Sunday, September 19, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनतैमूर और जहाँगीर… ये नाम हमें पसंद हैं, ये खूबसूरत नाम हैं: करीना कपूर...

तैमूर और जहाँगीर… ये नाम हमें पसंद हैं, ये खूबसूरत नाम हैं: करीना कपूर ने उन पर निकाली भड़ास, जिन्हें ‘इस्लामी आक्रांता’ नापंसद

जिन लोगों के लिए करीना कपूर ने अपना यह बयान जारी किया है। वह बस करीना से बस यही पूछते हैं कि आखिर बच्चों के नामों का चुनाव ऐसे इस्लामी आक्रांताओं पर क्यों है जिन्होंने सैंकड़ों लोगोंं को मरवाया।

बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर लंबे समय से अपने बच्चों के नाम के कारण चर्चा में हैं। अक्सर नेटिजन्स सवाल खड़ा करते हैं कि तैमूर और जहाँगीर जैसे इस्लामी आक्रांताओं के नामों पर बच्चों का नाम रखने का क्या मतलब? अब इसी मुद्दे पर करीना ने मुँह खोला है। उन्होंने एक ब्रिटिश न्यूजपेपर से बात करते हुए कहा कि उन्हें ट्रोलिंग का कारण समझ नहीं आता। उन्हें बस नाम पसंद थे तो अपने बच्चों के लिए रख दिया।

ब्रिटिश न्यूजपेपर को एक्ट्रेस न कहा, “सच बताऊँ, ये वो नाम हैं जो हमको पसंद है। इसके अलावा और कुछ नहीं। यह खूबसूरत नाम हैं और वो खूबसूरत लड़के हैं। ये बात नहीं जानती कि आखिर क्यों लोग बच्चों को ट्रोल करते हैं। मुझे बुरा लगता है लेकिन मैं अपने काम पर ध्यान लगाना चाहती हूँ। मैं अपनी जिंदगी ट्रोल्स के हिसाब से नहीं जी सकती।”

करीना से जब पूछा गया कि क्या वह भारत में धार्मिक तौर पर हो रहे ध्रुवीकण को लेकर चिंतित हैं क्योंकि इसी माहौल में उनके बच्चे बढ़ रहे हैं तो उन्होंने कहा, “कृपया मुझसे ऐसे सवाल मत करिए। आपको मालूम है कि यहाँ पर सब कुछ कैसा है। ये सब बहुत कॉम्प्लिकेटेड है।”

बता दें कि जिनको ट्रोल बताते हुए करीना कपूर ने भड़ास निकाली है वे बस यही पूछते हैं कि आखिर बच्चों के नामों का चुनाव ऐसे इस्लामी आक्रांताओं पर क्यों है जिन्होंने सैंकड़ों लोगोंं को मरवाया। मालूम हो कि करीना-सैफ के बड़े बेटे का नाम तैमूर है। इतिहास में तैमूर एक तुर्क-मंगोल आक्रांता था, जिसने भारत आकर सैकड़ों लोगों को मौत के घाट उतार दिया था और भारी लूटपाट मचाई थी। महिलाओं की इज्जत के साथ खिलवाड़ किया गया था और बच्चों तक को नहीं बख्शा गया था। इसीलिए, लोगों ने बेटे का तैमूर नाम रखने पर सैफ अली खान व करीना कपूर को आड़े हाथों लिया था। दोनों ने अपने इस फैसले का बचाव भी किया था।

इसी तरह उन्होंने दूसरे बेटे का नाम जहाँगीर रखा है। शुरू में खबर आई थी कि बच्चे का नाम ‘जेह (Jeh)’ रखा गया है, लेकिन बाद में खुलासा हुआ कि ‘जहाँगीर’ का ही शॉर्ट फॉर्म ‘जेह’ था। बताते चलें कि जहाँगीर एक मुग़ल आक्रांता था, जिसने सिखों के पाँचवें गुरु अर्जुन सिंह की हत्या करवाई थी। वो एक क्रूर बादशाह था। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,067FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe