Tuesday, September 28, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन'कानून से ऊपर कोई नहीं': कोर्ट में पेश न होने पर हनी सिंह को...

‘कानून से ऊपर कोई नहीं’: कोर्ट में पेश न होने पर हनी सिंह को फटकार, पत्नी शालिनी तलवार ने लगाए थे घरेलू हिंसा के आरोप

अदालत ने कहा है कि 'यो यो हनी सिंह' 3 सितंबर, 2021 को साढ़े 12 बजे कोर्ट में हाजिरी दें। उनके वकीलों से नाराज़गी जताते हुए अदालत ने कहा कि कानून से ऊपर कोई नहीं है।

गायक हृदेश सिंह उर्फ़ ‘यो यो हनी सिंह’ के खिलाफ उनकी पत्नी शालिनी तलवार ने घरेलू हिंसा के आरोप लगाए थे, जिसके बाद ये मामला अदालत में चल रहा है। इस मामले में शनिवार (28 अगस्त, 2021) को हनी सिंह को तीस हजारी कोर्ट के समक्ष अदालत में पेश होना था, लेकिन लगातार दूसरी बार वो सुनवाई के दौरान अनुपस्थित रहे। कोर्ट ने उनके इस रवैये पर उन्हें फटकार लगाई है।

अदालत ने कहा है कि ‘यो यो हनी सिंह’ 3 सितंबर, 2021 को साढ़े 12 बजे कोर्ट में हाजिरी दें। उनके वकीलों से नाराज़गी जताते हुए अदालत ने कहा कि कानून से ऊपर कोई नहीं है। साथ ही अदालत ने इस बात से भी हैरानी जताई कि हनी सिंह इस मामले को इतने हल्के में ले रहे हैं। हनी सिंह के वकीलों ने अपने मुवक्किल के तबीयत खराब होने की बात कही थी। उन्हें बुखार होने का दावा करते हुए सुनवाई की अगली तारीख़ माँगी गई थी।

इससे पहले अदालत ने हनी सिंह का मेडिकल रिपोर्ट और उनकी आईटी रिपोर्ट भी तलब की थी। वकील ने कहा कि इन दोनों रिपोर्ट्स को जल्द से जल्द कोर्ट को सौंपा जाएगा। ‘द प्रोटेक्शन ऑफ वुमन फ्रॉम डोमेस्टिक वायलेंस एक्ट’ के तहत मामला दर्ज कराते हुए उनकी पत्नी ने उन पर शारीरिक-मानसिक उत्पीड़न के अलावा आर्थिक व यौन शोषण के आरोप भी लगाए हैं। दोनों की शादी 2011 में हुई थी।

तलवार का कहना है कि पिछले कुछ सालों में उनसे साथ कई बार मारपीट हुई। वह लगातार डर में जी रही थीं। उनके वकीलों ने बताया था कि मानसिक तौर पर शोषण होने के कारण शालिनी डिप्रेशन में हैं और दवाई लेती हैं। अपनी याचिका में तलवार ने बताया था कि कैसे उनके साथ जानवरों सा बर्ताव हुआ और उनके पति ने उन्हें धोखा दिया। शालिनी तलवार का आरोप है कि उनका पति कई अलग-अलग महिलाओं के साथ सेक्स करता है, अपनी शादी की अंगूठी नहीं पहनता है और शादी की तस्वीरें जारी करने पर मारता है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe