Monday, August 15, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनन्यूड वीडियो लीक होने पर राधिका आप्टे घर से 4-5 दिनों तक नहीं निकली...

न्यूड वीडियो लीक होने पर राधिका आप्टे घर से 4-5 दिनों तक नहीं निकली थीं, कहा, ‘मेरे ड्राइवर, वॉचमैन तक पहचान गए थे’

"पॉर्च्ड" फिल्म में न्यूड होने को लेकर राधिका आप्टे का कहना है, "ये आसान नहीं था। स्क्रीन पर न्यूड होना काफी डरावना था..''

बोल्ड किरदारों के जरिए बॉलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनाने वाली अभिनेत्री राधिका आप्टे का कुछ समय पहले एक न्यूड वीडियो लीक हुआ था, जिसे लेकर वह काफी विवादों में भी रही थीं। राधिका ने अपने एक हालिया इंटरव्यू में राधिका ने अपने उस लीक हुए न्यूड वीडियो को लेकर कहा कि उस घटना के बाद वह एकदम से टूट गई थीं और चार-पाँच दिनों तक घर से बाहर नहीं निकलीं।

ग्रैजिया मैग्जीन को दिए इंटरव्यू में राधिका कहती हैं कि उनके न्यूड वीडियो में उन्हें उनके ड्राइवर से लेकर वॉचमैन तक पहचान गए थे, जिसका उन पर बहुत ही बुरा असर हुआ था। राधिका ने कहा कि वह मीडिया की वजह से नहीं बल्कि इसलिए घर से बाहर नहीं निकल सकीं क्योंकि उन्हें तस्वीरों में उनके ड्राइवर, वॉचमैन और स्टाइलिस्ट के ड्राइवर तक ने पहचान लिया था।

उस दौर को याद करते हुए राधिका कहती हैं कि जिस वक्त उनके साथ ये हादसा हुआ, उस दौरान वे “क्लीन शेव” मूवी की शूटिंग कर रही थीं।

कपड़े उतारे तो लगा कि अब छुपाने के लिए कुछ बचा ही नहीं

राधिका ने कहा कि उन विवादित फोटोज को देखकर सभी पहचान सकते थे कि वो मैं नहीं थी। एक्ट्रेस को लगता है कि इन न्यूड वीडियोज और कंट्रोवर्सी के बारे में सोचना समय की बर्बादी है। वह कहती हैं कि जब उन्होंने “पार्च्ड” फिल्म के लिए अपने कपड़े उतारे तो उन्हें इस बात का अहसास हुआ कि अब उनके पास छुपाने के लिए कुछ भी नहीं है।

“पॉर्च्ड” फिल्म में न्यूड होने को लेकर राधिका आप्टे का कहना है, “ये आसान नहीं था। स्क्रीन पर न्यूड होना काफी डरावना था, क्योंकि उस दौरान वो अपनी बॉडी इमेज की समस्या से जूझ रही थीं। हालाँकि, अब वो कहीं भी न्यूड हो सकती हैं।”

अपनी बॉडी शेप पर गर्व

राधिका आप्टे ने अपनी बॉडी, शेप और साइज पर गर्व करते हुए कहा कि फिल्म “पार्च्ड” को कई जगहों पर देखा गया और मेरे काम को सराहा भी गया। बॉलीवुड में आपको हमेशा आपके शरीर के साथ क्या करना है इसकी सलाह दी जाती है? लेकिन मैंने सोच रखा है कि मैं अपने शरीर के साथ कुछ भी नहीं करूँगी। गौरतलब है कि हाल ही में आप्टे की “ओके कम्प्यूटर” फिल्म रिलीज हुई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वतंत्रता के हुए 75 साल, फिर भी बाँटी जा रही मुफ्त की रेवड़ी: स्वावलंबन और स्वदेशी से ही आएगी आर्थिक आत्मनिर्भरता

जब हम यह मानते हैं कि सत्य की ही जय होती है तब ईमानदार सत्यवादी देशभक्त नेताओं और उनके समर्थकों को ईडी आदि से भयभीत नहीं होना चाहिए।

जालौर में इंद्र मेघवाल की मौत: मृतक की जाति वाले टीचर ने नकारा भेदभाव, स्कूल में 8 में से 5 स्टाफ SC/ST

जालौर में इंद्र मेघवाल की मौत पर दावा कि आरोपित हेडमास्टर ने मटकी से पानी पीने पर मारा, जबकि अन्य लोगों का कहना है कि वहाँ कोई मटकी नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,900FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe