Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजबुजुर्गों से पैर पकड़वाए, महिलाओं से छेड़खानी, बच्चियों को पीटा… मस्जिद के सामने से...

बुजुर्गों से पैर पकड़वाए, महिलाओं से छेड़खानी, बच्चियों को पीटा… मस्जिद के सामने से गुजरी बरात तो मुस्लिम भीड़ ने किया हमला, बोले पीड़ित – DJ बजाने पर बनाया शिकार

घटना के समय दूल्हा बग्घी पर सवार था। बरात में DJ बज रहा था। गाँव के रास्ते से होते हुए ये बारात मस्जिद के सामने से गुजरी। तभी मुस्लिम समुदाय के कुछ लोग...

राजस्थान के अलवर जिले में हिन्दू परिवार में आई एक बरात पर मुस्लिम भीड़ द्वारा हमले की खबर है। हमले की वजह मस्जिद के आगे DJ बजना बताया जा रहा है। हालाँकि कुछ लोग इसे बाइक टकराने से उठा विवाद भी मान रहे हैं। हमले में कई बाराती घायल हो गए हैं जिनका इलाज अस्पताल में करवाया जा रहा है। पुलिस ने केस दर्ज कर के 4 लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है। घटना रविवार (21 अप्रैल, 2024) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला अलवर के थाना क्षेत्र नौगाँवा का है। यहाँ के गाँव मेडूबास में रविवार की शाम रामदास अपने पोते की बारात ले कर आए थे। पुलिस में दी गई शिकायत में उन्होंने बताया कि घटना के समय दूल्हा बग्घी पर सवार था। बरात में DJ बज रहा था। गाँव के रास्ते से होते हुए ये बारात मस्जिद के सामने से गुजरी। तभी मुस्लिम समुदाय के कुछ लोग बाहर निकले और DJ को बंद करने के लिए कहा। बारातियों ने इंकार किया तो दोनों पक्षों के बीच बहस शुरू हो गई।

आरोप है कि इसी वाद-विवाद के बीच अचानक बारातियों पर पत्थर चलने लगे। जब तक बाराती बचने के लिए कोई ठिकाना खोजते उस से पहले ही एक भीड़ ने उन पर लाठी-डंडों से हमला कर लिया। इस भीड़ में पुरुषों के साथ महिलाएँ भी शामिल बताई जा रही हैं। इस हमले में पवन, किशनचंद, संदीप, सागर, राकेश, मनोज सहित लगभग 10 बाराती घायल हो गए। घायलों में 14 साल की एक बच्ची और महिलाएँ भी शामिल हैं। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस बल गाँव में पहुँचा। पुलिस को देखते ही हमलावर पहाड़ों में भाग गए।

पुलिस के मुताबिक, दोनों पक्ष एक दूसरे पर हमले का आरोप लगा रहे हैं। जहाँ एक पक्ष मस्जिद के आगे DJ बजाने पर खुद को हमले का शिकार बता रहा है तो वहीं दूसरा पक्ष इसे बाइक टकराने से उठा विवाद कह रहा है। पुलिस दोनों पक्षों के बयानों के साथ हमले के असल कारणों की पड़ताल में जुटी है। अब तक कुल 4 लोगों को हिरासत में लिया गया है जिनसे पूछताछ की जा रही है। तनाव को देखते हुए गाँव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। फरार आरोपितों की तलाश में दबिश दी जा रही है।

पीड़ितों ने ये भी बताया कि बुजुर्गों से पैर भी पकड़वाए गए। महिलाओं से भी छेड़छाड़ की गई। पीड़ितों माँग की है कि सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -