Monday, December 6, 2021
Homeविविध विषयअन्यअयोध्या: योगी राज में रामलला की पगार बढ़ी, अब मिलेंगे हर महीने ₹30,000

अयोध्या: योगी राज में रामलला की पगार बढ़ी, अब मिलेंगे हर महीने ₹30,000

मंदिर के मुख्य पुजारी सत्येंद्र दास को अब 13,000 रुपए मिलेंगे। इसके साथ ही मंदिर के 8 सदस्यों (जिनके वेतन 7500 रुपए से 10,000 के बीच हैं) के मासिक वेतन में 500 रुपए का इजाफा किया गया है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने अयोध्या के अस्थायी राम मंदिर की पूजा और व्यवस्था के लिए दिए जाने वाले फंड में इजाफा किया है। रामलला, उनके मुख्य पुजारी और आठ कर्मचारियों के मासिक पगार में वृद्धि की गई है।

अयोध्या के डिविज़नल कमिश्नर मनोज मिश्रा ने बताया कि रामलला मंदिर के मासिक वेतन को 26,200 रुपए से बढ़ाकर 30,000 रुपए कर दिया गया है। डिविज़नल कमिश्नर होने के नाते मनोज मिश्रा अस्थायी मंदिर के रिसीवर भी हैं। उनके मुताबिक, मंदिर के मुख्य पुजारी सत्येंद्र दास को अब 13,000 रुपए मिलेंगे।

इसके साथ ही मंदिर के 8 सदस्यों (जिनके वेतन 7500 रुपए से 10,000 के बीच हैं) के मासिक वेतन में 500 रुपए का इजाफा किया गया है। साथ ही योगी सरकार ने भोग (प्रसाद) के लिए 800 रुपए प्रति माह बढ़ाया है। जानकारी के मुताबिक, सत्येंद्र दास को 2017 से मासिक वेतन के रुप में 8,480 रुपए मिल रहे थे। इन्होंने 1992 में 150 रुपए मासिक वेतन के साथ शुरुआत की थी।

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर का स्क्रीनशॉट

सत्येंद्र दास ने इस बढ़ोतरी पर खुशी जाहिर करते हुए टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा कि वो सरकार द्वारा की गई इस बढ़ोतरी से काफी खुश हैं। उन्होंने बताया कि इसी साल जुलाई में उन्होंने वेतन बढ़ाने की अपील की थी, जिसे मंजूर कर लिया गया है। उनका कहना है कि 1992 के बाद ये सबसे बड़ी वृद्धि है।

वहीं, मनोज मिश्रा ने कहा कि इस कदम को उच्चतम न्यायालय में चल रहे राम जन्मभूमि मामले में सुनवाई से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। उनका कहना है कि राम जन्मभूमि मामले में वर्तमान परिस्थिति के साथ बिना छेड़छाड़ किए बिना जो किया जा सकता था, वही किया गया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पिता को 15 टुकड़ों में काटा, बैग में भरकर झेलम किनारे फेंका’: USA में पल्लवी जोशी ने दुनिया को बताया कश्मीरी पंडितों का दर्द

अभिनेत्री पल्लवी जोशी ने बताया कि 'द कश्मीर फाइल्स' के निर्माण के दौरान उन्होंने कई कश्मीरी पंडितों के इंटरव्यूज लिए, जो अपने-आप में एक दर्द भरा अनुभव था।

UAE में खुले में नमाज पर ₹20000 जुर्माना: ‘द गार्डियन’ के लिए मुस्लिम पीड़ित और हिन्दू गुंडे, सड़कों को बता रहा ‘नमाज साइट्स’

90% सुन्नी मुस्लिम जनसंख्या वाले UAE में सड़क किनारे नमाज पढ़ने पर Dh 1000 (20,484 रुपए) के जुर्माने का प्रावधान है। गुरुग्राम पर हंगामा क्यों?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,833FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe