Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजशौहर ने करवाया वनभूलपुरा में पुलिस पर हमला, बुर्के वाली बीवी साफिया व्यस्त थी...

शौहर ने करवाया वनभूलपुरा में पुलिस पर हमला, बुर्के वाली बीवी साफिया व्यस्त थी धोखाधड़ी में: मृत व्यक्ति से लिखवा ली थी जमीन, पुलिस ने बरेली से दबोचा

साफिया ने अपने साथियों के सहयोग से इस जमीन को हथियाने के लिए अधिकारियों और न्यायालय तक कई झूठे शपथ-पत्र भी प्रस्तुत किए थे। शिकायतकर्ता अधिकारी ने साफिया की इस करतूत को अवैध प्लॉटिंग, अवैध निर्माण, अवैध ट्रांसफर के साथ-साथ आपराधिक साजिश करार दिया है। उन्होंने अधिकारियों और न्यायालय को गुमराह करने वाली हरकत बताया।

उत्तराखंड के हल्द्वानी में 8 फरवरी 2024 को वनभूलपुरा इलाके में मस्जिद और मदरसा बनाकर किए गए अतिक्रमण को हटाने गई नगर निगम की टीम और पुलिस बल पर कट्टरपंथी मुस्लिमों की भीड़ ने हमला कर दिया था। इस हमले में सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह सहित 300 पुलिसकर्मी घायल हुए थे। हिंसा का मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक था, जिसे बाद में दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था।

अब उत्तराखंड की नैनीताल पुलिस ने धोखाधड़ी और जालसाजी के एक मामले में अब्दुल मालिक की बीवी साफिया मलिक को भी गिरफ्तार कर लिया है। साफिया को उत्तर प्रदेश के बरेली से मंगलवार (2 अप्रैल 2024) को गिरफ्तार किया गया। उस पर हल्द्वानी के सहायक नगर आयुक्त गणेश भट्ट की शिकायत पर 22 फरवरी 2024 को FIR दर्ज हुई थी।

मुकदमा दर्ज होने के बाद साफिया फरार हो गई। हालाँकि, उसके वकीलों ने हाल ही में कोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका दायर की थी, जिसमें कोर्ट ने खारिज कर दिया था। इसके बाद से पुलिस लगातार उसकी तलाश में दबिश दे रही थी। वहीं, साफिया भी लगातार अपना लोकेशन बदल रही थी। आखिरकार उत्तराखंड पुलिस को उसे गिरफ्तार करने में कामयाबी मिल गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हल्द्वानी के सहायक नगर आयुक्त गणेश भट्ट ने अपनी शिकायत में कहा था कि वनभूलपुरा इलाके में आने वाली एक जमीन की खरीद में साफिया ने 6 अन्य लोगों के साथ मिलकर धोखाधड़ी और जालसाजी की है। इस जमीन को खरीदने के लिए उसने मृत व्यक्ति को जिंदा बता दिया और उसके नाम से कोर्ट में शपथ पत्र भी दे दिया।

आरोप है कि साफिया ने अपने साथियों के सहयोग से इस जमीन को हथियाने के लिए अधिकारियों और न्यायालय तक कई झूठे शपथ-पत्र भी प्रस्तुत किए थे। शिकायतकर्ता अधिकारी ने साफिया की इस करतूत को अवैध प्लॉटिंग, अवैध निर्माण, अवैध ट्रांसफर के साथ-साथ आपराधिक साजिश करार दिया है। उन्होंने अधिकारियों और न्यायालय को गुमराह करने वाली हरकत बताया।

सहायक नगर आयुक्त की इस शिकायत पर नैनीताल पुलिस ने 22 फरवरी 2024 को साफिया और उसके 6 सहयोगियों पर FIR दर्ज कर ली थी। यह FIR भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 420, 417 और 120B के तहत दर्ज की गई थी। FIR दर्ज होने के बाद से साफिया फरार थी। नैनीताल पुलिस ने अदालत से साफिया के खिलाफ गिरफ्तारी वॉरंट हासिल किया और खोजबीन शुरू कर दी।

आखिरकार, 2 अप्रैल 2024 को उत्तराखंड पुलिस को साफिया मलिक की लोकेशन यूपी के बरेली जिले में मिली। पुलिस टीम ने दबिश दी तो साफिया बरेली के गाँव बिहारीपुर में मिली। साफिया को गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश किया गया, जहाँ से उसे जेल भेज दिया गया है। साफिया का शौहर अब्दुल मलिक और उसका बेटा पहले ही जेल में हैं।

Accuse of Haldwani vanbhoolpura Violence Abdul Malik’s wife Safiya arrested for cheating and Fraud

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारतीय इंजीनियरों का ‘चमत्कार’, 8वाँ अजूबा, एफिल टॉवर से भी ऊँचा… जिस रियासी में हुआ आतंकी हमला वहीं दुनिया देखेगी भारत की ताकत, जल्द...

ये पुल 15,000 करोड़ रुपए की लागत से बना है। इसमें 30,000 मीट्रिक टन स्टील का इस्तेमाल हुआ है। ये 260 किलोमीटर/घंटे की हवा की रफ़्तार और -40 डिग्री सेल्सियस का तापमान झेल सकता है।

J&K में योग दिवस मनाएँगे PM मोदी, अमरनाथ यात्रा भी होगी शुरू… उच्च-स्तरीय बैठक में अमित शाह का निर्देश – पूरी क्षमता लगाएँ, आतंकियों...

2023 में 4.28 लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा अमरनाथ का दर्शन किया था। इस बार ये आँकड़ा 5 लाख होने की उम्मीद है। स्पेशल कार्ड और बीमा कवर दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -