Monday, July 4, 2022
Homeविविध विषयअन्यकपड़ा-झोला बेचने वाला बना दुनिया का सबसे अमीर आदमी, पीछे छोड़ा इंटरनेट-मोबाइल वालों को

कपड़ा-झोला बेचने वाला बना दुनिया का सबसे अमीर आदमी, पीछे छोड़ा इंटरनेट-मोबाइल वालों को

जिस वक्त में दुनिया कोरोना के कहर से जूझ रही है, उसी समय कंपनी ने भारी मुनाफा कमाया। बर्नार्ड अर्नाल्ट की कंपनी LVMH ने चीन में काफी अच्छा बिजनेस किया।

जेफ बेजोस और बिल गेट्स जैसे अरबपतियों को पीछे छोड़ते हुए फ्रांस के बर्नार्ड अर्नाल्ट दुनिया के सबसे अमीर बिजनेसमैन बन गए हैं। फोर्ब्स की रियल टाइम बिलियनेयर लिस्ट के अनुसार, शुक्रवार (28 मई, 2021) सुबह 10:30 बजे तक बर्नार्ड अर्नाल्ट फोर्ब्स की अमीरों की लिस्ट में पहले स्थान पर हैं। उनकी कुल नेटवर्थ 191 अरब डॉलर है। वहीं उनके बाद अमेजन के मालिक जेफ बेजोस 187.4 अरब डॉलर के साथ दुनिया के दूसरे सबसे रईस आदमी हैं।

इससे पहले 2019 में बर्नार्ड अर्नाल्ट 100 अरब डॉलर के क्लब में शामिल हुए थे। उनसे पहले इस क्लब में केवल जेफ बेजोस और माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स ही इसमें शामिल थे।

कौन हैं बर्नार्ड अर्नाल्ट

बर्नार्ड अर्नाल्ट फ्रांस की फैशन टाइकून एलवीएमएच (Moët Hennessy Louis Vuitton) के चेयरमैन और सीईओ हैं। बर्नार्ड का नाम भले ही अनसुना लगे, लेकिन वह वर्ष 2018 से ही दुनिया के टॉप फाइव अमीर लोगों की लिस्ट में शामिल हैं।

बर्नार्ड अर्नाल्ट ने वर्ष 2021 में अब तक 47 अरब डॉलर की संपत्ति अर्जित की है। अर्नाल्ट के पास एलवीएमएच के 50 फीसदी शेयर हैं। उनकी संपत्ति में पिछले 14 महीनों के दौरान 110 बिलियन डाॅलर का इजाफा देखा गया। मार्च में अकेले बर्नार्ड की संपत्ति 76 बिलियन डॉलर बढ़ी है।

बर्नार्ड की कंपनी LVMH के पास कई फेमस फैशन ब्रांड हैं, जिनमें फेंडी, क्रिश्चियन डिओर (इसमें बर्नार्ड की 96.5 फीसदी हिस्सेदारी है) और जिवेंची जैसे ब्रांड शामिल हैं। इसके अलावा बर्नार्ड अर्नाल्ट लुई विट्टन (Louis Vuitton) और सैफोरा जैसे 70 ब्रांड के मालिक हैं। इसके अलावा वो रिटेल और हॉस्पिटैलिटी के क्षेत्र में भी काम करते हैं।

इससे पहले उन्होंने इसी साल जनवरी, 2021 में एलएमवीएच ने अमेरिका की ज्वेलरी कंपनी टिफनी एंड कंपनी को 15.8 अरब डॉलर में खरीद लिया था। इस डील को अब तक की सबसे बड़ी डील बताया जा रहा है। खास बात यह है कि जिस वक्त में दुनिया कोरोना के कहर से जूझ रही थी, उसी वक्त में कंपनी ने भारी मुनाफा कमाया। विशेषरूप LVMH ने चीन में काफी अच्छा बिजनेस किया।

रिपोर्ट के मुताबिक बर्नार्ड अर्नाल्ट ने 1984 में लग्जरी गुड्स के क्षेत्र में कदम रखा था। उन्होंने टेक्सटाइल कंपनी का भी अधिग्रहण भी किया था। इससे पहले 1981 में फ्रांस में सोशलिस्ट सरकार आने के बाद उन्हें परिवार समेत देश से निकाल दिया गया था। इसके बाद उन्होंने अमेरिका में शरण ली थी।

अमीरों की लिस्ट में मुकेश अंबानी 79.5 अरब डॉलर के साथ 12वें स्थान पर एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सावन में ज्ञानवापी शिवलिंग के जलाभिषेक की माँग, मुस्लिम पक्ष की दलीलें वर्शिप एक्ट पर टिकीं: अगली सुनवाई 12 जुलाई को

महिलाओं का दावा है कि ज्ञानवापी में 'प्लेसेज ऑफ वर्शिप (स्पेशल प्रॉविजंस) एक्ट, 1991' लागू नहीं होता, क्योंकि 1991 तक यहाँ श्रृंगार गौरी की पूजा होती थी।

‘बुरे वक्त में युसूफ की करते थे मदद, पत्नी के साथ उसके घर पर गए थे’: उमेश कोल्हे के भाई ने बताया – मेरे...

महाराष्ट्र के अमरवती में नूपुर शर्मा के समर्थन के चलते कत्ल हुए उमेश कोल्हे अपनी हत्या के साजिशकर्ता इरफ़ान युसूफ की अक्सर करते थे मदद

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,389FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe