Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजविला में OTT प्लेटफॉर्म के लिए बना रहे थे ब्लू फिल्म, 5 लड़कियों सहित...

विला में OTT प्लेटफॉर्म के लिए बना रहे थे ब्लू फिल्म, 5 लड़कियों सहित कुल 13 गिरफ्तार: पॉर्न रैकेट का भंडाफोड़, कई राज्यों के युवक-युवतियाँ शामिल

डिप्टी एसपी कार्तिक ने आगे बताया कि अश्लील फिल्म बनाने वाले कुल 15 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। इसमें से 13 की गिरफ्तारी हो चुकी है। इनमें से 5 लड़कियाँ है।

महाराष्ट्र के पुणे में पुलिस ने अश्लील वीडियो बनाने वाले रैकेट का भंडाफोड़ किया है। इस मामले में कुल 13 आरोपितों की गिरफ्तारी की गई है। इन लोगों में कई राज्यों के युवक और युवतियाँ शामिल हैं। माना जा रहा है कि ये वीडियो तमाम OTT प्लेटफॉर्म के लिए बनाए जा रहे थे। पुलिस ने कुल 18 लोगों पर FIR दर्ज किया है जिसमें शूटिंग के लिए अपना विला किराए पर देने वाला मकान मालिक भी शामिल है। पुलिस ने यह कार्रवाई शनिवार (30 मार्च 2024) को की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना लोनावला के पाटन गाँव में बने अर्णव विला की है। यहाँ पुलिस को कुछ बाहरी लड़के और लड़कियों की मौजूदगी की सूचना मिली। सूचना में इन सभी के द्वारा ब्लू फिल्म बनाने की भी बात कही गई थी। मिली सूचना पर पुलिस ने टीम गठित कर के 30 मार्च को अर्णव विला पर दबिश दी। पुलिस अधिकारी कार्तिक के मुताबिक सूचना सही पाई गई। विला में कुल 15 लोग पॉर्न फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। शूटिंग के बाद इन फिल्मों को वेबसाइट और एप पर डालने की तैयारी थी।

डिप्टी एसपी कार्तिक ने आगे बताया कि अश्लील फिल्म बनाने वाले कुल 15 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। इसमें से 13 की गिरफ्तारी हो चुकी है। इनमें से 5 लड़कियाँ है। इसके अतिरिक्त मकान मालिक और केयर टेकर सहित 3 अन्य लोगों पर भी FIR दर्ज की गई है। इन सभी 18 आरोपितों पर IPC की धारा 292, 293 के अलावा आईटी एक्ट की धारा 67, 68 और स्त्री अशिष्ट रूपण (प्रतिषेध) अधिनियम की धारा 3, 4, 6, 7 के तहत कार्रवाई की गई है। पुलिस का कहना है कि अश्लील वीडियो बनाने वाले इस पूरे चेन की जाँच पड़ताल की जा रही है।

गिरफ्तार आरोपितों के पास से कैमरे और अन्य इलेक्ट्रॉनिक्स सामान बरामद हुए हैं। इन सभी की जाँच करवाई जा रही है। इस घटना के बाद फरार 5 आरोपितों की तलाश के लिए दबिश दी जा रही है। गिरफ्तार आरोपितों को पुलिस ने अदालत में पेश किया है। गौरतलब है कि भारत में अश्लील वीडियो बनाना कानूनन प्रतिबंधित है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -