Thursday, June 20, 2024
Homeविविध विषयअन्यअक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज' का नहीं बदलेगा नाम: दिल्ली हाई कोर्ट ने खारिज की...

अक्षय कुमार की ‘पृथ्वीराज’ का नहीं बदलेगा नाम: दिल्ली हाई कोर्ट ने खारिज की याचिका, जुर्माने की भी चेतावनी

दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा खारिज की गई याचिका में कहा गया था कि फिल्म का टाइटल सिर्फ पृथ्वीराज कर दिया गया है जो कि महान राजा का अपमान है। फिल्म का नाम ‘महान सम्राट पृथ्वीराज चौहान' होना चाहिए।

अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म ‘पृथ्वीराज’ का टाइटल बदलने की माँग करने वाली जनहित याचिका को दिल्ली हाईकोर्ट में आज खारिज कर दिया गया। जस्टिस डीएन पटेल और जस्टिस नीना बंसल कृष्णा की पीठ ने न केवल इस याचिका पर सुनवाई करने से मना किया बल्कि वकील को जुर्माना लगाने की चेतावनी भी दी। अब याचिकाकर्ता के वकील द्वारा इस याचिका को वापस ले लिया गया है।

बता दें कि ये याचिका राष्ट्रीय प्रवासी परिषद द्वारा दायर की गई था। याचिका में कहा गया था कि फिल्म का टाइटल सिर्फ पृथ्वीराज कर दिया गया जो कि महान राजा का अपमान है। फिल्म का नाम ‘महान सम्राट पृथ्वीराज चौहान’ होना चाहिए। याचिका में माँग थी कि मूवी का नाम उस राजा के सम्मान में रखा जाए जिन्होंने 26 साल राज किया। अब इसी याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने कोई सुनवाई करने से मना कर दिया। अक्षय कुमार की ये फिल्म ‘पृथ्वीराज’ 1 अप्रैल को रिलीज होनी है। इसमें अक्षय के अलावा मानुषी चिल्लर, संजय दत्त, आशुतोष राणा, अली फजल व अन्य लोग हैं।

उल्लेखनीय है कि अप्रैल में रिलीज होने वाली ‘पृथ्वीराज’ इस साल के शुरूआत में ही विवादों में आई थी। फिल्म को लेकर राजपूत और गुर्जर समाज में ठनी थी। राजस्थान के अजमेर में फिल्म के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुआ था। तब, राजपूत और गुर्जर समाज, दोनों के संगठन उन्हें अपना बता रहे थे। गुर्जर संगठनों का आरोप था कि फिल्म में सम्राट पृथ्वीराज चौहान को राजपूत समाज से बताया गया है, जो सही नहीं है। यही कारण है कि अजमेर के वैशाली में स्थित भगवान देवनारायण मंदिर में प्रदर्शन हुआ। वहीं राजपूत संगठनों का कहना था कि ये साबित करने की कोई ज़रूरत नहीं है कि पृथ्वीराज चौहान राजपूत थे, क्योंकि यही वास्तविकता है। राजपूत नेता भँवर सिंह ने कहा कि असलियत को बदला नहीं जा सकता है। वहीं गुर्जर समाज ने अजमेर जिला प्रशासन के समक्ष याचिका दायर कर फिल्म की रिलीज को रोकने की माँग की।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

क्या NEET पेपर लीक के पीछे हैं तेजस्वी यादव, जिस सरकारी गेस्ट हाउस में पेपर लेकर आया था सिकंदर यादवेंदु उनसे क्या है RJD...

एनएचएआई गेस्ट हाउस मामले में बिहार के डिप्टी सीएम और पथ निर्माण विभाग के मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने दावा किया कि पूरा मामला तेजस्वी यादव से जुड़ा हुआ है।

UGC-NET जून 2024 परीक्षा रद्द, 18 जून को 11.21 लाख छात्रों ने दी थी परीक्षा: साइबर क्राइम सेल से मिला सेंधमारी का इनपुट,...

परीक्षा प्रक्रिया की उच्चतम स्तर की पारदर्शिता और पवित्रता सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय ने निर्णय लिया है कि यूजीसी-नेट जून 2024 परीक्षा रद्द की जाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -