Sunday, July 25, 2021
Homeदेश-समाजकेरल में जीत के जश्न में मंदिर में तोड़फोड़, देवी-देवताओं का अपमान: CPM के...

केरल में जीत के जश्न में मंदिर में तोड़फोड़, देवी-देवताओं का अपमान: CPM के 11 कार्यकर्ता गिरफ्तार

अल्लापुझा में RSS के दफ्तर पर भी CPM के गुंडों ने जबरदस्त हमला बोला। 'रिपब्लिक टीवी' ने CCTV फुटेज के हवाले से बताया है कि कथित रूप से CPM के गुंडों ने भाजपा नेता के घर से चलता हुआ ऑटो रिक्शा टकरा दिया। संघ कार्यालय पर पेट्रोल बम फेंके गए, जिससे न सिर्फ कार्यालय बल्कि पूरी इमारत को नुकसान पहुँचा।

केरल के पलक्कड़ में मंदिर में हमला व तोड़फोड़ किए जाने के मामले में राज्य की सत्ताधारी वामपंथी पार्टी CPM के कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। ये पार्टी की एरिया कमिटी के सदस्य हैं। सभी आरोपितों पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने और विभिन्न समुदायों के बीच वैमनस्य पैदा करने का आरोप लगाया गया है और पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। हाल ही में केरल में हुए स्थानीय निकाय चुनावों में CPM के नेतृत्व वाले LDF को बड़ी जीत मिली है।

इसके बाद से ही भाजपा और RSS के कार्यालयों में तोड़फोड़ शुरू कर दी गई। आरोप है कि CPM के गुंडों ने भाजपा कार्यकर्ताओं को भी निशाना बनाया। चूँकि भाजपा ने केरल में बेहतर प्रदर्शन किया है, इसीलिए ये नाराज हैं। चुनाव प्रचार के दौरान भी ऐसी कई घटनाएँ हुईं। भाजपा प्रवक्ता टॉम वडक्कन ने कहा है कि वामपंथियों से इसी प्रकार के ध्रुवीकरण वाले चुनावी अभियान की अपेक्षा भी थी, वो इसी तरह के काम कर सत्ता पाते हैं।

पलक्कड़ म्युनिसिपेलिटी में भाजपा की ही सत्ता थी और इस बार के चुनावों में भी पार्टी ने इसे बरक़रार रखा है, जिससे सीपीएम बौखलाई हुई है। पंडलम में भी भाजपा ने 33 में से 18 सीटें जीत कर काउंसिल बनाई है, जिससे LDF को धक्का लगा है। भाजपा ने 23 ग्राम पंचायतों में जीत दर्ज की है। गुरुवार (दिसंबर 17, 2020) को वामपंथी गुंडों ने कुरीपूजा में भाजपा नेता रतीश के घर पर हमला कर दिया। पलक्कड़ स्थित भगवान सुब्रह्मण्यम के मंदिर पर भी हमला कर तोड़फोड़ मचाई गई

इन सबके अलावा अल्लापुझा में RSS के दफ्तर पर भी CPM के गुंडों ने जबरदस्त हमला बोला। ‘रिपब्लिक टीवी’ ने CCTV फुटेज के हवाले से बताया है कि कथित रूप से CPM के गुंडों ने भाजपा नेता के घर से चलता हुआ ऑटो रिक्शा टकरा दिया। साथ ही संघ कार्यालय पर पेट्रोल बम फेंके गए, जिससे न सिर्फ कार्यालय बल्कि पूरी इमारत को नुकसान पहुँचा। स्थानीय जनता को पीने का स्वच्छ जल मुहैया कराने के लिए ‘सेवा भारती’ ने इस इमारत का निर्माण कराया था।

इस दौरान मंदिर को भी नहीं बख्शा गया। CPM के गुंडे सुब्रमण्यम मंदिर में जीत का जश्न मनाने पहुँच गए और इस दौरान वहाँ जम कर तोड़फोड़ की। हिन्दू देवी-देवताओं को अपमानित किया गया। साथ ही मंदिर में रखे रुपयों को भी चुरा लिया गया। प्रतिमाओं का आभूषण चुरा कर भागे गुंडों ने मंदिर की लाइट्स भी तोड़ डाली। अब इस मामले में विवाद होने के बाद पुलिस ने 11 CPM कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। जबकि, इस घटना में काफी सारे गुंडे शामिल थे।

त्रिवेंद्रम कॉरपोरेशन और पलक्कड़ म्युनिसिपलिटी में 13.28 फ़ीसदी वोट हासिल करने और केरल में बीजेपी को राजनीतिक ज़मीन बनाते देख सीपीआईएम के गुंडों ने ये हमले किए हैं। भाजपा ने कई ऐसी सीटों पर भी जीत हासिल की है जो कम्युनिस्ट पार्टी का गढ़ मानी जाती रही हैं, इसमें कन्नूर और कसरगोद शामिल हैं। इस तरह की तमाम बातों की वजह से कम्युनिस्ट पार्टी के खेमे में काफी हलचल है।   

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सचिन पायलट को CM बनाओ’: कॉन्ग्रेस के बड़े नेताओं के सामने जम कर हंगामा, मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बुलाई थी बैठक

राजस्थान में मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थकों के बीच बहस और हंगामेबाजी हुई।

‘गाँधी की हत्या के बाद कॉन्ग्रेस ने करवाया था ब्राह्मणों का नरसंहार, पुलिस ने दर्ज नहीं किया एक भी केस’: इतिहासकार का खुलासा

लेखक व इतिहासकार विक्रम सम्पत ने कहा है कि महात्मा गाँधी की हत्या के बाद ब्राह्मण-विरोधी नरसंहार कॉन्ग्रेस नेताओं ने करवाया था। एक भी केस दर्ज नहीं किया गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,128FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe