Saturday, March 6, 2021
Home विविध विषय मनोरंजन सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या से 3 दिन पहले दी थी सभी हाउस स्टाफ...

सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या से 3 दिन पहले दी थी सभी हाउस स्टाफ को सैलरी, कहा था- आगे ये भी नहीं दे पाउँगा

सुशांत ने तीन दिन पहले ही घर में काम कर रहें सभी लोगों को पूरी सैलरी दे दिया था। साथ ही सुशांत ने यह भी कहा था, कि अब वे आगे की सैलरी उन्हें नहीं दे पाएँगे। जिस पर स्टाफ ने उनसे कहा था कि, "आप ने हमें इतना सम्भाला है, आगे हम कुछ न कुछ कर लेंगे।"

बॉलीवुड के जाने-माने एक्टर सुशांत सिंह राजपूत बीते रविवार यानी 14 जून को इस दुनिया को अलविदा कह गए। उन्होंने अपने घर के एक कमरे में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। यह खबर सुनकर पूरा देश सदमे में आ गया हैं। उनके अंतिम संस्कार के बाद अब पटना में उनकी अस्थियाँ भी गंगा में विसर्जित हो चुकी हैं। इस बीच मुंबई पुलिस उनकी मौत से जुड़ी हर कड़ी की जाँच कर रहीं है।

पुलिस जाँच में सुशांत को लेकर कई नई बातें सामने आई हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस सूत्रों ने बताया, सुशांत ने तीन दिन पहले ही घर में काम कर रहें सभी लोगों को पूरी सैलरी दे दिया था। साथ ही सुशांत ने यह भी कहा था, कि अब वे आगे की सैलरी उन्हें नहीं दे पाएँगे। जिस पर स्टाफ ने उनसे कहा था कि, “आप ने हमें इतना सम्भाला है, आगे हम कुछ न कुछ कर लेंगे।”

सुशांत की एक्स मैनेजर दिशा ने भी हाल ही सुसाइड कर लिया था। उसको लेकर भी एक बात पुलिस जाँच में सामने आई हैं। जहाँ सुशांत के एक मैनेजर ने पुलिस को बताया कि वह एक्स-मैनेजर दिशा से 14 करोड़ के एक वेब सीरीज में रोल करने के लिए टच में थे। हालाँकि, इससे कुछ खास बात सामने नहीं आई। रिपोर्ट के मुताबिक, सुशांत और दिशा ने वॉट्सऐप से मार्च में आख़िरी बार कॉन्टेक्ट किया था।

मैनेजर ने यह भी बताया कि दिशा के आत्महत्या कर लेने के बाद सुशांत पूरी तरह टूट चुके थे। वो लोगों से खुद को दूर रख एक कमरे में अपने आप को बंद रखते थे। सुशांत पहले से ही डिप्रेशन का शिकार थे, और वहीं दिशा की मौत के बाद वो और सदमे आ गए थे।

आपको बता दें सुशांत की आत्महत्या ने बॉलीवुड के पर्दे के पीछे की सच्चाई को सामने ला दिया हैं। कई बड़े एक्टर, फेमस सेलेब्रिटीज़ से जुड़ी कई बातें सामने आ रही हैं। आए दिन लोग नेपोटिज्म को लेकर भी खुलकर बात कर रहे हैं। जहाँ पहले सुसाइड किए कई एक्टर्स के मौत के पीछे करण जौहर, संजय लीला भंसाली, दिनेश विजान, एकता कपूर और कई नामी चेहरे का हाथ बताया जा रहा हैं। कहा जा रहा है इन लोगों ने काबिलियत को दरकिनार कर लोगों को मेंटली टॉर्चर किया है।

वहीं एक रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि सुशांत और भंसाली की आपस में काफ़ी बॉन्डिंग थी। जयपुर में संजय पर हुए अटैक के बाद सुशांत ने अपने नाम से राजपूत तक हटा लिया था। भंसाली ने 4 फिल्में ऑफर की थी सुशांत को, जिसकी डेट फिक्स नहीं होने की वजह से वो फिल्में सुशांत के हाथ से निकल गई थी। अब इस खबर में कितनी सच्चाई हैं ये तो समय आने पर ही पता चलेगा।

सुशांत की आत्महत्या के पीछे कंगना रनौत ने नेपोटिज्म को बताया वजह

एक्ट्रेस कंगना रनौत ने एक वीडियो जारी करते हुए बोला, “सुशांत सिंह की मौत ने हम सबको झकझोर के रख दिया है। लेकिन वे लोग, जो इस चीज में माहिर हैं कि कैसे समानांतर नैरेटिव चलाया जाए, वो ये कहने लगे हैं कि जिनका दिमाग कमजोर होता है, वे डिप्रेशन में आते हैं और सुसाइड कर लेते हैं।”

“बॉलीवुड के लिए सुशांत ने इतनी अच्छी फिल्में कीं। मगर उन्हें कभी कोई अवॉर्ड नहीं मिला। उन्होंने काय पो छे से डेब्यू किया। उन्हें डेब्यू तक का अवॉर्ड नहीं मिला। उन्होंने 6-7 साल के अंतराल में केदारनाथ, धोनी और छिछोरे जैसी अच्छी फिल्में बनाईं। मगर, फिर भी उन्हें कोई अवॉर्ड नहीं मिला। कोई सराहना नहीं मिली। वहीं, गली बॉय जैसी वाहियात फिल्म को अवॉर्ड मिल जाते हैं।”

उल्लेखनीय है कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार (जून 14, 2020) को मुंबई के अपने घर में आत्महत्या कर ली थी। उनकी मौत उनके साथियों व प्रशंसकों के लिए किसी सदमें से कम नहीं है। आज भी सुशांत की आत्महत्या से हर कोई हैरान, स्तब्ध है। ऐसे में सोशल मीडिया पर कई तरह के पोस्ट देखने को मिले, जिसमें बिना सच्चाई को जाने-समझे लोगों ने उन्हें कोसा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ओडिशा के टाइगर रिजर्व में आग पशु तस्करों की चाल या प्रकृति का कोहराम? BJP नेता ने कहा- असम से सीखें

सिमिलिपाल का नाम 'सिमुल' से आया है, जिसका अर्थ है सिल्क कॉटन के वृक्ष। ये एक राष्ट्रीय अभयारण्य और टाइगर रिजर्व है।

माँ-बाप-भाई एक-एक कर मर गए, अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होने दिया: 20 साल विष्णु को किस जुर्म की सजा?

20 साल जेल में बिताने के बाद बरी किए गए विष्णु तिवारी के मामले में NHRC ने स्वत: संज्ञान लिया है।

मनसुख हिरेन की लाश, 5 रुमाल और मुंबई पुलिस का ‘तावड़े’: पेंच कई, ‘एंटीलिया’ के बाहर मिली थी विस्फोटक लदी कार

मनसुख हिरेन की लाश मिलने के बाद पुलिस ने इसे आत्महत्या बताया था। लेकिन, कई सवाल अनसुलझे हैं। सवाल उठ रहे कहीं कोई साजिश तो नहीं?

‘वह शिक्षित है… 21 साल की उम्र में भटक गया था’: आरिब मजीद को बॉम्बे हाई कोर्ट ने दी बेल, ISIS के लिए सीरिया...

2014 में ISIS में शामिल होने के लिए सीरिया गया आरिब मजीद जेल से बाहर आ गया है। बॉम्बे हाई कोर्ट ने उसकी जमानत बरकरार रखी है।

अमेज़न पर आउट ऑफ स्टॉक हुई राहुल रौशन की किताब- ‘संघी हू नेवर वेंट टू अ शाखा’

राहुल रौशन ने हिंदुत्व को एक विचारधारा के रूप में क्यों विश्लेषित किया है? यह विश्लेषण करते हुए 'संघी' बनने की अपनी पेचीदा यात्रा को उन्होंने साझा किया है- अपनी किताब 'संघी हू नेवर वेंट टू अ शाखा' में…"

मुंबई पुलिस अफसर के संपर्क में था ‘एंटीलिया’ के बाहर मिले विस्फोटक लदे कार का मालिक: फडणवीस का दावा

मनसुख हिरेन ने लापता कार के बारे में पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी। आज उसी हिरेन को मुंबई में एक नाले में मृत पाया गया। जिससे यह पूरा मामला और भी संदिग्ध नजर आ रहा है।

प्रचलित ख़बरें

16 महीने तक मौलवी ‘रोशन’ ने चेलों के साथ किया गैंगरेप: बेटे की कुर्बानी और 3 करोड़ के सोने से महिला का टूटा भ्रम

मौलवी पर आरोप है कि 16 माह तक इसने और इसके चेले ने एक महिला के साथ दुष्कर्म किया। उससे 45 लाख रुपए लूटे और उसके 10 साल के बेटे को...

‘शिवलिंग पर कंडोम’ से विवादों में आई सायानी घोष TMC कैंडिडेट, ममता बनर्जी ने आसनसोल से उतारा

बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए टीएमसी ने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। इसमें हिंदूफोबिक ट्वीट के कारण विवादों में रही सायानी घोष का भी नाम है।

‘मैं 25 की हूँ पर कभी सेक्स नहीं किया’: योग शिक्षिका से रेप की आरोपित LGBT एक्टिविस्ट ने खुद को बताया था असमर्थ

LGBT एक्टिविस्ट दिव्या दुरेजा पर हाल ही में एक योग शिक्षिका ने बलात्कार का आरोप लगाया है। दिव्या ने एक टेड टॉक के पेनिट्रेटिव सेक्स में असमर्थ बताया था।

माँ-बाप-भाई एक-एक कर मर गए, अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होने दिया: 20 साल विष्णु को किस जुर्म की सजा?

20 साल जेल में बिताने के बाद बरी किए गए विष्णु तिवारी के मामले में NHRC ने स्वत: संज्ञान लिया है।

‘जाकर मर, मौत की वीडियो भेज दियो’ – 70 मिनट की रिकॉर्डिंग, आत्महत्या से ठीक पहले आरिफ ने आयशा को ऐसे किया था मजबूर

अहमदाबाद पुलिस ने आयशा और आरिफ के बीच हुई बातचीत की कॉल रिकॉर्ड्स को एक्सेस किया। नदी में कूदने से पहले आरिफ से...

फोन कॉल, ISIS कनेक्शन और परफ्यूम की बोतल में थर्मामीटर का पारा: तिहाड़ में हिंदू आरोपितों को मारने की साजिश

तिहाड़ में हिंदू आरोपितों को मारने की साजिश के ISIS लिंक भी सामने आए हैं। पढ़िए, कैसे रची गई प्लानिंग।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,301FansLike
81,953FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe