Sunday, June 16, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनतैमूर और जहाँगीर… ये नाम हमें पसंद हैं, ये खूबसूरत नाम हैं: करीना कपूर...

तैमूर और जहाँगीर… ये नाम हमें पसंद हैं, ये खूबसूरत नाम हैं: करीना कपूर ने उन पर निकाली भड़ास, जिन्हें ‘इस्लामी आक्रांता’ नापंसद

जिन लोगों के लिए करीना कपूर ने अपना यह बयान जारी किया है। वह बस करीना से बस यही पूछते हैं कि आखिर बच्चों के नामों का चुनाव ऐसे इस्लामी आक्रांताओं पर क्यों है जिन्होंने सैंकड़ों लोगोंं को मरवाया।

बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर लंबे समय से अपने बच्चों के नाम के कारण चर्चा में हैं। अक्सर नेटिजन्स सवाल खड़ा करते हैं कि तैमूर और जहाँगीर जैसे इस्लामी आक्रांताओं के नामों पर बच्चों का नाम रखने का क्या मतलब? अब इसी मुद्दे पर करीना ने मुँह खोला है। उन्होंने एक ब्रिटिश न्यूजपेपर से बात करते हुए कहा कि उन्हें ट्रोलिंग का कारण समझ नहीं आता। उन्हें बस नाम पसंद थे तो अपने बच्चों के लिए रख दिया।

ब्रिटिश न्यूजपेपर को एक्ट्रेस न कहा, “सच बताऊँ, ये वो नाम हैं जो हमको पसंद है। इसके अलावा और कुछ नहीं। यह खूबसूरत नाम हैं और वो खूबसूरत लड़के हैं। ये बात नहीं जानती कि आखिर क्यों लोग बच्चों को ट्रोल करते हैं। मुझे बुरा लगता है लेकिन मैं अपने काम पर ध्यान लगाना चाहती हूँ। मैं अपनी जिंदगी ट्रोल्स के हिसाब से नहीं जी सकती।”

करीना से जब पूछा गया कि क्या वह भारत में धार्मिक तौर पर हो रहे ध्रुवीकण को लेकर चिंतित हैं क्योंकि इसी माहौल में उनके बच्चे बढ़ रहे हैं तो उन्होंने कहा, “कृपया मुझसे ऐसे सवाल मत करिए। आपको मालूम है कि यहाँ पर सब कुछ कैसा है। ये सब बहुत कॉम्प्लिकेटेड है।”

बता दें कि जिनको ट्रोल बताते हुए करीना कपूर ने भड़ास निकाली है वे बस यही पूछते हैं कि आखिर बच्चों के नामों का चुनाव ऐसे इस्लामी आक्रांताओं पर क्यों है जिन्होंने सैंकड़ों लोगोंं को मरवाया। मालूम हो कि करीना-सैफ के बड़े बेटे का नाम तैमूर है। इतिहास में तैमूर एक तुर्क-मंगोल आक्रांता था, जिसने भारत आकर सैकड़ों लोगों को मौत के घाट उतार दिया था और भारी लूटपाट मचाई थी। महिलाओं की इज्जत के साथ खिलवाड़ किया गया था और बच्चों तक को नहीं बख्शा गया था। इसीलिए, लोगों ने बेटे का तैमूर नाम रखने पर सैफ अली खान व करीना कपूर को आड़े हाथों लिया था। दोनों ने अपने इस फैसले का बचाव भी किया था।

इसी तरह उन्होंने दूसरे बेटे का नाम जहाँगीर रखा है। शुरू में खबर आई थी कि बच्चे का नाम ‘जेह (Jeh)’ रखा गया है, लेकिन बाद में खुलासा हुआ कि ‘जहाँगीर’ का ही शॉर्ट फॉर्म ‘जेह’ था। बताते चलें कि जहाँगीर एक मुग़ल आक्रांता था, जिसने सिखों के पाँचवें गुरु अर्जुन सिंह की हत्या करवाई थी। वो एक क्रूर बादशाह था। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भाजपा विधायक T राजा सिंह हैदराबाद में गिरफ्तार: हमले के शिकार गोरक्षकों से जा रहे थे मिलने, आरोप- मूकदर्शक बनी रही थी तेलंगाना पुलिस

तेलंगाना के मेडक में गौ रक्षा कर रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले में 2 लोग घायल। मिलने जा रहे भाजपा विधायक टी राजा सिंह गिरफ्तार।

बाबरी अब मस्जिद नहीं ‘ढाँचा’, राम मंदिर ‘राष्ट्रीय गर्व’, अयोध्या ‘पवित्र स्थल’: NCERT ने 12वीं की किताब में किया बदलाव, सुप्रीम कोर्ट के फैसले...

अयोध्या को भारत के सबसे पवित्र स्थलों में से एक बताया गया है। राम जन्मभूमि को 'राष्ट्रीय गर्व' लिखा गया है। सन् 1528 में इसे तोड़ कर यहाँ ढाँचा बना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -