Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजमक्का से लौटे 37 लोगों ने मुंबई एयरपोर्ट पर लगा क्वारेंटाइन स्टांप मिटाया: मॉं-बेटे...

मक्का से लौटे 37 लोगों ने मुंबई एयरपोर्ट पर लगा क्वारेंटाइन स्टांप मिटाया: मॉं-बेटे के संक्रमित होने के बाद खुलासा

कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए सरकार कई तरह के कदम उठा रही है। देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है। लेकिन, लोगों की लापरवाही भारी पड़ रही है। पीलीभीत की तरह ही कश्मीर में भी प्रशासन को करीब 400 शिकायतें ट्रैवल हिस्ट्री छिपाने की मिली है।

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में मॉं-बेटे के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। बेटे को मॉं से ही संक्रमण हुआ है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक युवक की मॉं सहित 37 लोग मक्का से उमरा कर लौटे थे। मुंबई एयरपोर्ट पर जॉंच के बाद इनके हाथ पर क्वारेंटाइन का स्टांप लगाया गया। लेकिन, एक खास परफ्यूम से स्टांप मिटा ये लोग अपने घर पहुॅंच गए। इनकी इस कारगुजारी से न इनके जीवन पर संकट पैदा हो गया बल्कि इन्होंने सैकड़ों और के जीवन को संकट में डाल दिया है।

पूरा मामला एक महिला की तबीयत बिगड़ने के बाद सामने आई। इसके बाद स्थानीय प्रशासन ने सभी मक्का से लौटे सभी 37 लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर भेज दिया है। इस 45 वर्षीय महिला को तबीयत बिगड़ने पर जिला अस्पताल ले जाया गया गया। जहाँ उसकी ट्रैवल हिस्ट्री और लक्षण देख सैम्पल्स किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज लखनऊ भेजे गए थे। इस महिला के कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद, उसके साथ उमरा कर के आए अन्य लोगों और उसके बेटे का भी टेस्ट करवाया गया। वह भी कोरोना संक्रमित पाया गया।

जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया है कि पूछताछ करने पर पता चला कि विदेश से लौट कर आने के कारण मुंबई एयरपोर्ट पर इन सभी को क्वारेंटाइन की मुहर लगाई गई थी। इसे इन सभी ने मिटा दिया। जाँच-पड़ताल के चक्कर से बचने के लिए मुंबई से ट्रेन के जरिए लखनऊ ट्रेन पहुँचे। वहॉं से बस से पीलीभीत आए। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ये सभी पीलीभीत के उमरिया तहसील स्थित गाँवों के रहने वाले हैं, जिनमें से लगभग 25 एक ही गाँव के हैं।

जिले के प्रशासनिक और स्वास्थ्य विभाग के लोगों के हवाले से मीडिया रिपोर्ट्स बताती हैं कि उमरा से लौटे इस ग्रुप के सभी 37 सदस्यों को पीलीभीत के क्वारेंटाइन सेंटर पहुँचा दिया गया है। गौरतलब है कि कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए सरकार कई तरह के कदम उठा रही है। देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है। लेकिन, लोगों की लापरवाही भारी पड़ रही है। पीलीभीत की तरह ही कश्मीर में भी प्रशासन को करीब 400 शिकायतें ट्रैवल हिस्ट्री छिपाने की मिली है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

‘5 अगस्त की तारीख बहुत विशेष’: PM मोदी ने हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन और 370 हटाने का किया जिक्र

हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन, आर्टिकल 370 हटाने का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को बेहद खास बताया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,121FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe