Tuesday, September 28, 2021
Homeविविध विषयअन्य'आज एक सपना पूरा हुआ': नीरज चोपड़ा ने माता-पिता के लिए किया कुछ ऐसा...

‘आज एक सपना पूरा हुआ’: नीरज चोपड़ा ने माता-पिता के लिए किया कुछ ऐसा कि गदगद हुए लोग, कहा – आप हमारी प्रेरणा

''आज जिंदगी का एक सपना पूरा हुआ जब अपने माँ-पापा को पहली बार फ्लाइट पर बैठा पाया। सभी की दुआ और आशीर्वाद के लिए हमेशा आभारी रहूँगा।''

टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले भारतीय भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा का एक और सपना पूरा हो गया है। उन्होंने शनिवार (11 सितंबर) को सोशल मीडिया पर ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है। ट्विटर पर नीरज ने लिखा, ”आज जिंदगी का एक सपना पूरा हुआ जब अपने माँ-पापा को पहली बार फ्लाइट पर बैठा पाया। सभी की दुआ और आशीर्वाद के लिए हमेशा आभारी रहूँगा।” इसके साथ ही उन्होंने अपने माता-पिता के साथ तीन तस्वीरें भी शेयर की हैं, जिसमें वह बेहद खुश नजर आ रहे हैं। उनकी इस पोस्ट पर फैंस की जबरदस्त प्रतिक्रिया मिल रही है।

एक यूजर ने लिखा, ”सर, आप हम सभी के लिए प्रेरणास्रोत हैं। मेरे जैसे लाखों मिडल क्लास युवाओं को प्रेरणा देने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।”

एक अन्य यूजर ने उनकी तस्वीर ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, ”वाह! नीरज चोपड़ा। इन तस्वीरों ने मेरा दिन बना दिया। दिल और आत्मा दोनों खुश हो गई। आप धन्य हैं सूबेदार जी। धन्य माता-पिता और धन्य संतान। इन तस्वीरों को देखकर खुशी के आँसू छलक पड़े।”

हरियाणा के पानीपत जिले के खांद्रा गाँव में 24 दिसंबर 1997 को पैदा हुए नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीत कर देश का नाम रोशन किया है। ऐसा कारनामा करने वाले वो भारत के पहले ट्रैक एंड फील्ड इवेंट्स (एथलेटिक्स) के खिलाड़ी हैं। इस उपलब्धि के बाद नीरज ने कई इंटरव्यू में हिन्दी में जवाब देकर भारतीय मातृभाषा को सर्वोपरि रखकर अपने चाहने वालों का दिल जीत लिया।

हालाँकि, इस दौरान कई पल ऐसे भी आए जब स्वर्ण पदक विजेता को पत्रकारों और मीडिया गिरोह के लोगों द्वारा पूछे गए सवाल के कारण शर्मसार भी होना पड़ा। इसमें प्रसिद्ध भारतीय इतिहासकार, आर्ट क्यूरेटर राजीव सेठी, रेडियो जॉकी मलिष्का और पत्रकार नविका कुमार शामिल हैं, जिन्होंने नीरज से उनकी निजी जिंदगी से जुड़े ऐसे सवाल किए, जिससे वह इंटरव्यू के दौरान असहज हो गए। राजीव सेठी ने तो हद ही कर दी उन्होंने इंडियन एक्सप्रेस समूह के साथ एक इंटरव्यू में नीरज से बेहुदा प्रश्न पूछा आप अपनी एथलेटिक ट्रेनिंग के साथ सेक्स लाइफ का संतुलन कैसे बनाकर रखते हैं। इस दौरान उन्हें काफी शर्मिंदगी महसूस हुई थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe