Monday, June 17, 2024
Homeसोशल ट्रेंडभारत की हार के बाद PM मोदी पर आपत्तिजनक कमेंट्स, कॉन्ग्रेसी ट्रेंड करा रहे...

भारत की हार के बाद PM मोदी पर आपत्तिजनक कमेंट्स, कॉन्ग्रेसी ट्रेंड करा रहे ‘पनौती’: संजय राउत ने स्टेडियम के नाम को ही बता दिया वर्ल्ड कप का फाइनल गँवाने की वजह

प्रियंवदा नाम के एक अन्य कॉन्ग्रेस के वॉलंटियर ने लिखा, "ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 9 ओवर तक 3 विकेट पर 51 रन था, फिर ये हुआ।" उसने दर्शकों की दीर्घा में बैठे पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तस्वीर शेयर की।

भारत वर्ल्ड कप का फाइनल क्या हारा, लोग इस पर राजनीति करने लगे। कॉन्ग्रेस पार्टी जैसे विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम इसमें जबरन घसीट कर उन्हें ‘पनौती’ बताना शुरू कर दिया। पीएम मोदी भी रविवार (19 नवंबर, 2023) को भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच ICC वनडे वर्ल्ड कप का फाइनल मैच देखने पहुँचे थे, ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पैट कमिंस को ट्रॉफी भी उन्होंने ही हैंडओवर की। उन्हें दर्शकों के बीच बैठे हुए देखा गया। इसीलिए, बिना सर-पैर की लॉजिक के बात करने वाला वामपंथी-इस्लामी गिरोह उन्हें निशाना बनाने लगा।

कॉन्ग्रेस की रागिनी नायक ने कहा, “किसने कहाँ था मुँह उठा कर पहुँच जाओ। नाम तो पहले से ही था पनौती।”

‘Amock’ नाम के एक अन्य कॉन्ग्रेस समर्थक ने लिखा, “भारत मैच हारा क्योंकि इसे नरेंद्र मोदी स्टेडियम में आयोजित किया गया था। इस नाम में कुछ पनौती है। अगर मैच वानखेड़े में होता फिर हम ये मैच जीत जाते।” साथ ही उसने संजय राउत की तस्वीर शेयर की। बता दें कि शिवसेना (उद्धव ठाकरे) के राज्यसभा सांसद ने वल्लभभाई पटेल स्टेडियम का नाम बदल कर नरेंद्र मोदी के नाम पर किए जाने का आरोप लगाया। वहीं उन्होंने वानखेड़े की तुलना लॉर्ड्स से की।

उन्होंने दावा किया कि भाजपा पर्दे के पीछे से साजिश रच रही थी कि दुनिया भर में ये सन्देश जाए कि नरेंद्र मोदी के कारण भारत वर्ल्ड कप जीत गया, लेकिन भारत की हार हो गई। उन्होंने मैच के दौरान पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव को न बुलाए जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें नहीं बुलाया गया लेकिन छिटपुट नेताओं को बुला लिया गया।

इसी तरह कई अन्य सोशल मीडिया हैंडलों ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर आपत्तिजनक दावे करते हुए उन पर भारत की हार का ठीकरा फोड़ दिया:

प्रियंवदा नाम के एक अन्य कॉन्ग्रेस के वॉलंटियर ने लिखा, “ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 9 ओवर तक 3 विकेट पर 51 रन था, फिर ये हुआ।” उसने दर्शकों की दीर्घा में बैठे पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तस्वीर शेयर की। साथ ही ‘पनौती’ वाला हैशटैग भी लगाया।

वहीं कई सोशल मीडिया हैंडल्स ने ये आरोप भी लगाया कि पीएम मोदी ने पैट कमिंस का अपमान किया। बता दें कि विजेता ऑस्ट्रेलिया के कप्तान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही ट्रॉफी सौंपी। आरोप लगाया जा रहा कि वो ट्रॉफी देकर चले गए और उनका अपमान किया। हालाँकि, पीएम मोदी ऑस्ट्रेलिया के सभी खिलाड़ियों से मिले और उन सबसे हाथ भी मिलाया। वहीं कुछ ने दावा किया कि 1983 में जब भारत वर्ल्ड कप जीता तो इंदिरा गाँधी प्रधानमंत्री थीं और 2011 में मनमोहन सिंह, जबकि 2023 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री रहते ट्रॉफी नहीं आई।

ऐसे अजीब-अजीब कुतर्क किए जा रहे हैं। जबकि सच्चाई ये है कि ऑस्ट्रेलिया इस मैच में बेहतर खेली और उसे जीत मिली, भारतीय टीम के मुकाबले उनकी रणनीति बेहतर रही।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहले उइगर औरतों के साथ एक ही बिस्तर पर सोए, अब मुस्लिमों की AI कैमरों से निगरानी: चीन के दमन की जर्मन मीडिया ने...

चीन में अब भी उइगर मुस्लिमों को लेकर अविश्वास है। तमाम डिटेंशन सेंटरों का खुलासा होने के बाद पता चला है कि अब उइगरों पर AI के जरिए नजर रखी जा रही है।

सेजल, नेहा, पूजा, अनामिका… जरूरी नहीं आपके पड़ोस की लड़की ही हो, ये पाकिस्तान की जासूस भी हो सकती हैं: जानिए कैसे ISI के...

पाकिस्तानी ISI के जासूस भारतीय लड़कियों के नाम से सोशल मीडिया पर आईडी बना देश की सुरक्षा से जुड़े लोगों को हनीट्रैप कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -