Wednesday, June 29, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनक्या सुशांत सिंह को मारने के लिए किया गया स्टन गन का प्रयोग? सुब्रमण्यम...

क्या सुशांत सिंह को मारने के लिए किया गया स्टन गन का प्रयोग? सुब्रमण्यम स्वामी ने की NIA जाँच की माँग

''आज मैंने स्टन गन के बारे में पढ़ा और यह भी जाना कि इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है। यह भी देखा कि इनसे किस तरह के निशान शरीर पर पड़ते हैं। एकदम वैसे ही निशान हैं भाइयों (जैसे सुशांत की बॉडी पर थे)। उन लोगों ने पैरालाइज्ड करने के लिए स्टन गन का ही इस्तेमाल किया।''

सुशांत सिंह राजपूत की मौत को दो महीने बीतने वाले हैं। हर दिन कोई नई थ्योरी सामने आती है, जिसमें मौत की वजह का अंदाजा लगाया जाता है। अब स्टन गन थ्योरी सामने आई है, जिसे एक यूजर ने सोशल मीडिया पर डाला। वहीं इस थ्योरी को मद्देनजर रखते हुए बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सुशांत सिंह राजपूत मृत्यु मामले की एनआईए जाँच की माँग की है।

दरअसल, उन्होंने एक फैंन के ट्वीट को देखने के बाद इस बात की आशंका जताई है कि एक्टर की मृत्यु फाँसी लगाने से नहीं बल्कि स्टन गन से हुई है। फैन के यह थ्योरी ट्विटर पर इस वक्त काफी वायरल हो रही है।

असल में ट्विटर पर एक फैन ने ट्वीट करके कहा है कि उसने स्टन गन के बारे में काफी कुछ पढ़ा है, जिसके बाद उसने यह निष्कर्ष निकाला है कि सुशांत सिंह राजपूत की हत्या स्टन गन से की गई है। फैन के ट्वीट के अनुसार, ”आज मैंने स्टन गन के बारे में पढ़ा और यह भी जाना कि इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है। यह भी देखा कि इनसे किस तरह के निशान शरीर पर पड़ते हैं। एकदम वैसे ही निशान हैं भाइयों (जैसे सुशांत की बॉडी पर थे)। उन लोगों ने पैरालाइज्ड करने के लिए स्टन गन का ही इस्तेमाल किया।”

इसके साथ ही यूजर ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे और भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी को टैग किया है।

इस फैन के ट्वीट का जवाब देते हुए सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्विटर पर लिखा है, “क्या यह गन अरब सागर के जरिए भारत में आई है? एनआईए को इस मामले की जाँच के साथ जुड़ना चाहिए ताकि सच सबके सामने आ सके।”

इस वक्त इस थ्योरी ने लोगों को और भी हैरान कर दिया है। हर कोई इस सच्चाई को तह तक जानने की कोशिश करना चाहता है क्योंकि इससे पहले भी सुशांत की हत्या को लेकर कई बातें सामने आई थी।

वहीं इस यूजर से पहले अमेरिका के इंटरनल मेडिसिन में प्रैक्टिशनर डॉक्टर राजू बाधवा ने भी इस थ्योरी को लेकर एक पोस्ट किया था। उन्होंने कहा था कि सुशांत के मामले में स्टन गन का इस्तेमाल किया गया है। उन्होंने सुशांत की गर्दन की बाईं ओर पड़े जलने के निशान का जिक्र करते हुए अपनी थ्योरी को पुष्ट करने की कोशिश भी की है। उन्होंने लिखा- इसी तरह से स्टन गन का इस्तेमाल अमेरिका के एक नेवी सील अफसर को मारने के लिए किया गया था। ऐसा दिखाने की कोशिश की गई थी कि उसने आत्महत्या की है। लेकिन, फॉरेंसिक जाँच करने वालों ने हत्यारों को पकड़ लिया।

गौरतलब है कि इससे पहले सुशांत के मामले में राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर सीबीआई जाँच की माँग की थी। इसके साथ ही उन्होंने बॉलीवुड के कई हस्तियों को कटघरे में भी खड़ा किया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अब तेरी बारी, ऐसे ही तेरी गर्दन काटूँगा’: नवीन जिंदल और उनके पूरे परिवार का सिर काटने की धमकी, कन्हैया लाल के सिर कलम...

नवीन जिंदल और उनके पूरे परिवार का गला काटने की धमकी दी गई है। उन्हें धमकी भरे तीन ई मेल मिले हैं। उदयपुर में कन्हैया लाल का गला काटने का वीडियो भी भेजा गया है।

‘इस्लाम ज़िंदाबाद! नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं’: कन्हैया लाल का सिर कलम करने का जश्न मना रहे कट्टरवादी, कह रहे – गुड...

ट्विटर पर एमडी आलमगिर रज्वी मोहम्मद रफीक और अब्दुल जब्बार के समर्थन में लिखता है, "नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
200,277FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe