Thursday, June 13, 2024
Homeविविध विषयअन्यकभी क्रिकेट में भारत की हार पर 'निकाह' का वादा, अब PM मोदी पर...

कभी क्रिकेट में भारत की हार पर ‘निकाह’ का वादा, अब PM मोदी पर FIR की तमन्ना: कौन है पाकिस्तानी हिरोइन सहर शिनवारी जिसकी बोलती दिल्ली पुलिस ने की बंद

पाकिस्तानी एंटरटेनर सहर शिनवारी चर्चा में बने रहने के लिए आए दिन इसी तरह के ऊल-जलूल ट्वीट करती रहती है। 2022 में जब क्रिकेट का टी 20 वर्ल्ड कप चल रहा था तो वह अपने निकाह वाले ट्वीट को लेकर चर्चा में बनी हुई थी।

पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Arrest of Imran Khan) की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान हिंसा की आग में जल रहा है। इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के समर्थक हिंसा पर उतारू हैं। फौजी और सरकारी प्रतिष्ठान निशाने पर हैं। इन सबके बीच पाकिस्तानी हिरोइन सहर शिनवारी (Sehar shinwari) की बोलती बंद करने को लेकर दिल्ली पुलिस चर्चा में है।

दरअसल, अपने देश में हिंसा और आगजनी के बीच सहर शिनवारी ने एक ट्वीट कर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रॉ के खिलाफ शिकायत करने की बात कही। उसने लिखा, “क्या किसी को दिल्ली पुलिस का ऑनलाइन लिंक पता है। मुझे भारत के प्रधानमंत्री और खुफिया एजेंसी राॅ के खिलाफ शिकायत दर्ज करवानी है। ये मेरे देश पाकिस्तान में अशांति और आतंकवाद फैला रहे हैं। अगर भारत की अदालतें स्वतंत्र हैं, जैसा वे दावा करते हैं तो मुझे यकीन है कि भारत का सुप्रीम कोर्ट मुझे इंसाफ दिलाएगा।”

इसका दिल्ली पुलिस ने मजेदार अंदाज में जवाब दिया। पाकिस्तानी हिरोइन के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा, “पाकिस्तान हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं है। लेकिन हम जानना चाहते हैं कि जब आपके देश में इंटरनेट बंद कर दिया गया है तो आप ट्वीट कैसे कर रही हैं।”

वैसे पाकिस्तानी एंटरटेनर सहर शिनवारी चर्चा में बने रहने के लिए आए दिन इसी तरह के ऊल-जलूल ट्वीट करती रहती है। 2022 में जब क्रिकेट का टी 20 वर्ल्ड कप चल रहा था तो वह अपने निकाह वाले ट्वीट को लेकर चर्चा में बनी हुई थी। 3 नवंबर 2022 की शुरुआत में उसने ट्वीट किया था, “मैं जिम्बाब्वे के लड़के से निकाह करूँगी, अगर उनकी टीम रोमांचक तरीके से अगले मैच में भारत को हरा देती है तो।” उसके बाद 11 सितंबर 2022 को भी इसी तरह एक ट्वीट करते हुए उसने लिखा था, “अगर आज श्रीलंका जीत जाती है तो मैं श्रीलंकाई लड़के से निकाह करूँगी।”

अन्य देश के खिलाड़ियों से निकाह का बार-बार प्रस्ताव देने पर शिनवारी का सोशल मीडिया में खूब मजाक भी बना था। शिनवारी बीजेपी और पीएम मोदी को लेकर भी अपनी नफरत कई बार दिखा चुकी है। एक ट्वीट में उसने कहा था, “मैं शर्त लगाती हूँ कि गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा को शर्मनाक हार मिलने वाली है। अगर ऐसा नहीं होता है, तो मुझे जो मन चाहे वह कहकर बुलाओ।” इसके अलावा वह राहुल गाँधी और अरविंद केजरीवाल के समर्थन में भी ट्वीट करती रहती है।

इंटरनेट की भाषा में कहें तो शिनवारी जो कर रही हैं, उसे ‘टट्टी पोस्टिंग’ और ‘बेटिंग’ कहा जाता है। आम तौर पर मशहूर होने के लिए, फॉलोअर्स की संख्या बढ़ाने के लिए या फिर किसी का रिएक्शन पाने के लिए ऐसे ट्वीट किए जाते हैं। सोशल मीडिया पर ‘वायरल’ होने के लिए यह एक आम हथकंडा है।

अक्सर, विज्ञापन या किसी प्रोडक्ट के प्रमोशन, सेल के लिए भी पैसे देकर लोगों या ब्रांड द्वारा ऐसी लोकप्रियता का लाभ उठाया जाता है। जैसा कि देखा जा सकता है, सहर शिनवारी के ट्विटर बायो में एक लाइन लिखी हुई है, जिससे लोग डायरेक्ट उन तक अपने ब्रांड के प्रमोशन के लिए पहुँच सकते हैं। उनके बॉयो में साफ लिखा गया है, ‘बिजनेस और ब्रांड के पेड प्रमोशन के मुझे DM करें।’

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लड़की हिंदू, सहेली मुस्लिम… कॉलेज में कहा, ‘इस्लाम सबसे अच्छा, छोड़ दो सनातन, अमीर कश्मीरी से कराऊँगी निकाह’: देहरादून के लॉ कॉलेज में The...

थर्ड ईयर की हिंदू लड़की पर 'इस्लाम' का बखान कर धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित किया गया और न मानने पर उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी गई।

जोशीमठ को मिली पौराणिक ‘ज्योतिर्मठ’ पहचान, कोश्याकुटोली बना श्री कैंची धाम : केंद्र की मंजूरी के बाद उत्तराखंड सरकार ने बदले 2 जगहों के...

ज्तोतिर्मठ आदि गुरु शंकराचार्य की तपोस्‍थली रही है। माना जाता है कि वो यहाँ आठवीं शताब्दी में आए थे और अमर कल्‍पवृक्ष के नीचे तपस्‍या के बाद उन्‍हें दिव्‍य ज्ञान ज्‍योति की प्राप्ति हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -