Friday, July 30, 2021
Homeदेश-समाजभाजपा नेता समेत परिवार के 6 लोगों की जघन्य हत्या, ज़मीनी विवाद के चलते...

भाजपा नेता समेत परिवार के 6 लोगों की जघन्य हत्या, ज़मीनी विवाद के चलते रिश्ते के भाइयों ने तलवार से काट डाला

संतोष सोनी और हरी सोनी ने राजेन्द्र सोनी और उनके परिवार पर तलवार से हमला कर दिया। इसके बाद घटनास्थल पर ही कुल 4 लोगों की मौत हो गई और 2 लोगों ने उपचार के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। घटना इतनी नृशंस थी कि कुछ ही देर में...........

जबलपुर मंडला ज़िले के अंतर्गत आने वाले औद्योगिक क्षेत्र मनेरी में बुधवार के दिन भयावह घटना सामने आई है। जिसमें ज़मीन के पारिवारिक विवाद के चलते कुल 6 लोगों की बेहद निर्दयता से हत्या कर दी गई। ज़मीनी विवाद के चलते हुए इस झगड़े ने कुछ ही समय में इतना हिंसक रूप ले लिया कि 6 लोगों की हत्या हुई और 5 लोग बुरी तरह घायल हुए हैं।  

मरने वालो में भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय नेता राजेन्द्र सोनी, पुत्र बिन्नू सोनी, पुत्री रानू सोनी, बिन्नू सोनी के दो बेटे सहित 1 रिश्तेदार शामिल हैं। दरअसल, राजेन्द्र सोनी पर हमला करने वाले कोई और नहीं बल्कि रिश्ते में उनके भाई लगने वाले संतोष सोनी और हरीश सोनी हैं। ख़बरों के मुताबिक़ इनके बीच पिछले कुछ समय से ज़मीन को लेकर पारिवारिक रंजिश जारी थी। बुधवार के दिन इस रंजिश ने बेहद हिंसात्मक रूप ले लिया।  

संतोष सोनी और हरी सोनी ने राजेन्द्र सोनी और उनके परिवार पर तलवार से हमला कर दिया। इसके बाद घटनास्थल पर ही कुल 4 लोगों की मौत हो गई और 2 लोगों ने उपचार के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। घटना इतनी नृशंस थी कि कुछ ही देर में मौके पर भीड़ इकट्ठा हो गई और भीड़ ने मौके पर मौजूद आरोपियों को जम कर पीटा।  

फिलहाल, हमला करने वालों की हालत भी गंभीर बताई जा रही है। ख़बरों के मुताबिक़ एक हमलावर को पैर में गोली भी लगी है, हालाँकि, अभी तक इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। घायलों को मंडला के स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहाँ उनका उपचार चल रहा है। मामला संवेदनशील होने की वजह से घटनास्थल पर काफी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं।  

कई खबरों में प्रकाशित चश्मदीदों के बयान के मुताबिक़ घटना बेहद भयावह थी। अपने हाथों में तलवार लिए हमलावर संतोष सोनी और हरी सोनी कह रहे थे ‘तलवार तब तक चलेगी जब तक पूरा परिवार ख़त्म नहीं हो जाता है। ’ऐसे में किसी दूसरे या तीसरे व्यक्ति के लिए बीच बचाव करना भी बहुत मुश्किल था। ख़बरों के मुताबिक़ बचाव करने वाले भी काफी घायल हुए। इसके अलावा दो हमलावरों में से एक के पैर पर पुलिस ने गोली भी मारी। उसके पहले भीड़ ने भी उन्हें पकड़ कर बहुत पीटा था जिसके बाद उनकी हालत नाज़ुक हो गई थी। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

विजय माल्या के किंगफिशर एयरलाइंस ने IDBI को डूबोए थे जितने पैसे, पाई-पाई ब्याज के साथ वसूल: मुनाफे में 318% का उछाल

कभी जिस IDBI को भगोड़े कारोबारी विजय माल्या ने डूबो दिया उस बैंक ने इस तिमाही में भारी मुनाफा कमाया है। वजह किंगफिशर एयरलाइंस से सारी वसूली बैंक ने कर ली है।

‘मनमोहन सिंह ने की थी मनमर्जी, मुसलमान स्पेशल क्लास नहीं’: सुप्रीम कोर्ट में सच्चर कमेटी की सिफारिशों को चुनौती

सुप्रीम कोर्ट में सच्चर कमेटी की सिफारिशों को लागू करने को चुनौती दी गई है। याचिका 'सनातन वैदिक धर्म' नामक संगठन के छह अनुयायियों ने दायर की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,994FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe