Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजदुर्गा पूजा देखने निकले 6 लोगों को बबलू खान ने बस से कुचला, 3...

दुर्गा पूजा देखने निकले 6 लोगों को बबलू खान ने बस से कुचला, 3 की मौत, 3 घायल: कंडक्टर नूरूद्दीन और अरमान खान भी गिरफ्तार, शोर मचाने के बाद भी नहीं स्लो की गाड़ी

इस मामले में तीन लोग गिरफ्तार हुए हैं- इनकी पहचान ड्राइवर बबलू खान, कंडक्टर नुरूद्दीन खान और हेल्पर अरमान खान के तौर पर हुई है। इनके विरुद्ध गैरजमानती धाराओं में केस दर्ज हुआ है।

कोलकाता के सियालदह फ्लाइओवर पर एक बस ने दुर्गा पूजा का पंडाल देखने जा रहे लोगों को टक्कर मार दी। घटना में एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत हो गई जबकि 3 अन्य घायल हो गए। बताया जा रहा है कि बस मे बैठे ड्राइवर बबलू खान को लोगों ने बार-बार हाथ देकर गाड़ी धीरे करने को भी कहा था। लेकिन उसने किसी की नहीं सुनी।

अब इस मामले में तीन लोग गिरफ्तार हुए हैं- इनकी पहचान ड्राइवर बबलू खान, कंडक्टर नूरूद्दीन खान और हेल्पर अरमान खान के तौर पर हुई है। इनके विरुद्ध गैर-जमानती धाराओं में केस दर्ज हुआ है।

कुछ रिपोर्ट्स बता रही हैं कि ड्राइवर ने नियंत्रण खोया। हालाँकि जाँच अधिकारी ने बताया कि प्राइवेट बस एयरपोर्ट जा रही थी। रास्ते में 6 लोग ब्रिज पार कर रहे थे। उन्होंने अपने हाथ उठाकर, चिल्लाकर ड्राइवर बबलू खान को रोकने का प्रयास किया लेकिन उसने किसी की नहीं सुनी और माला होटल के आगे उन्हें कुचल दिया। पड़ताल के दौरान बस को सीज कर लिया गया। मैकेनिकल टेस्ट हो रहा है कि कहीं दुर्घटना की वजह कोई और कारण तो नहीं।

ट्रैफिक पुलिस डीसी सुनील यादव ने बताया, “हमने इनके ऊपर लापरवाही से गाड़ी चलाने, गैर इरादतन हत्या, गैर इरादतन हत्या का प्रयास करने, दूसरों के जीवन या व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरे में डालने और उनको गंभीर नुकसान पहुँचाने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।”

जानकारी के मुताबिक पूरी घटना बुधवार (5 अक्टूबर 2022) को 1:20 मिनट पर घटी। टक्कर लगने के बाद अदिति गुप्ता (18) ने वहीं दम तोड़ दिया जबकि राहुल कुमार प्रसाद (30) और हावड़ा की नंदिनी कुमारी ने अस्पताल में दम तोड़ा। इनके अलावा ऋषि गुप्ता, नीलेश गुप्ता और राहत गुप्ता को घटना में गंभीर चोटे आई हैं।

पुलिस के अनुसार, बबलू खान ने बस से जिस परिवार को टक्कर मारी वो पोर्ट इलाके में रहने वाले थे और घर से दुर्गा पूजा पंडाल घूमने के लिए निकले थे। वह सब संतोष मित्रा स्क्वायर का पूजा पंडाल देखने गए। इसके बाद सियालदह फ्लाईओवर होकर सियालदह रेलवे क्वार्टर पर पूजा पंडाल देखने के लिए निकले। इस बीच उन्हें एक फ्लाईओवर क्रॉस करना था। जब परिवार के सभी लोग ब्रिज पार कर रहे थे तभी तेज रफ्तार आ रही 46 नं. रूट की प्राइवेट बस ने उन्हें कुचल दिया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘दरबार हॉल’ अब कहलाएगा ‘गणतंत्र मंडप’, ‘अशोक हॉल’ बना ‘अशोक मंडप’: महामहिम द्रौपदी मुर्मू का निर्णय, राष्ट्रपति भवन ने बताया क्यों बदला गया नाम

राष्ट्रपति भवन ने बताया है कि 'दरबार' का अर्थ हुआ कोर्ट, जैसे भारतीय शासकों या अंग्रेजों के दरबार। बताया गया है कि अब जब भारत गणतंत्र बन गया है तो ये शब्द अपनी प्रासंगिकता खो चुका है।

जिसका इंजीनियर भाई एयरपोर्ट उड़ाने में मरा, वो ‘मोटू डॉक्टर’ मारना चाह रहा था हिन्दू नेताओं को: हाई कोर्ट से माँग रहा था रहम,...

कर्नाटक हाई कोर्ट ने आतंकी मोटू डॉक्टर को राहत देने से इनकार कर दिया है। उस पर हिन्दू नेताओं की हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -