीडिया समूहों ने घनघोर वामपंथी और कथित अभिनेत्री के दावों की पुष्टि करना तक ज़रूरी नहीं समझा।

इसे देख कर ऐसा लगा, जैसे मीडिया स्वरा भास्कर के झूठे और आधारविहीन दावों का पक्ष लेने के लिए उतावला था।  

जबकि सच्चाई कुछ और ही है! असल में यह गाना ‘आइटम नंबर’ है ही नहीं। कंगना रनौत ने रज्जो फिल्म में मुख्य किरदार की भूमिका निभाई थी। फिल्म में उनका किरदार ‘रज्जो’ एक डांसर का ही होता है। ये स्वरा भास्कर के दावे से अलग था, गाने में डांस कहानी के अनुरूप रखा गया था यानी कि वो आइटम नंबर नहीं था। 

फिल्मों में आइटम नंबर की भूमिका स्पष्ट होती है। उनका फिल्म की कहानी से कम ही सरोकार होता है। लेकिन जब फिल्म का किरदार कहानी के प्लॉट की ज़रूरत के हिसाब से किसी गाने में नाचता है, तो वह आइटम नंबर की श्रेणी में नहीं आ सकता है।

बॉलीवुड इंडस्ट्री से होने के नाते स्वरा भास्कर से इतनी उम्मीद की जाती है कि उन्हें इतना तो पता ही होगा। लेकिन ‘करारा जवाब’ देने की तलब में स्वरा ने इतनी बड़ी भूल कर दी। इसके बाद मीडिया कई कदम और आगे बढ़ गया। इन दावों की तस्दीक किए बिना स्वरा के बात को बढ़ावा देना शुरू कर दिया।    

इसके अलावा कंगना ने स्वरा भास्कर का जवाब देते हुए कहा था, “मुझे संजय लीला भंसाली और फराह खान ने आइटम नंबर का ऑफर दिया था लेकिन मैंने ठुकरा दिया था। इसके बाद तमाम ए लिस्टर्स रातों रात सेंसेशन बन गए थे। मैं आज जो कुछ भी हूँ, उसके लिए बहुत कुछ दाँव पर लगाया है। पीछे हटो बी ग्रेड भेड़ियों, अगर ये डायरेक्टर्स तुम्हें ऐसा ऑफर देंगे, तो तुम लपक कर ये ऑफर स्वीकार कर लोगे।”    

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मस्जिद के सामने जुलूस निकलेगा, बाजा भी बजेगा’: जानिए कैसे बाल गंगाधर तिलक ने मुस्लिम दंगाइयों को सिखाया था सबक

हिन्दू-मुस्लिम दंगे 19वीं शताब्दी के अंत तक महाराष्ट्र में एकदम आम हो गए थे। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक इससे कैसे निपटे, आइए बताते हैं।

मानसिक-शारीरिक शोषण से धर्म परिवर्तन और निकाह गैर-कानूनी: हिन्दू युवती के अपहरण-निकाह मामले में इलाहाबाद HC

आरोपित जावेद अंसारी ने उत्तर प्रदेश में 'लव जिहाद' के खिलाफ बने कानून के तहत हो रही कार्रवाई को रोकने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट का रुख किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,404FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe