Wednesday, June 19, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनकमरे में 100 मर्द, चूहे की तरह दुबका वो, सिक्स पैक: पूजा भट्ट ने...

कमरे में 100 मर्द, चूहे की तरह दुबका वो, सिक्स पैक: पूजा भट्ट ने सुनाए जवानी के किस्से, टिंडर स्वाइप राइड में डेटिंग-सिंगल लाइफ सब पर की बात

एक्ट्रेस ने कहा, "भारत में डेटिंग निश्चित रूप से पिछले कुछ वर्षों में विकसित हुई है। आज के युवाओं के डेटिंग नियम देखना बेहद खास है। इस तरह के प्लेटफॉर्म होने से महिलाएँ प्यार और रिश्तों पर चर्चा करती हैं और अपनी पसंद के बारे में खुलकर बताती हैं।"

बॉलीवुड अभिनेत्री और फिल्म निर्माता पूजा भट्ट (Pooja Bhatt) नई पीढ़ी के डेटिंग नियमों से काफी प्रभावित हैं। एक्ट्रेस ने नई पीढ़ी के डेटिंग नियमों और भारत में पिछले कुछ वर्षों में डेटिंग कैसे विकसित हुआ है इसको लेकर टिंडर इंडिया की स्वाइप राइड विद कुशा कपिला पर अपने अनुभव साझा किए।

दरअसल, दुनिया का सबसे लोकप्रिय डेटिंग ऐप टिंडर स्वाइप राइड के साथ वापस आ गया है। एक्ट्रेस कुशा कपिला इसे होस्ट कर रही हैं। यह एक ऐसा शो है, जिसमें भारतीय महिलाएँ अपने डेटिंग जीवन से वास्तव में क्या चाहती हैं, इसके बारे में बात करता है। एक्ट्रेस ने कहा, “भारत में डेटिंग निश्चित रूप से पिछले कुछ वर्षों में विकसित हुई है। आज के युवाओं के डेटिंग नियम देखना बेहद खास है। इस तरह के प्लेटफॉर्म होने से महिलाएँ प्यार और रिश्तों पर चर्चा करती हैं और अपनी पसंद के बारे में खुलकर बताती हैं।”

टिंडर इंडिया की स्वाइप राइड विद कुशा कपिला पर बोलते हुए, पूजा ने कहा, “अब मेरी सोच पहले से विकसित हो गई है…मुझे नहीं लगता कि मेरा कोई टाइप है। लेकिन जब मैं 20’s में जवान थी, तब का मुझे कोई भी पछतावा नहीं है। कोई पछतावा नहीं है मुझे बिंदास जीने का। मेरे अंदर इतनी क्षमता थी कि मैं 100 मर्दों से भरे कमरे में चली जाती थी। अगर उनमें 99 सामान्य हों और कोई एक चूहे की तरह दुबका हो तो मैं सीधे उसके पास जाती थी और उसे सहज करती थी।”

उन्होंने आगे कहा, “मैं अभी सिंगल हूँ और अकेले ही जीवन का आनंद का आनंद ले रही हूँ। मुझे लगता है कि प्यार जीवन है और जीवन प्यार है। इसके बिना आपका कोई अस्तित्व नहीं। लेकिन मुझे केवल सिक्स-पैक में दिलचस्पी है, जो एक आदमी के दो कानों के बीच है।”

बता दें कि पूजा ने 17 साल की उम्र में डैडी (1989) से अभिनय की शुरुआत की। उन्होंने दिल है के मानता नहीं, सड़क, जुनून, जानम, फिर तेरी कहानी याद आई, सर, गुनेघर, बॉर्डर और ज़ख्म जैसी कई फिल्मों में अभिनय किया। इसके बाद उन्होंने अपने निर्देशन की दुनिया ​में कदम रखा। इसकी शुरुआत उन्होंने पाप (2004) के साथ की थी।

गौरतलब है कि पूजा भट्ट ने मनीष मखीजा से साल 2003 में शादी की थी लेकिन शादी के 11 साल बाद यानी 2014 में दोनों एक दूसरे अलग हो गए थे। उस समय उन्होंने ट्वीट कर बताया था, “मैं अपनी शर्तों पर जीवन जीना चुनती हूँ और सबके सामने दिखावा करने से इंकार करती हूँ। सर्टिफिकेट न तो शादी बनाते हैं और न उन्हें तोड़ते हैं। जिंदगी करती हैं। हर किसी के लिए जो इस बात की परवाह करते हैं और खासकर मेरे और मेरे पति मुन्ना के 11 साल बाद अलग होने पर पर बात कर रहे हैं… हमारा अलग होना सहमति से है। हम हमेशा एक दूसरे का सम्मान रखते हैं। लेकिन इसका कारण मैं समझती हूँ कि हम पब्लिक डोमेन में हैं। हमारे दोस्त, शुभचिंतक और दुश्मन सारे के सारे अटकलें लगाने के लिए स्वतंत्र हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अच्छा! तो आपने मुझे हराया है’: विधानसभा में नवीन पटनायक को देखते ही हाथ जोड़ कर खड़े हो गए उन्हें हराने वाले BJP के...

विधानसभा में लक्ष्मण बाग ने हाथ जोड़ कर वयोवृद्ध नेता का अभिवादन भी किया। पूर्व CM नवीन पटनायक ने कहा, "अच्छा! तो आपने मुझे हराया है?"

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -