Tuesday, October 19, 2021
Homeविविध विषयअन्य'8000 से अधिक हिंदू मंदिरों को तबाह करने वाला टीपू सुल्तान' इमरान खान और...

‘8000 से अधिक हिंदू मंदिरों को तबाह करने वाला टीपू सुल्तान’ इमरान खान और थरूर के लिए ‘हीरो’

8000 से ज्यादा हिंदू मंदिरों को तबाह करने वाले और मालकोट में दिवाली पर्व पर 800 से अधिक लोगों की हत्या करने वाले टीपू सुल्तान के लिए 'हीरो' और 'पुण्यतिथि' जैसे शब्द पढ़कर सोशल मीडिया पर यूजर्स बौखला उठे।

कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता और केरल के तिरुवअनंतपुरम से सांसद शशि थरूर को ट्विटर पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देना महँगा पड़ गया। सोशल मीडिया के यूजर्स ने उन्हें उनके शब्दों के चुनावों पर जमकर घेरा और कई सवाल किए।

दरअसल, 4 मई को मैसूर के राजा टीपू सुल्तान की मौत हुई थी। जिसके मद्देनजर बीती 4 मई को पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि टीपू सुल्तान एक ऐसे व्यक्ति हैं जिसकी वो बहुत इज्जत करते हैं क्योंकि उन्होंने गुलामी का जीवन जीने की बजाए आजादी को सर्वोपरि समझा और उसके लिए ही लड़ते हुए जान दी।

इमरान खान के इस ट्वीट पर शशि थरूर ने रिट्वीट करते हुए लिखा, “व्यक्तिगत रूप से इमरान खान के बारे में एक बात जानता हूँ कि भारतीय उपमहाद्वीपों के साझा इतिहास में उनकी रूचि वास्तविक और दूरगामी है। वह पढ़ते हैं और ध्यान रखते हैं। फिर भी यह दु:खद है कि पाकिस्तानी नेता ने एक महान भारतीय हीरो को याद करने के लिए उनकी पुण्यतिथि को चुना।” हालाँकि थरूर ने यह ट्वीट भारतीय राजनेताओं पर तंज करने के लिहाज से किया था, लेकिन उन्हें नहीं पता था कि यूजर्स इस तंज पर उनको आड़े हाथों ले लेंगे।

पहले तो सोशल मीडिया पर यूजर्स थरूर की इस बात से नाराज़ दिखाई दिए कि शशि थरूर ने टीपू सुल्तान के लिए ‘हीरो’ शब्द का प्रयोग किया। इसके बाद यूजर्स ने उनसे सवाल किया कि क्या वो अपना असली रंग और पाकिस्तान के प्रति प्रेम चुनाव के बाद नहीं दिखा सकते थे?

8000 से ज्यादा हिंदू मंदिरों को तबाह करने वाले और मालकोट में दिवाली पर्व पर 800 से अधिक लोगों की हत्या करने वाले टीपू सुल्तान के लिए ‘हीरो’ और ‘पुण्यतिथि’ जैसे शब्द पढ़कर सोशल मीडिया पर यूजर्स बौखला उठे। पूरी पार्टी पर निशाना साधते हुए लोगों ने कहा कि इसमें कोई हैरानी नहीं हैं कि ये लोग पाकिस्तान पीएम के साथ मिलकर टीपू सुल्तान की ‘पुण्यतिथि’ मना रहे हैं। कुछ लोगों ने इसे बेहद शर्मनाक बताया। और कुछ ने यहाँ तक कहा कि हिंदुओं की बर्बता से हत्या कर देने वाला इमरान खान और शशि थरूर के लिए हीरो ही हो सकता है।

बता दें इमरान खान और शशि थरूर के अलावा कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया को भी टीपू सुल्तान की ‘पुण्यतिथि’ पर कई आयोजन करने के कारण आलोचनाओं का सामना करना पड़ा है। भाजपा के सांसद ने उन्हें ट्वीट करते हुए लिखा, “अब तुम्हारी बारी है तुम इमरान जी और बाजवा जी को गले लगाओ, जिस तरह नवजोत सिंह सिद्धू ने लगाया था, इस तरह तुम राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी के पसंदीदा लोगों में जल्दी शुमार हो सकते हो।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe