Monday, June 24, 2024
Homeविविध विषयअन्य'छी! शर्म करो, बकवास मत करो': पाकिस्तानी क्रिकेटर को मोहम्मद शमी ने लताड़ा, कहा...

‘छी! शर्म करो, बकवास मत करो’: पाकिस्तानी क्रिकेटर को मोहम्मद शमी ने लताड़ा, कहा था – वर्ल्ड कप में भारतीय गेंदबाजों के लिए अलग गेंद, तभी ले रहे विकेट

मोहम्मद शमी ने रजा की उस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया दी, जिसमें रजा ने कहा था कि भारतीय गेंदबाजों को अलग गेंद दी जाती है। शमी ने रजा की टिप्पणी को निंदनीय बताया।

पाकिस्तान का पूर्व क्रिकेटर हसन रज़ा क्रिकेट विश्वकप 2023 में शानदार प्रदर्शन कर रही भारतीय टीम को कटघरे में खड़ा कर रहा है। वो बार-बार भारतीय टीम और BCCI पर अनर्गल आरोप लगाकर रो रहा है। कभी वो कहता है कि भारतीय गेदबाजों को अलग गेंद दी जाती है, जो दूसरों से हल्की होती है, तो कभी बोलता है कि BCCI डीआरएस के जरिए गलत अंपायरिंग करा रही है। इस बीच, भारत के स्टार बॉलर मोहम्मद शमी ने उसे धिक्कारा है।

उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर कर स्टेटस लिखा, “शर्म करो यार, गेम पर फोकस करो, फालतू बकवास न करो और कभी तो दूसरों की सफलता को एंजॉय करो।”

मोहम्मद शमी ने हसन रजा को दिखाया आईना

मोहम्मद शमी ने हसन रजा का एक वीडियो अपने स्टेटस पर लगाया है, जिसमें लिखा है ‘भारत चीटिंग कर रहा है?’ इस पर मोहम्मद शमी ने लिखा, “शर्म करो यार, खेल पर फोकस करो न कि फालतू बकवास पर। कभी तो दूसरों की सफलता को एंजॉय किया करो। छी..! यार आईसीसी वर्ल्ड कप है, आपका लोकल टूर्नामेंट नहीं है और आप प्लेयर ही थे न? वसीम भाई ने समझाया है, एक्सप्लेन भी किया था फिर भी… हाहाहाहा अपने प्लेयर अपने वसीम अकरम पर यकीन नहीं आपको। अपना तारीख करने में लगा है जनाब, आप तो जस्ट लाइक वॉव…।”

मोहम्मद शमी की इंस्टाग्राम स्टोरी का स्क्रीनशॉट

मोहम्मद शमी ने हसन रज़ा की उस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया दी, जिसमें हसन रज़ा ने कहा था कि भारतीय गेंदबाजों को अलग गेंद दी जाती है। मोहम्मद शमी ने हसन रज़ा की टिप्पणी को निंदनीय बताया। उन्होंने कहा कि रज़ा को अपनी बातों पर ध्यान देना चाहिए और गेम पर फोकस करना चाहिए। शमी ने कहा, “हसन रजा को शर्म आनी चाहिए।”

बता दें कि भारत की टीम ने श्रीलंका को जब 302 रनों से हराया था, तब भारतीय गेंदबाजों ने श्रीलंका को महज 55 रनों पर आल आउट कर दिया था। इस मैच में मोहम्मद शमी ने महज 18 रन देकर 5 विकेट झटके थे। इस मैच के बाद हसन रज़ा ने आईसीसी और BCCI को कटघरे में खड़ा किया था। हसन रज़ा नाम के पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर ने कहा था कि मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज या जसप्रीत बुमराह अगर सीम या स्विंग करा पा रहे हैं तो इसकी वजह है उनको दी जाने वाली अलग तरह की गेंद। इनके अनुसार, इस अलग तरह की गेंद पर कुछ एक्स्ट्रा लेयर या एक्स्ट्रा कोटिंग की गई है।

हसन रज़ा ने कहा, “हसन रज़ा ने कहा कि मोहम्मद शामी, मोहम्मद सिराज या जसप्रीत बुमराह जिस तरह से बॉल फेंक रहे हैं, वो एलन डोनल्ड की याद दिला रहा और इसके पीछे वजह यह है कि इनको अलग तरह की गेंद दी जा रही है। हसन के मुताबिक, इसके पीछे अंपायर या ICC या BCCI किसी का भी हाथ हो सकता है।”

इसके बाद उसके कप्तान रहे वसीम अकरम ने जमकर खरी-खोटी सुनाया था। वसीम अकरम ने बताया था कि गेंदों का चुनाव कैसे होता है। इसके बाद जब भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका को हराया था, तब हसन रज़ा ने कहा था कि बीसीसीआई डीआरएस सिस्टम का गलत फायदा उठा रहा है। हसन रजा ने जडेजा की घूमती गेंदों पर शक जताया और कहा कि लेफ्ट ऑफ स्पिनर की जिस गेंद पर वॉन डेर डुसैन को डीआरएस पर आउट दिया गया, वो बॉल राइट हैंड बैटर के लिए लेग स्टंप से बाहर निकलती, न कि घूम कर लेग स्टंप पर। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई DRS सिस्टम को अपने हिसाब से चला रहा है, क्योंकि ग्राउंड बीसीसीआई का, ब्रॉडकास्टर बीसीसीआई के और सिस्टम भी बीसीसीआई का है।

आपको बता दें कि हसन रजा 14 साल 227 दिन की उम्र में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करके रिकॉर्ड बनाए थे। हालाँकि बाद में पाकिस्तान क्रिकेट ने इनके जन्मदिन की सही जानकारी के अभाव में इस रिकॉर्ड को खुद ही हटा लिया था। यह वही हसन रजा है, जिस पर क्रिकेट में फिक्सिंग का भी आरोप लगा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार में EOU ने राख से खोजे NEET के सवाल, परीक्षा से पहले ही मोबाइल पर आ गया था उत्तर: पटना के एक स्कूल...

पटना के रामकृष्ण नगर थाना क्षेत्र स्थित नंदलाल छपरा स्थित लर्न बॉयज हॉस्टल एन्ड प्ले स्कूल में आंशिक रूप से जले हुए कागज़ात भी मिले हैं।

14 साल की लड़की से 9 घुसपैठियों ने रेप किया, लेकिन सजा 20 साल की उस लड़की को मिली जिसने बलात्कारियों को ‘सुअर’ बताया:...

जर्मनी में 14 साल की लड़की का रेप करने वाले बलात्कारी सजा से बच गए जबकि उनकी आलोचना करने वाले एक लड़की को जेल भेज दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -